अलवर में बेटी से रेप के बाद भी दबंदों ने पीछा नहीं छोड़ा, बड़ी बेटी की शादी से 5 दिन पहले पिता को देनी पड़ी जान



  • 17 वर्षीय बेटी के साथ रेप करने वालों ने पिता पर राजीनामे का दबाव बनाया।

  • 18 जून को रेप पीड़िता लड़की ने कुएं में कूद कर जाने देने की कोशिश की।

  • 24 जून को पिता ने दबंगाें से तंग आकर अपनी जान दे दी।

  • 29 जून को रेप पीड़िता की बड़ी बहन की शादी तय है।

  • पुलिस ने रेप के तीन आरोपियों में से एक को गिरफ्तार किया जबकि दो को पुलिस पर ही बचाने के लग रहे आरोप।


अलवर। राजस्थान के अलवर जिले के रामगढ़ कस्बे में एक लड़की से छेड़खानी और रेप के मामले में पुलिस केस वापस लेने और राजीनामे के लिए दबंगों ने इतना दबाव बनाया कि पीड़िता के पिता को अपनी जान देनी पड़ी। पिता ने संदिग्ध रूप में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं परिजनों ने आरोपी पक्ष के लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए नामजद मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने भी अब हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पीड़ित परिवार कई दिन से पुलिस की राजनीतिक कार्यशैली से तंग हो रहा था और लगातार राजीनामे के लिए बनाए जा रहे दबाव से परेशान था। आखिर बुधवार को पीड़ित लड़की के पिता का शव घर से 500 मीटर दूर एक पेड़ के लटका हुआ मिला है। इस घटना के बाद इस परिवार में कोहराम मच गया है क्योंकि मृतक की बड़ी बेटी की 29 जून को शादी है। उधर, घर की छोटी बेटी से रेप के आरोपी अपनी राजनीतिक पहुंच और पुलिस संरक्षण के चलते लगातार दबाव बनाने की कोशिश कर रहा था। पीड़ित पिता इस दबाव को झेल नहीं पाया और फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। 
18 जून को रेप पीड़िता ने कुएं में लगाई छलांग
यह सनसनीखेज मामला अलवर जिले के रामगढ़ कस्बे के बालोत नगर मोहल्ले का है। रेप के बाद मानसिक संताप और परिजनों की परेशानी को देखते हुए पीड़ित लड़की ने 18 जनू को कुएं में कूद कर आत्महत्या की कोशिश की थी। लेकिन वो बचा ली गई। लड़की के भाई ने पुलिस में दिए बयान में बताया कि उस दिन गांव वालों ने पीड़िता को कुएं में कूदते हुए देख लिया था और उनके सहयोग से उसे बचा लिया गया था।
29 जून को बड़ी बेटी की है शादी
जानकारी के अनुसार मृतक की बड़ी बेटी की 29 जून को शादी है लेकिन इससे पहले ही परिवार की खुशियां मातम में बदल गईं। सूत्रों के अनुसार एक विशेष समुदाय के दबंग परिवार से जुड़े आरोपी पीड़ित लड़की की 29 जून को होने वाली बड़ी बहिन शादी में रुकावट की धमकी दे रहे थे। इससे लड़की का पिता काफी तनाव में था। पिता शांति पूर्ण शादी समारोह करने की कोशिश में लगा हुआ था। रामगढ़ पुलिस के अनुसार बेटी की शादी के पांच दिन पहले ही बालोत नगर निवासी श्रवण लाल मूर्तिकार ने फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।
पुलिस कार्रवाई और आरोपी दबंग
इस पूरे मामले में रामगढ़ थाना पुलिस ने पहले तो 3 आरोपियों को शांतिभंग में पकड़ा था। पीड़ित परिवार के अनुसार थानाप्रभारी की शिकायत पुलिस अधीक्षक तक पहुंचने के कारण पुलिस ने एक आरोपी अनीश को ही पॉक्सो एक्ट में गिरफ्तार किया। पॉक्सो एक्ट में एक की गिरफ्तारी के बाद अन्य नामजद तौफीक और अंजुम को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। रेप पीड़िता के पिता की मौत के बाद अब परिजनों ने आधा दर्जन से अधिक लोगों पर हत्या करने का आरोप लगाया है।