महिला ने लगाया गैंगरेप का आरोप, पुलिस ने दर्ज की मारपीट की शिकायत


शाहजहांपुर।  यूपी के शाहजहांपुर में एक महिला ने चार लोगों पर आरोप लगाया है कि उन्‍होंने उसके घर में घुसकर गैंगरेप किया। इतना ही नहीं उसके बाद मारपीट कर निर्वस्त्र कर घर के बाहर फेंक दिया। महिला ने थाने में तहरीर दी, लेकिन मुकदमा महज छेड़छाड़ और मारपीट की धाराओं में दर्ज किया गया है। पुलिस का कहना है कि 2 दिन पहले दोनों पक्षों में मारपीट हुई थी, जिसके बाद महिला ने गैंगरेप का आरोप लगाया है। फिलहाल घटना की जांच की जा रही है। घटना थाना कलान क्षेत्र की है। यहां की रहने वाली महिला ने गांव के चार लोगों पर बेहद गंभीर आरोप लगाए हैं। आरोप है कि शुक्रवार के दिन जब महिला के पति कहीं काम से बाहर गए थे, तभी गांव के ही रहने वाले 4 लोग जबरन घर में घुस आए और उसके बाद गैंगरेप किया। आरोपियों का इतने से भी मन नही भरा तब उसके साथ मारपीट की गई, कपड़े फाड़े गए और उसके बाद निर्वस्त्र कर घर के बाहर फेंककर फरार हो गए। गांववालों ने जब घटना की जानकारी पति को दी तब पति ने डायल 112 पर फोन किया। मौके पर पहुंची पुलिस पीड़ित महिला को थाने ले गई, जहां महज छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी। हालांकि महिला ने आरोप गैंगरेप का भी आरोप लगाया था, लेकिन पुलिस ने बिना जांच के, बिना मेडिकल कराए ही बता दिया कि गैंगरेप का आरोप बिल्कुल गलत है। इस मामले में थाना प्रभारी दिलीप कुमार सिंह भदौरिया ने बताया कि, 'गैंगरेप का आरोप बिल्कुल गलत है। थाने में छेड़छाड़ की तहरीर दी गई थी, उसी के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही है। वैसे जांच में पता चला कि, घटना आपसी रंजिश की है, जिस महिला ने आरोप लगाया है, उस महिला के बेटे ने आरोपी की बेटी से छेड़छाड़ की थी। तब दूसरे दूसरे पक्ष ने थाने न आकर महिला के साथ मारपीट की थी। महिला की तहरीर के आधार पर छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।