गाजियाबाद में कोरोना मरीजों का बढ़ा आंकड़ा, लेकिन अस्पतालों की संख्या नहीं


गाजियाबाद। यूपी के गाजियाबाद जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। 2 कोविड एल-1 और एक एल-2 अस्पताल के सभी बेड लगभग भर चुके हैं। एल-3 में भी मरीजों की संख्या काफी ज्यादा है। अगले दो दिन में यदि जिले में कोई एल-1 अस्पताल ऐक्टिव नहीं किया गया तो मरीजों को भर्ती करने के लिए जगह नहीं मिलेगी, लेकिन स्वास्थ्य विभाग हाथ पर हाथ रखे बैठा है। हालांकि अधिकारी कह रहे हैं कि 200 बेड का एल-1 अस्पताल तैयार है, लेकिन उसके लिए अभी मेडिकल टीमें गठित नहीं हुई हैं। फिलहाल जिले में 275 ऐक्टिव मरीज हैं। बकौल सीएमओ ईएसआई अस्पताल एल-1 में 55 मरीज, सेंट जोसेफ एल-1 अस्पताल में 60 मरीज भर्ती हैं। एल-2 कम्बाइंड अस्पताल में 70 मरीज भर्ती हैं। इसके अलावा एल-3 संतोष अस्पताल में 37 मरीज भर्ती हैं। सीएमओ के अनुसार जिले के 25 से 30 मरीज नोएडा और लगभग 10 मरीज दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती हैं। इसके अलावा जिला एमएमजी अस्पताल में भी कुछ मरीज भर्ती हैं। इमरजेंसी के तौर पर साधारण लक्षण वाले और कोरोना के साथ अन्य बीमारियों के मरीजों को संतोष अस्पताल में भर्ती किया जा सकता है। सीएमओ डॉ. नरेंद्र गुप्ता ने बताया कि मोदीनगर में दिव्य ज्योति अस्पताल में 200 बेड की व्यवस्था करके उसे ऐक्टिव किया जा रहा है। उसके लिए अभी तक विभाग ने मेडिकल टीम का गठन भी नहीं किया है। बिना मेडिकल टीम के अस्पताल को ऐक्टिव नहीं किया जा सकता। एल-1 अस्पताल के लिए 25-25 स्टाफ की कम से कम तीन टीम की जरूरत है।