यूपी एसटीएफ ने डॉन अबू सलेम के साथी को नोएडा से किया गिरफ्तार



  • मुंबई ब्लास्ट के आरोपी जेल में बंद खूखार डॉन अबू सलेम और खान मुबारक के सहयोगी गजेंद्र सिंह गिरफ्तार

  • आरोपी खान मुबारक और अबू सलेम के पैसों को प्रॉपट्री में लगाता था, यह लोगों से अवैध वसूली किया करता था

  • इसके अलावा गजेंद्र अबू सलेम और खान मुबारक के रुपये नोएडा-एनसीआर में प्रॉपर्टी में भी लगाता था


नोएडा। यूपी एसटीफ की नोएडा यूनिट और कोतवाली पुलिस ने मुंबई सीरियल ब्लास्ट के आरोपी जेल में बंद खूखार डॉन अबू सलेम और खान मुबारक के सहयोगी गजेंद्र सिंह को गिरफ्तार किया हैं। पकड़ा गया आरोपी खान मुबारक और अबू सलेम के पैसों को प्रॉपट्री में लगाता था। साथ ही यह लोगों से अवैध वसूली किया करता था। साथ ही गजेंद्र अबू सलेम और खान मुबारक के रुपये नोएडा-एनसीआर में प्रॉपर्टी में भी लगाता था। जानकारी के अनुसार नोएडा के सेक्टर-20 निवासी गजेंद्र सिंह दो केस में फरार चल रहा था। यूपी एसटीएफ नोएडा यूनिट को सूचना मिली थी कि गजेंद्र सेक्टर-20 आने वाला है। सूचना के आधार पर पुलिस और एसटीएफ ने छापेमारी कर उसे दबोच लिया। यूपी एसटीएफ के एसपी राजकुमार मिश्रा ने बताया कि यह डी कंपनी गैंग का भय दिखाकर व्यापारी, बिजनेसमैन आदि से पैसे हड़प लेता था। 
बिजनस मैन पर कराई थी फायरिंग
2014 में गजेंद्र ने दिल्ली के एक बिज़नेसमैन से प्रॉपर्टी के नाम पर एक करोड़ 80 लाख रुपये हड़प लिए थे। बाद में प्रॉपर्टी भी उसे नहीं दी। जब बिजनेसमैन ने पैस वापस मांगे तो उसने खान मुबारक के शूटर्स से सेक्टर-18 में बिजनेसमैन पर फ़ायरिंग करा दी। इस हमले के लिए गजेंद्र ने खान मुबारक को 10 लाख रुपये दिए थे।
एसटीएफ कर रही पूछताछ
सेक्टर-20 पुलिस ने गजेंद्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया हैं। वहीं यूपी एसटीएफ की टीम अभी आरोपी से पूछताछ कर रही है। बता दें कि 2005 में सलेम को पुर्तगाल से प्रत्यर्पित किया गया था। यहां उसके खिलाफ मुंबई ब्लास्ट समेत अवैध वसूली, हत्या, हत्या प्रयास आदि आरोपों में अलग-अलग जगह मुकदमा दर्ज किया गया। बहरहाल सलेम नवी मुम्बई की तलोजा जेल में बंद है।