किसान यूनियन के धरने में गले में फांसी का फंदा डालकर पहुंचा किसान, सरकार को दी चेतावनी



  • किसान यूनियन के धरने में एक किसान गले में फांसी का फंदा डालकर पहुंचा

  • अगर बिल वापस नहीं लिया गया तो इसी फंदे से लटककर जान दे देंगे: किसान

  • शाहजहांपुर के चौक कोतवाली क्षेत्र के नैशनल हाईवे-24 पर चांदापुर चौराहे के पास हो रहा था प्रदर्शन


शाहजहांपुर। पूरे देश में शुक्रवार को कृषि बिलों को लेकर किसान यूनियन ने हाईवे पर जाम लगाया। उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में प्रदर्शन के दौरान एक हैरान करने वाला दृश्य देखने को मिला। नैशनल हाईवे-24 पर किसान यूनियन के धरने में एक किसान गले में फांसी का फंदा डालकर पहुंचा। बेहद गुस्से में नजर आने वाला यह किसान सरकार पर जमकर बरसा और कृषि बिल का विरोध किया। किसान का कहना था कि सरकार ने बिल पास करके किसानों को मार दिया, इसलिए जो किसान जिंदा बचे हैं, वह इसी तरह से फांसी के फंदे से अपनी जान दे देंगे। अगर बिल वापस नहीं लिया गया तो वह भी इसी फंदे से लटककर जान दे देगा। चौक कोतवाली क्षेत्र के नैशनल हाईवे-24 पर चांदापुर चौराहे के पास शुक्रवार को सैकड़ों की तादाद में किसान यूनियन से जुड़े किसानों ने पहुंचकर हाईवे पर कब्जा कर लिया। तभी धरना प्रदर्शन का हिस्सा बनने के लिए करनैल सिंह नाम का किसान भी पहुंच गया। लेकिन उसका विरोध जताने का अंदाज सबसे अलग था, उसके अंदाज में चेतावनी भी थी और गुस्सा भी।
किसान के पूछे घूमते रहे पुलिसवाले
किसान के गले में मोटी रस्सी का फांसी का फंदा पड़ा था। पहले तो उस किसान ने पीएम मोदी और सीएम योगी पर बिल पास करने को लेकर अपना गुस्सा निकाला। गले में फंदा देखकर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मचा और किसान के आगे पीछे एलआईयू से लेकर पुलिस प्रशासन के कर्मचारी घूमते रहे। किसान ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर कृषि बिल वापस नहीं लिया गया तो इसी फंदे से लटककर वह अपनी जान दे देगा।