कार लोन से छुटकारा पाने के लिए पत्नी को मार डाला,बताई रोंगटे खड़े करने वाली कहानी


प्रयागराज। सात फेरों के बंधन में बंधते हुए पति-पत्नी सौगंध लेते हैं। सुख-दुख में साथ देने का वादा करते हैं। लेकिन प्रयागराज में एक पति ने अपनी बीवी को ही रास्ते से हटा दिया। वजह जानकर आप भी चौंक उठेंगे। इस शख्स ने कार के लोन को चुकाने के लिए पत्नी की जान ले ली। प्रयागराज पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा किया है। प्रयागराज के रहने वाले एक शख्स ने अपने लोन के पैसे और कर्ज को चुकाने के लिए जो कदम उठाया उसे जानकर लोगों की रूह कांप उठेगी। नवाबगंज के सूर्य प्रकाश ने लोन के पैसे से कार खरीदी। इस कार को वह ओला में चलाने लगा लेकिन ज्यादा आमदनी ना होने की वजह से लोन चुकाने में बहुत दिक्कत हो रही थी। कार का लोन चुकाने और अपने कर्ज से बचने के लिए जो रास्ता उसने अख्तियार किया वह बेहद खौफनाक था। नवाबगंज के पबनाह गांव के रहने वाले शिवशंकर मौर्य ने अपनी पत्नी आशा देवी मौर्य की कुल्हाड़ी से हमला करते हुए हत्या कर दी। वारदात के बाद वह मौके से फरार हो गया। आरोपी पत्नी की हत्या का इल्जाम किसी और पर डालने की फिराक में था। दरअसल पति ने अपनी पत्नी के नाम लोन ले रखा था। पत्नी की मौत के बाद वह लोन के पैसे उसे चुकाने ना पड़ते। साथ ही जीवन बीमा (एलआईसी) के पैसे भी उसे मिल जाते। कातिल यह नहीं जानता था कि पुलिस की जांच के दायरे में वह फंस जाएगा। आरोपी पति को पुलिस ने प्रयागराज बैंक आफ बड़ौदा नवाबगंज के पास से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी पति की निशानदेही पर घर के पास से खून से सनी कुल्हाड़ी बरामद की गई है। पुलिस के हत्थे चढ़े आरोपी पति ने अपने जुर्म को कबूल कर लिया। महिला के तीन बच्चे इस घटना के बाद सदमे में हैं।
घटना के पीछे यह है मूल वजह
आरोपी शिवशंकर अपनी पत्नी आशा देवी मौर्या को एजेंट बनाकर एक समूह चलाता था, जिसमें इलाके के 28 लोगों को बन्धन बैंक कौड़िहार से कर्ज दिलवाया। लेकिन लोगों की ओर से समय से पैसा नहीं जमा करने पर आरोपी शिव शंकर मौर्य पर बैंक का दबाव था। इसके अलावा आरोपी पति ने अपनी पत्नी के नाम तीन लाख रुपये का लोन ले रखा था। भारतीय जीवन बीमा निगम से एक लाख रुपये का बीमा और सहारा से दस लाख रुपये का बीमा कराया था।
लोन लिए पैसे के माफ हो जाने और बीमा का पैसा मिल जाने की वजह से आरोपी ने अपनी पत्नी आशा देवी की कुल्हाड़ी से मारकर हत्या कर दी। पति ने अपने कर्ज से छुटकारा पाने के लिए पत्नी की हत्या तो कर दी लेकिन उसने यह कभी नहीं सोचा कि उसके पीछे उसका परिवार भी है।