गाजियाबाद में लोगों ने घर के दरवाजे पर 'मकान बिकाऊ है' के लगाए पोस्टर


गाजियाबाद ब्यूरो। साहिबाबाद क्षेत्र के शालीमार गार्डन मेन की छाबड़ा कॉलोनी में रहने वाले करीब 20 से भी ज्यादा लोगों ने अपने मकानों के गेट पर 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगाए तो लोग हैरान रह गए। यह जानकारी पुलिस प्रशासन और क्षेत्रीय पार्षद को मिली तो ये लोग मौके पर पहुंचे। पोस्टर लगाने वाले लोगों ने बताया कि कॉलोनी में एक दबंग युवक रहता है। उसके साथ अक्सर बड़ी संख्या में बाउंसर मौजूद रहते हैं। उसकी दबंगई से आसपास के लोग बेहद परेशान हैं, इसलिये अब यहां के लोगों ने अपने मकान पर 'मकान बिकाऊ है' कि पोस्टर लगाए हैं। इन लोगों का कहना है। कि इस इलाके में कई आपराधिक मामले हो चुके हैं। सबसे ज्यादा इस इलाके में चैन स्नैचिंग भी हुई है। इसे ध्यान में रखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से सभी स्थानीय लोगों ने आपस मे पैसे इकठ्ठा कर गली में चेन लगाई थी। इसे किसी भी स्थानीय शख्‍स को कोई परेशानी नहीं है, लेकिन सुशील वर्मा नामक दबंग लगातार इसका विरोध करता है। सुशील वर्मा ने गली में लगी चेन को हटा दिया है, जिसके बाद गली में अवांछित तत्वों का आना शुरू हो गया है। लोगों ने गली में लगी चेन हटाने का विरोध किया गया तो उसने दबंगई दिखाते हुए झगड़ा किया। स्थानीय लोग उसकी दबंगई से काफी परेशान हैं। इसकी शिकायत उन्होंने जिलाधिकारी से भी की, लेकिन इस पर कोई सुनवाई नही हुई तो मजबूरी में अब उन्हें यह निर्णय लिया है। कि यहां से मकान बेचकर कहीं दूसरी जगह लेंगे। करीब 2 दर्जन से भी ज्यादा लोगों ने अपने मकानों के आगे इस तरह के पोस्टर लगाए हैं।
पुलिस ने जांच के बाद कार्रवाई का दिया आश्वासन
इस सूचना पर साहिबाबाद थाना अध्यक्ष और क्षेत्रीय पार्षद भी मौके पर पहुंचे। वहीं, सुशील वर्मा का कहना है कि कुछ लोगोंद्वारा उनके ऊपर झूठे आरोप लगाए गए हैं। वह खुद भी कॉलोनी में रहते हैं तो कॉलोनी को असुरक्षित कैसे देख सकते हैं ? कुछ लोग उनसे द्वेष रखते हैं, इसलिए इस तरह के आरोप लगाए गए हैं।