महोबा के सस्पेंड एसपी के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर, भ्रष्टाचार की जांच में जुटी एजेंसियां


महोबा। उत्‍तर प्रदेश में बुधवार को सस्पेंड किए गए महोबा के एसपी मणिलाल पाटीदार के खिलाफ अब मुकदमा दर्ज कराया गया है। मणिलाल पाटीदार के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और आईपीसी की धारा 384 के तहत केस दर्ज किए गए हैं। ये एफआईआर लखनऊ के नीतीश पांडेय की शिकायत पर दर्ज की गई है। पी.पी. पांडेय इंफ्रास्ट्रक्चर प्रा. लिमिटेड के निदेशक नीतीश पांडेय की ओर से दी गई तहरीर के आधार पर पूर्व एसपी मणिलाल पाटीदार, चरखारी थाने के निरीक्षत राकेश कुमार सरोज और खरेला के उप निरीक्षक राजू सिंह के खिलाफ महोबा की नगर कोतवाली में केस दर्ज किया गया है। 
विजिलेंस को दोनों निलंबित अफसरों की जांच के आदेश
इससे पहले योगी सरकार ने महोबा के पूर्व एसपी मणि लाल पाटीदार और प्रयागराज के पूर्व एसएसपी अभिषेक दीक्षित के खिलाफ विजिलेंस से जांच कराने का आदेश दिया था। योगी सरकार ने दोनों निलंबित अफसरों की संपत्तियों की जांच का आदेश देते हुए कार्रवाई करने की बात कही है। इसके अलावा दोनों अफसरों के साथ भ्रष्टाचार में संलिप्त पुलिस अधिकारियों की भी जांच कराने और उन्हें दंडित करने का आदेश दिया गया है।
पुलिस मुख्‍यालय से अटैच आईपीएस
गौरतलब है कि प्रयागराज के एसएसपी अभिषेक दीक्षित को भी बीते दिनों पोस्टिंग में भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद निलंबित किया गया था। अभिषेक दीक्षित और मणिलाल पाटीदार को सस्पेंड करने के बाद पुलिस मुख्यालय के अटैच किया गया है। अब आगे इन दोनों अधिकारियों के खिलाफ जांच का आदेश दिया गया है।