14 दिन के बच्चे ने निगल ली सेफ्टी पिन, पुलिस कांस्‍टेबल ने देवदूत बनकर बचाई जान


मुंबई। मुंबई पुलिस कोरोना महामारी के दौर में मुंबई के लोगों के लिए किसी देवदूत से कम साबित नहीं हो रही है। ताजा मामला मुंबई के वडाला का है जहां एक 14 दिन की बच्चे की जान बचाने के बाद मुंबई पुलिस कांस्टेबल की सोशल मीडिया पर लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं। यहां एक बच्चे ने गलती से सेफ्टी पिन निगल लिया था। पुलिस ने अपने इस ट्वीट में कांस्टेबल एस कोलेकर की तारीफ करते हुए लिखा कि वह अपनी गाड़ी से फटाफट बच्चे को अस्पताल लेकर पहुंचे और समय रहते बच्चे का इलाज हो पाया। दरअसल पूरा मामला मुंबई का वडाला इलाके का है जहां पर एक 14 दिन के बच्चे ने सेफ्टी पिन को निगल लिया था। जिससे परिवार बुरी तरह से परेशान था और मदद के लिए आस लगाए बैठा था। ऐसे में यह जानकारी पास में ही ड्यूटी पर तैनात एक मुंबई पुलिस के कांस्टेबल एस कोलेकर के पास पहुंची। जिसके बाद वे खुद परिवार के पास जाकर अपनी मोटरसाइकिल पर बच्चे को बैठाकर मुंबई के अस्पताल ले गए। जहां अस्पताल में अब बच्चे का इलाज जारी है। इस घटना के बाद से ही तमाम लोग मुंबई पुलिस के इस कर्मचारी की तारीफ कर रहे हैं। उनके इस सराहनीय काम की हर तरफ चर्चा हो रही है। मुंबई पुलिस ने इस सराहनीय काम की ट्वीट करके जानकारी दी है। इसके पहले भी मुंबई पुलिस के पुलिस कर्मी ने ऐसे ही कोरोनॉ के संकट की घड़ी में हिंदुजा हॉस्पिटल में एडमिट एक 14 साल की लड़की फातिमा के लिए भी ब्लड डोनेट किया था। उस वक्त फातिमा के घर से लॉकडाउन की वजह से कोई भी अस्पताल पहुंच नहीं पाया था और खून की सख्त जरूरत थी। उस वक्त भी मुंबई पुलिस के जवान देवदूत बनकर फातिमा के लिए पहुंचे थे।