बीटेक छात्र ने पिता की रिवॉल्वर से खुद को मारी गोली, पबजी और प्रेम ऐंगल में फंसी पुलिस


आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा में सोमवार देर रात एक बीटेक छात्र ने अपने पिता की लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुद को गोली मार ली। सूचना पर पहुंची पुलिस आत्महत्या के इस मामले में पबजी और प्रेम संबंध की गुत्थी के बीच फंस गई है। थाना हरिपर्वत के नेहरू नगर क्षेत्र निवासी राजेश पंडित आगरा के एमजी रोड स्थित सेंट्रल बैंक में असिस्टेंट मैनेजर हैं। उनकी एक बेटी और एक बेटा है। बेटी फरीदाबाद में नौकरी करती है। 23 वर्षीय बेटा शुभांकर पंडित असम के एनआईटी में बीटेक सेकंड ईयर का छात्र था। लॉकडाउन के बाद से वह परिवार के साथ घर पर ही रहता था। सोमवार रात खाना खाने के बाद वह छत पर गया। उसी समय अचानक छत पर गोली चलने की आवाज आई। राजेश पंडित ने नौकर को ऊपर भेजा तो सीढ़ियों के बाद छत का दरवाजा बंद था। इसके बाद उनका नौकर गोपाल पड़ोस की कोठी से कूद कर छत पर गया तो वहां शुभांकर लहूलुहान अवस्था में पड़ा था। परिजन उसे एसएन मेडिकल लेकर गए जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शुभांकर की मां अर्चना का कहना है कि वह हर वक्त मोबाइल पर पबजी खेला करता था। परिवारवालों ने लाइसेंसी रिवॉल्वर से आत्महत्या की बात लिखकर दी है। मृतक शुभांकर ने मरने से पहले अपने मोबाइल की कॉल डिटेल और फेसबुक अकाउंट को डिलीट कर दिया है। इस वजह से पुलिस आत्महत्या की वजह किसी अन्य से दोस्ती भी मान रही है।
डेटा कराया जा रहा है रिकवर
एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद ने बताया कि परिवारवालों ने युवक की ओर से लाइसेंसी रिवॉल्वर से खुदकुशी की बात लिखकर दी है। आत्महत्या की वजह जानने के लिए मृतक के मोबाइल का डेटा रिकवर कराया जा रहा है। फिलहाल, पुलिस विधिक कार्रवाई कर रही है।