कमरे में फंदे से लटका मिला ऑटो चालक, जमीन पर खून से लथपथ पत्नी का नग्‍न शव


मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ में पल्लवपुरम थाना क्षेत्र से एक खौफनाक मामला सामने आया है। यहां पिछले 2 महीने से किराए के मकान में रह रहे दंपती के शव संदिग्ध हालात में बंद कमरे में बरामद हुए। पति का शव जहां कमरे में फंदे से लटका मिला, वहीं, पत्नी की खून से लथपथ लाश नग्न अवस्था में फर्श पर मिली। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। इस खौफनाक घटना से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। बताया जा रहा है कि मूल रूप से मवाना के खाईखेड़ा गांव का रहने वाला सुरेश पाल ऑटो चलाता था। पल्लवपुरम थाना क्षेत्र के दूल्हैड़ा गांव में रहने वाले रविंद्र के मुताबिक, 2 महीने पहले ही उसकी सुरेश से मुलाकात हुई थी। सुरेश ने उसके घर में एक कमरा किराए पर लिया था। पिछले 2 महीने से सुरेश अपनी पत्नी शालू के साथ यहां रह रहा था।
खिड़की से देखा खौफनाक नजारा
शुक्रवार की सुबह लगभग साढ़े नौ बजे मकान मालिक रविंद्र अपने पशुओं को चारा डालने के लिए घर में गया था। इस दौरान उसने सुरेश के कमरे का दरवाजा भीतर से बंद देखा। सुबह के साढ़े नौ बज जाने के बावजूद कमरे में कोई हलचल ना होती देख रविंद्र का माथा ठनका। इसके बाद उसने खिड़की से भीतर झांका तो कमरे में पंखे से सुरेश का शव लटका हुआ देख उसके होश उड़ गए। रविंद्र ने घटना की जानकारी तत्काल पुलिस को दी। कमरे का दरवाजा तोड़कर भीतर दाखिल हुई पुलिस भी कमरे का खौफनाक मंजर देख कर हैरान रह गई। कमरे में जहां पंखे से सुरेश का शव लटका हुआ था, वहीं, जमीन पर उसकी पत्नी शालू की खून से लथपथ लाश पड़ी थी। सुरेश के शरीर पर जहां सिर्फ पैंट थी वहीं, महिला का शव पूरी तरह नग्न था। पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इसी के साथ फॉरेंसिक की टीम ने भी कमरे में घंटों तक जांच-पड़ताल की। कमरे में शराब का एक खाली क्वार्टर बरामद हुआ। मकान मालिक रविंद्र ने पुलिस को बताया की दंपती के दो बच्चे भी हैं जो गांव में सुरेश के भाई के घर पर रहते हैं। एसपी क्राइम राम अरज ने बताया कि पहली नजर में क्राइम सीन को देखकर ऐसा लग रहा है कि दंपती के बीच किसी बात को लेकर विवाद हुआ होगा। इसके बाद आवेश में आकर सुरेश ने अपनी पत्नी की हत्या कर दी और बाद में खुद भी फांसी लगाकर जान दे दी। इस मामले में मृतकों के परिजनों द्वारा थाने में कोई तहरीर नहीं दी गई है।