डॉक्टरों के आगे नतमस्तक एमपी के ऊर्जा मंत्री, कहा- आप लोगों की जिंदगी बचा रहे


ग्वालियर। एमपी के कैबिनेट मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। ऊर्जा मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर इस बार फिर से सुर्खियों में हैं। सोशल मीडिया पर मंत्री जी की एक तस्वीर वायरल है। वायरल तस्वीर में मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ग्वालियर के एक अस्पताल में डॉक्टरों के आगे नतमस्तक हैं। वायरल तस्वीर में मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर डॉक्टरों के आगे नतमस्क होकर उन्हें सलाम कर रहे हैं। साथ ही कह रहे हैं कि मैंने भगवान को तो नहीं देखा है, लेकिन धरती पर भगवान आप लोग ही हैं। प्रद्युमन सिंह तोमर शिवराज सरकार में ऊर्जा मंत्री हैं। इस बार उपचुनाव में वह बीजेपी के प्रत्याशी भी होंगे। मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर ज्योतिरादित्य सिंधिया के करीबी हैं। उनके साथ ही कांग्रेस छोड़ कर वह बीजेपी में शामिल हुए हैं। सोमवार को मंत्री कोविड-19 सेंटर का उद्घाटन करने पहुंचे थे। अस्पताल पहुंचने के बाद डॉक्टरों ने उनका वेलकम किया। मंत्री जी भी डॉक्टरों के साथ अस्पताल के अंदर गए। वहां कार्यक्रम में भाग लिया। साथ ही व्यवस्थाओं के बारे में जानकारी ली। इस दौरान उन्हें जानकारी मिली की लहार के युवक राहुल का डॉ सोनू पाटिल और उनकी टीम ने आयुष्मान योजना के तहत किडनी ट्रांसप्लांट किया है। सफलता पूर्वक किडनी ट्रांसप्लांट की जानकारी मिलने के बाद मंत्री प्रद्युमन सिंह तोमर डॉक्टर सोनू सिंह पाटिल के पैरों में अचानक झुक कर ढोक लगाने लगे। इस दौरान मौजूद सभी लोग अचंभित रह गए। थोड़ी देर तक ऊर्जा मंत्री डॉक्टरों के आगे ऐसे दंडवत रहे। यह पल डॉक्टरों के लिए वाकई अविस्मरणीय था। मंत्री प्रधुम्न सिंह तोमर ने कहा कि मैंने भगवान को तो नहीं देखा है लेकिन डॉक्टर किसी भगवान से कम नहीं होते हैं, जो लोगों की जिंदगी बचा रहे हैं। इसलिए मैं आज डॉक्टर रूपी भगवान को नमन करता हूं और उनसे प्रार्थना करता हूं कि वह इसी तरह से इस संक्रमण काल के दौरान लोगों की सेवा करते रहें और उनके प्राणों की रक्षा करें। दरअसल, प्रद्युमन सिंह तोमर तत्कालीन कमलनाथ की सरकार में खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री थे। बीजेपी में शामिल होने के बाद वह खाली पैर चलते थे। मंत्री अपने क्षेत्र के लोगों से खाली पैर ही मिलने जाते थे। उनका संकल्प था कि जब तक क्षेत्र में पानी की समस्या दूर नहीं हो जाएगी, तब मैं चप्पल नहीं पहनूंगा। बीते दिनों ग्वालियर दौरे पर आए ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें मंच पर चप्पल पहनाई थी। साथ ही कहा था कि अब क्षेत्र की समस्या दूर हो जाएगी। तत्कालीन कमलनाथ की सरकार में तोमर जब खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री थे, तब नाले और नालियों की सफाई करने के लिए उतर जाते थे। मंत्री रहते हुए वह खुद से नाले में उतर कर कीचड़ निकालते थे। यहीं नहीं अभी भी वह कई बार टॉयलेट की सफाई कर चुके हैं। इन वजहों से मंत्री जी हमेशा सुर्खियों में रहते हैं।