दिल्‍ली पुलिस का कारनामा : 160 किलो गांजा पकड़ा, एक किलो बरामद दिखाया और बाकी बेच दिया



  • दिल्‍ली पुलिस ने एक रेड के दौरान सीज किया था 160 किलो गांजा

  • बरामदगी केवल 1 किलो की दिखाई, बाकी को मार्केट में बेच दिया

  • पेडलर से पूछताछ में खुला राज, चार पुलिसवालों के नाम आए सामने

  • चारों सस्‍पेंड, एसीपी कर रहे जांच कि कितना गांजा पकड़ा गया था


नई दिल्‍ली ब्यूरो। जहांगीरपुरी थाने के चार पुलिसकर्म‍ियों की करतूत ने दिल्‍ली पुलिस का चेहरा शर्म से झुका दिया है। इन्‍होंने कथित तौर पर एक ड्रग पेडलर को घूस देकर छोड़ दिया। इतना ही नहीं, उसके पास से बरामद 160 किलो गांजा ब्‍लैक मार्केट में बेच दिया। अधिकारियों ने शुक्रवार को बताया कि चार पुलिसकर्मियों में दो सब-इंस्‍पेक्‍टर भी शामिल हैं। अब जांच इस बात की हो रही है कि असल में अनिल नाम के पेडलर से कितना गांजा बरामद किए गया था। 11 सितंबर को नॉर्थ-वेस्‍ट दिल्‍ली के एक घर में पुलिस रेड डालने गई थी, जहां का यह पूरा वाकया है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, चारों पुलिसवालों ने करीब एक किलो गांजे की बरामदगी दिखाई और बाकी बेच दिया। अनिल ने ओडिशा से गांजा हासिल किया था और उसे छापेमारी के दौरान पकड़ा गया था लेकिन पुलिस को घूस देने के बाद छूट गया। जब मामला खुला तो अनिल से पूछताछ की गई। सख्‍ती करने पर अनिल ने उन पुलिसवालों की पोल खोल दी जिन्‍होंने छापेमारी की थी। डीसीपी (नॉर्थ-वेस्‍ट) विजयंत आर्य ने कहा कि मामले में एसीपी (ऑपरेशंस) जांच कर रहे हैं। दोनों सब-इंस्‍पेक्‍टर्स और दो हेड कॉन्स्‍टेबल्‍स को सस्‍पेंड कर दिया गया है। दिल्‍ली के पुलिसवालों की यह करतूत ऐसे वक्‍त में सामने आई है जब देश में ड्रग्‍स का मुद्दा बेहद चर्चा में है। बॉलिवुड के ड्रग्‍स कनेक्‍शन की जांच हो रही है तो साउथ सिनेमा के कई बड़े नाम भी पुलिस के रडार पर हैं। नार्कोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो की टीमें पिछले एक महीने में कई जगहों पर छापेमारी कर हजारों किलो गांजा बरामद कर चुकी हैं।