भारत के राजनैतिक मानचित्र में तिब्बत को स्वतन्त्र राष्ट्र मानते हुये उसके साथ भारत की सीमा दर्शाई जाये: पंकज गोयल


नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक माननीय इंद्रेश कुमार जी के मार्गदर्शन में संचालित "भारत तिब्बत सहयोग मंच" दिल्ली प्रान्त के शहादरा जिले के तत्वाधान में 20/6/2020 प्रातः 10 बजे निर्माण विहार मेट्रो स्टेशन पर जिले के कार्यकर्ताओं द्वारा चीन के उत्पादों के बहिष्कार हेतु जनजागरण मार्च निकालकर चीन देश के बने सामानों व चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के पुतले का दहन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता  आर.एस.एस. के पूर्व प्रचारक व भारत तिब्बत सहयोग मंच के अखिल भारतीय महामंत्री पंकज गोयल जी ने भारत सरकार से मांग की कि दशकों से चीन द्वारा प्रताड़ित तिब्बतियों के मानवता की लड़ाई लड़ रहे निर्वासित तिब्बती धर्मगुरु परम् पावन दलाई लामा जी को अविलंब "भारत रत्न" के सम्मान की घोषणा की जाय।
●भारत के राजनैतिक मानचित्र में तिब्बत को राष्ट्र मानते हुए उसके साथ भारत की सीमा दर्शाई जाय।
●अंतरराष्ट्रीय मंचों पर तिब्बत की आजादी का समर्थन किया जाये ।  गोयल ने उपस्थित प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा नेपाल का भारत  के साथ सदियों से चले आ रहे सांस्कृतिक व सामाजिक तौर पर  रोटी -बेटी के रिश्ते का हवाला देकर कहा कि हमारे नेपाली भाई बहन बहुत सीधे साधे विचार के हैं वो अपने भोलेपन का विस्तारवादी नीति पर चलनेवाले धूर्त चीन को फायदा न उठाने दें। उन्होंने नेपाल को सन 1950 में तिब्बत के साथ की गई धूर्ततापूर्ण व्यवहार से सीख लेकर नेपाल राष्ट्र की संप्रभुता को बचाने की नसीहत देते हुए चीन के बहकावे में न आने का आह्वान करते हुए तिब्बत की आजादी व कैलाश मानसरोवर की सुगमता पर भारत की सामरिक नीति के महत्व को भी बताया। दूसरे अतिथि वक्ता निर्वासित तिब्बत सरकार के विदेश विभाग द्वारा संचालित भारत तिब्बत समन्वय केंद्र के समन्वयक जिग्मे तुलसरिंम जी ने धूर्त चीन द्वारा तिब्बत से सटे उत्तरपूर्वी भारत के राज्यों अरुणाचल,सिक्किम लद्दाख इत्यदि के भोले भाले लोगों को शरीर रचना का तर्क देकर अपने साथ मिलाने की साजिश पर अपने विचार रख चीन की धूर्तता से परिचित कराते हुए चीनी सामानों के आर्थिक बहिष्कार का आहवाहन किया। कार्यक्रम  विराग जैन के संयोजन में किया गया तथा कार्यक्रम का कुशलतापूर्वक संचालन जिला महामंत्री  हिमांशु गोयल ने किया । कार्यक्रम में प्रमुख रूप से  वीरेन्द्र अग्रवाल (राष्ट्रीय कार्यालय प्रमुख), संजय भाटिया, जन्मेजय शर्मा, सोमवीर सिंह, इन्दु बाला, दीपा नागपाल, आकाश वर्मा, महिला व युवा जिला अध्यक्ष किरण पाठक, मोहित शर्मा, भारती बंसल, देवेन्द्र कुमार (देवा), राहुल श्रीवास्तव, सहित अन्य कार्यकर्ता मातृशक्ति व बंधुओं की सहभागिता रही।