राजस्थान के सांचौर में आसमान से गिरी पौने तीन किलो की रहस्यमय धातु



  • जालोर के सांचौर में गिरा 2 किलो 788 ग्राम वजनी धातु।

  • भंसाली हॉस्पिटल के पास सड़क के किनारे जमीन में धंसी हुई नजर आया धातु।

  • पुलिस ने सुरक्षित रखवाया , अब जोधपुर विश्व विद्यालय की टीम जांच के लिए पहुंचेगी।

  • काले पत्थरनुमा आकार हैं को एक जार में रखवाई जाकर सुरक्षित कर ली गई हैं।


जालोर। राजस्थान के जालोर जिले के सांचौर में शुक्रवार सुबह करीब पौने तीन किलो की एक रहस्यमय धातु गिरी। इसे उल्कापिंड का टुकड़ा भी बताया जा रहा है। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने धातु को अपने कब्जे में लेकर सुरक्षित रखवाया है। सूचना के बाद जोधपुर विश्व विद्यालय की एक टीम जांच के लिए मौके पर पहुंचेगी। सांचौर थानाधिकारी अरविंद पुरोहित ने बताया कि दिनांक 19 जून 20 को सुबह करीब 7 बजे टेलिफोन से आसमान से धमाके के साथ कुछ गिरने की सूचना मिली थी। पुलिस टीम मौके पर पहुंची और जानकारी मिली की गायत्री कॉलेज के पास आसमान से गर्जना के वस्तु गिरी है। टीम मौके पर पहुंची तो वस्तु जमीन में धंसी हुई मिली। पुलिस के अनुसार सांकेतिक स्थान गायत्री कॉलेज के पास कस्बा सांचोर पहुंचने पर उसकी तलाश की गई। जानकारी के अनुसार भंसाली हॉस्पिटल के पास वाली कॉलोनी को जाने वाली सड़क के किनारे अजयराज देवासी के मकान के पास ही रोड किनारे एक धातुनुमा वस्तु जमीन में धंसी हुई नजर आई। सुरक्षा कारणों से घटना क्षेत्र को सुरक्षित किया गया और सूचना पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सांचोर, एसडीएम सांचोर , सीओ सांचोर और सेन्ट्रल आईबी पोस्ट प्रभारी भी मौके पर पहुंचे। जानकारी के अनुसार इस धातु का बाह्य रूप से गहनता पूर्वक निरीक्षण कर सुरक्षा इन्तजाम किए और उक्त वस्तु को सावधानीपूर्वक जमीन से निकाला गया। यह वस्तु गर्म अवस्था में थी जिसको मिट्टी में सुरक्षित रखी गई। ठण्डी होने पर एक कांच के जार में सुरक्षित रखा गया हैं। इस वस्तु का वजन 2 KG 788 GM हैं। मौका के सुरक्षित कर पुलिस जाब्ता लगा दिया गया हैं। सूचना पाकर मौके पर एकत्रित आये कस्बेवासियों को समझाइश कर हटा दिया गया हैं । निर्देशानुसार उक्त वस्तु को जो किसी धातु से बनी हुई लग रही हैं जिसका काले पत्थर नुमा आकार हैं को एक जार में रखवाई जाकर सुरक्षित कर ली गई हैं।