बिना मास्क लगाए पहुंचे कैबिनेट की मीटिंग में, मंत्री पर 200 रुपये का फाइन


गांधीनगर। गुजरात में मुख्यमंत्री कार्यालय में बिना मास्क के जाना एक मंत्री को भारी पड़ गया। विजय रूपाणी सरकार ने मंत्री पर 200 रुपये का जुर्माना किया गया। यह पहली बार है जब सीएम कार्यालय में किसी मंत्री से मास्क न लगाने पर जुर्माना वसूला गया है। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने घर से बाहर मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। राज्य में कोरोना वायरस 1534 लोगों की जान ले चुका है। सहकारिता, खेल, युवा और संस्कृति राज्य मंत्री ईश्वर सिंह पटेल कैबिनेट की साप्ताहिक बैठक में मुख्यमंत्री कार्यालय गांधीनगर पहुंचे थे। उन्होंने मास्क नहीं लाया था, जबकि उनके अन्य सहयोगी मंत्रियों और अधिकारियों ने मास्क पहना था। 
मंत्री ने मानी गलती, भरा फाइन
गांधीनगर नगर निगम ने उनपर 200 रुपये का जुर्माना लगा दिया। कैबिनेट की बैठक के बाद, पटेल ने जुर्माना भरा और पत्रकारों को चालान दिखाया। मंत्री ने कहा कि यह अनजाने में हो गया। पटेल ने कहा, 'मैंने मास्क नहीं लगाने के लिए 200 रुपये का जुर्माना भरा है। मैं हमेशा मास्क लगाता हूं। जब मैं कार से बाहर निकला तो मास्क लगाना भूल गया था। बाद में मुझे अपनी गलती का एहसास हुआ।'