पूर्व मंत्री का भाई कर रहा था अवैध खनन, पुलिस ने रोका तो कर दिया हमला, केस दर्ज



  • पूर्व मंत्री जीतू पटवारी के भाई के खिलाफ मामला दर्ज

  • विधायक के भाई के खिलाफ अवैध खनन की शिकायतें

  • पुलिस और खनिज अधिकारियों पर हमले का भी आरोप

  • तेजाजीनगर पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू की जांच


इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में तेजाजीनगर थाना क्षेत्र में आने वाली चिनार हिल्स पहाड़ी पर अवैध उत्खनन करने वाले पूर्व मंत्री और वर्तमान विधायक जीतू पटवारी के भाई और रिश्तेदार सहित अन्य के खिलाफ शुक्रवार को तेजाजीनगर पुलिस ने केस दर्ज किया है। आरोप है कि खनन अधिकारी और पुलिस टीम वैधानिक कार्यवाही कर रही थी तो आरोपियों ने पथराव किया। टीआई की गाड़ी के कांच फोड़ दिए। मामले में हस्तक्षेप करने के लिए विधायक भी थाने पहुंचे थे। एसडीएम मनीष सिंह सिकरवार का कहना है कि पुलिस को ट्रुवा कॉलेज के पास चिनार हिल्स पर अवैध उत्खनन की शिकायत मिली थी। इस पर रिमूवल और पुलिस टीम लेकर मौके पर पहुंचे जहां जेसीबी और डंपर से अवैध कारोबार को अंजाम दिया जा रहा था। पुलिस और खनिज अधिकारी जब गाड़ियां जब्त कर थाने लौट रहे थे तभी चेतन पटवारी और कुणाल ने साथियों के साथ मिलकर रास्ता रोका। ये दोनों पूर्व मंत्री के भाई और रिश्तेदार हैं। आरोपियों ने अधिकारियो के साथ झूमाझटकी की और सरकारी काम में बाधा डालने की कोशिश की। उन्होंने गाड़ियों पर पत्थर फेंके जिसमे टीआई की गाडी का कांच फूट गया। हमलावर मौके से फरार हो गए। कार्यवाही करने वाले अफसरों में एसडीएम, खनिज निरीक्षक आलोक अग्रवाल और तेजाजीनगर टीआई नीरज मीना शामिल थे। जब टीम थाने पहुंची तो क्षेत्र के विधायक पटवारी भी खबर मिलते ही समर्थकों के साथ थाने पहुंच गए। उन्होंने हस्तक्षेप की कोशिश की लेकिन आखिरकार भाई और रिश्तेदार पर अधिकारियो ने केस दर्ज कर ही लिया। पुलिस का कहना है कि कानून तोड़ने वालों के खिलाफ केस दर्ज हो गया है। उन्होंने शासकीय कार्य में बाधा डालकर पथराव किया। आरोपियों की गिरफ़्तारी भी जल्द होगी।