गाजियाबाद डीएम की पहल,कोरोना पॉजिटिव मरीज का हौसला बढ़ाकर उबरने में करते हैं मदद


गाजियाबाद ब्यूरो। कोरोना वायरस शरीर पर तो असर डालता ही है इसका असर रोगियों की मनोदशा पर भी पड़ता है। कोविड-19 संक्रमण भय के कारण वे मानसिक तनाव में ज्यादा आ जाते हैं जिसके कारण यह संक्रमण उन पर और ज्यादा हावी हो जाता है। मरीज के अंदर घर कर रहे इस मानसिक तनाव को कम करने के उद्देश्य से गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने एक सराहनीय कदम उठाया है। इसके तहत कोई भी शख्स कोविड-19 संक्रमण से ग्रसित होता है और वह कोविड-19 अस्पताल पहुंचता है तो मरीज का मानसिक दबाब कम करने और उसका हौसला बढाए जाने के लिए जिलाधिकारी द्वारा लिखा हुआ एक स्वागत पत्र उन्हें भेंट किया जाता है। देख गया है कि हौसला बनाए रखने के चलते कोविड-19 संक्रमित मरीजों के ठीक होने का रेट ज्‍यादा हुआ है। उन्हें यह भी बताया जाता है कि ऐसा नहीं है कि कोविड-19 संक्रमण मरीज ठीक नहीं होते बल्कि यहां आने वाले 100 से भी ज्यादा मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। उन्हें यह भी बताया जाता है कि कोरोना संक्रमण से उबरने का सबसे बड़ा तरीका यह है कि मरीज खुद अपना हौसला बनाए रखें और उपचार के दौरान चिकित्सकों का पूरा सहयोग करें उन्होंने कहा कि वह खुद जूम ऐप के जरिए बीच-बीच में मरीजों का हाल जानते हैं। साथ ही वहां की व्यवस्थाओं के बारे में भी उनसे जानकारी ली जाती है ताकि किसी तरह की कोविड-19 संक्रमित मरीजों के साथ लापरवाही ना हो।