आतंकी की मां गिरफ्तार, हिज्बुल की धमकी- 'पुलिस जवानों के परिजनों को करेंगे अगवा'



  • हिज्बुल मुजाहिदीन ने जम्मू-कश्मीर पुलिस को दी धमकी

  • पुलिस जवानों के परिजनों को अगवा करने की दी धमकी

  • घाटी में आतंकियों की मां-बहन को गिरफ्तार किया गया था

  • 2 साल पहले मारे गए तौसीफ की मां नसीमा की हुई गिरफ्तारी


श्रीनगर। कश्मीर घाटी में दो आतंकियों की मां और बहन की गिरफ्तारी के बाद आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन ने धमकी दी है। हिज्बुल ने धमकी में कहा है कि वह जम्मू-कश्मीर पुलिस के उन जवानों के परिजनों को अगवा करेगा, जिन्होंने मारे गए आतंकी की मां को गिरफ्तार किया था। आतंकी की मां को राइफल के साथ फोटो खिंचवाने और लोगों को आतंकवादी समूह में भर्ती करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। कश्मीर के शोपियां में दो साल पहले एक एनकाउंटर में तौसीफ अहमद नाम के आतंकी को मार गिराया गया था। उसकी मां नसीमा बानो को शोपियां के रामपोरा कैमोह इलाके से 20 जून को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तौसीफ की बहन को भी पुलिस तलाश कर रही है। मई 2018 में शोपियां में हुए एनकाउंटर में तौसीफ के साथ हिज्बुल कमांडर सद्दाम पाडर और टीचर से आतंकी बने मोहम्मद रफी को मार गिराया गया था। धमकी भरे खत में हिज्बुल ने कहा है, 'यह हमारी ड्यूटी है कि शहीद मुजाहिदीन के परिजनों को महफूज रखा जाए। ऐसे में हम कश्मीर में रहने वाले पुलिसकर्मियों के परिजनों के साथ वही सलूक करेंगे जो वे हमारे साथियों के परिवार वालों के साथ कर रहे हैं।' बता दें कि हिज्बुल मुजाहिदीन का मुखिया सैयद सलाहुद्दीन पाकिस्तान से बैठकर आतंकी संगठन को चला रहा है। पुलिस के मुताबिक गिरफ्त में आई आतंकी की मां नसीमा ने हिज्बुल में कई युवकों को भर्ती करवाया था। पुलिस का कहना है, '2018 में आतंकी तौसीफ की मां और उसकी बहन के खिलाफ युवकों को आतंकी बनने के लिए उकसाने के सिलसिले में एफआईआर दर्ज हुई थी। बता दें कि आतंकवादी अब्बास शेख की बहन और मारे जा चुके आतकंवादी तौसीफ की मां नसीमा बानो को गैरकानूनी गतिविधि (निरोधक)अधिनियम (यूएपीए) के तहत 20 जून को गिरफ्तार किया गया था। कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने बताया कि महिला (बानो) युवाओं को आतंकवादी रैंक में भर्ती करने में शामिल थी। एक अन्य अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तार की गई महिला की एक तस्वीर जिसमें वह अपने बेटे के साथ एक हथियार चला रही है, अपने आप सब कुछ कह देती है। उस वक्त उसका बेटा सक्रिय आतंकवादी था।