कृषि बिल के खिलाफ गाजियाबाद में किसानों का चक्का जाम, यूपी बॉर्डर छावनी में तब्दील


गाजियाबाद ब्यूरो। किसान बिल का विरोध करते हुए देशभर में किसानों ने चक्का जाम का ऐलान किया है। गाजियाबाद में भी कई जगह और तहसील मोदीनगर में भी किसानों ने सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए चक्का जाम किया। हालांकि सुरक्षा की दृष्टि से प्रशासनिक अधिकारी जगह- जगह पूरी तरह मुस्तैद दिखे ।खासतौर से दिल्ली और गाजियाबाद का यूपी गेट हमेशा से ही संवेदनशील रहा है। यहां भी गाजियाबाद की तरफ पुलिस के जवान मुस्तैद हैं। तो वहीं बॉर्डर पर ही दिल्ली की तरफ दिल्ली पुलिस भी पूरी तरह मुस्तैद है। इस दौरान यूपी बॉर्डर छावनी में तब्दील दिखा। दिल्ली-गाजियाबाद के यूपी बॉर्डर को संवेदनशील मानते हुए खुद गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे और एसएसपी कलानिधि नैथानी के अलावा तमाम प्रशासनिक अधिकारी मौके पर मौजूद रहे। जिससे बॉर्डर पर किसी तरह की गड़बड़ी ना हो सके । सुरक्षा की दृष्टि से गाजियाबाद में प्रशासनिक अधिकारियों को जानकारी मिलने के बाद सेक्टर स्कीम लागू की गई है। संवेदनशील इलाकों में बड़ी संख्या में स्थानीय पुलिस और आरएएफ के अलावा पीएसी के जवान भी तैनात किए गए हैं।
प्रशासन हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार
इस मामले की जानकारी देते हुए एडीएम सिटी शैलेंद्र कुमार सिंह और एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि आज किसानों के द्वारा चक्का जाम किए जाने की सूचना प्राप्त हुई थी, जिसे गंभीरता से लेते हुए जनपद में जिलाधिकारी के आदेश पर सेक्टर स्कीम लागू की गई है । हर सेक्टर में मजिस्ट्रेट भी मौजूद हैं। सुरक्षा की दृष्टि से भारी पुलिस बल भी तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि वह किसी भी हाल में माहौल खराब नहीं होने देंगे। प्रशासन हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है।