मध्य प्रदेश में मोमोज वाले को कोरोना, 3 दिन में 200 से अधिक लोगों को इसने खिलाए



  • एमपी में कोरोना मरीजों की संख्या पहुंची 12 हजार के पार

  • ग्वालियर में रविवार को मोमोज सेलर की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव

  • सैंपलिंग के बाद भी वह चौराहे पर बेचता रहा मोमोज

  • 3 दिन के अंदर इसके ठेले से 200 लोगों ने खाए थे मोमोज


ग्वालियर। अनलॉक 1 में कोरोना संक्रमण की रफ्तार एमपी में बढ़ती जा रही है। मार्केट खुलने के बाद अब कई दुकानदार भी कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। ग्वालियर शहर में एक मोमोज बेचने वाले की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। कोरोना से संक्रमित होने के बावजूद वह ठेला लगाकर मोमोज बेच रहा था। 3 दिनों के अंदर युवक ने करीब 200 से ज्यादा ग्राहकों को मोमोज खिलाए हैं। इसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद शहर में हड़कंप मच गया है। जानकारी के अनुसार मोमोज बेचने वाला युवक मुरार के 7 नंबर चौराहा के पास ठेला लगाता है। वह यहां 2013 से ही मोमोज बेच रहा है। कोरोना संक्रमित होने की रिपोर्ट आने तक 28 वर्षीय युवक चौराहे पर मोमोज बेचता रहा है। इस दौरान उसने 200 से ज्यादा ग्राहकों को मोमोज दिए हैं। ऐसे में उसकी संपर्क हिस्ट्री लंबी हो गई है। वहीं, जिला प्रशासन ने एडवाइजरी जारी कर कहा है कि जो भी लोग उसके संपर्क में आए हैं, वो खुद आकर अपनी जांच करवाएं। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मोमोज बेचने वाले युवक को पिछले बुधवार को ही बुखार आया था। हजीरा सिविल अस्पताल में जाकर उसने दवा ले ली। जब आराम नहीं मिला तो उसने फिर शनिवार को वहां सैंपलिंग करवाई। लेकिन वह मोमोज बेचना बंद नहीं किया। रविवार शाम को उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। कोरोना की सैंपलिंग के बाद भी वह 7 नंबर चौराहा पर मोमोज बेचता रहा। यहीं नहीं उसका छोटा भाई भी एमएस चौराहा पर मोमोज का ठेला लगाता है। उसके लिए भी सामान संक्रमित युवक ही तैयार करता है। ऐसे में प्रशासन की टेंशन काफी बढ़ गई है। क्योंकि इन 3 दिनों में न जाने कितने लोग इसके पास आकर मोमोज खाए हैं। सरकारी आंकड़े के अनुसार ग्वालियर में कोरोना मरीजों की संख्या 286 है, जिनमें से 2 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, 239 लोग ठीक होकर घर लौट गए हैं। शहर के अस्पतालों में अभी 45 कोरोना मरीज भर्ती हैं।