अमेरिका के बाद अब चीन का बदला, ड्रैगन ने अमेरिकी पत्रकारों पर लगाई ये रोक


बीजिंग। चीन ने अमेरिकी मीडिया संगठनों के कुछ पत्रकारों के लिए प्रेस मान्यता के पूर्ण नवीनीकरण पर रोक लगा दी है। खबरों के मुताबिक अमेरिका में काम कर रहे चीनी संवाददाताओं को वाशिंगटन की तरफ से निशाना बनाए जाने के जवाब में यह कदम उठाया गया है। दोनों देश की तरफ से उठाए जा रहे कदम खराब होते अमेरिका-चीन के रिश्ते दर्शाते हैं जो दशकों में अपने सबसे निचले स्तर पर गिर गए हैं। अटलांटा स्थित सीएनएन ने अपनी वेबसाइट पर एक खबर में कहा कि उसके चीन संवाददाता डेविड कल्वर का नाम उन पत्रकारों में शामिल है जिन्हें विदेश मंत्रालय द्वारा जारी अपनी प्रेस मान्यता के नवीनीकरण के लिए आवेदन देते वक्त नयी व्यवस्था के बारे में बताया गया। सीएनएन ने कहा कि उन्हें आमतौर पर मिलने वाले एक साल के प्रेस कार्ड की बजाय अगले दो महीने तक रिपोर्टिंग कर सकने का अधिकार देते हुए एक पत्र दिया गया। उन्हें बताया गया कि यह कदम उनकी रिपोर्टिंग से जुड़ा हुआ नहीं है बल्कि चीनी मीडिया के प्रति ट्रंप प्रशासन के कदमों की प्रतिक्रिया है। चीनी विदेश मंत्रालय से तत्काल इस बारे में कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। सीएनएन और द न्यूयॉर्क टाइम्स ने खबर दी कि अन्य अमेरिकी मीडिया को भी निशाना बनाया गया है। चीन ने यह कदम तब उठाया है जब अमेरिका ने कुछ चीनी मीडिया द्वारा चीनी नागरिकों को नियुक्त किए जाने की संख्या सीमित कर 100 कर दी और सभी को 90 दिन का वीजा दिया है।