मेरठ जिले में महिला के साथ बस में हुई गैंगरेप की घटना का हुआ सनसनीखेज खुलासा


मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में शनिवार को ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में महिला के साथ बस में हुई गैंगरेप की घटना का सनसनीखेज खुलासा हुआ है। पुलिस ने इस मामले में महिला के प्रेमी बर्खास्त फौजी को गिरफ्तार किया है। आरोपी का एक साथी फरार है। जिसकी तलाश जारी है। एसपी क्राइम ने बताया कि महिला के पति से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि महिला की पहले भी दो शादी हो चुकी हैं। वह उसका तीसरा पति है। पुलिस के मुताबिक, महिला के पति का कहना है कि महिला को शराब पीने की लत है। इसके साथ उसकी पत्नी पहले भी कई बार बिना किसी को बताए घर से जा चुकी है। महिला के पति ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर भी उसकी पत्नी बिना किसी को बताए मिर्जापुर स्थित अपने मायके जाने के लिए घर से निकली थी। इसके बाद उसने महिला के मोबाइल पर कई कॉल कीं, लेकिन हर बार महिला कॉल काटती रही।
मोबाइल की कॉल डीटेल ने खोला राज
पुलिस के मुताबिक महिला के मोबाइल की कॉल डीटेल निकलवाई गई। इसके बाद खुलासा हुआ पिछले कई महीनों से महिला जानी क्षेत्र के निवासी सुनील चौधरी से फोन पर बात करती थी। शुक्रवार की दोपहर मेरठ पहुंचने के बाद भी महिला ने सुनील को ही कॉल किया था। इसके बाद महिला और सुनील के मोबाइल की लोकेशन कई घंटों तक एक जगह पाई गईं। इस पर पुलिस ने सुनील को हिरासत में लिया तो उसने सच्चाई उगल दी।
महिला का प्रेमी है आरोपी
सुनील ने पुलिस को बताया कि वह बर्खास्त फौजी है। फिलहाल वह रोडवेज की अनुबंधित बस का चालक है। सुनील और महिला के बीच पिछले काफी समय से अवैध संबंध थे। शुक्रवार को भी अपने घर से निकल कर मेरठ पहुंचने के बाद महिला ने सुनील को कॉल किया। इसके बाद सुनील अपने साथी कंडक्टर अरविंद को बस में साथ लेकर महिला के पास पहुंचा।
शराब पीने के बाद महिला से किया गैंगरेप
सुनील ने बताया कि तीनों लोग देवलोक कॉलोनी स्थित एक मकान में गए। जहां तीनों ने बैठकर शराब पी। इसके बाद महिला बेसुध हो गई तो सुनील और उसके साथी अरविंद ने महिला की सहमति से ही उसके साथ संबंध बनाए। मगर, जब शनिवार की सुबह तक महिला को होश नहीं आया तो दोनों आरोपी उसे दिल्ली रोड पर फेंककर फरार हो गए।
आरोपी सुनील गिरफ्तार, साथी की तलाश जारी
एसपी क्राइम रामअर्ज ने बताया कि महिला की ओर से दर्ज कराए गए गैंगरेप के मुकदमे में आरोपी सुनील को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं, उसके साथी अरविंद की तलाश जारी है।
निर्भया कांड से जोड़कर हाईलाइट हुआ था मामला
बताते चलें शनिवार की सुबह सरधना क्षेत्र निवासी महिला दिल्ली रोड पर बेहोश मिली थी। पुलिस की ओर से जिला अस्पताल में भर्ती कराए जाने के बाद होश में आई महिला ने एक बस चालक और कंडक्टर पर खुद के साथ गैंगरेप का आरोप लगाया था।
घटना को लेकर हो रही थी पुलिस की फजीहत
महिला का आरोप था कि वह मिर्जापुर स्थित अपने मायके जाने के लिए बस में सवार हुई थी। जहां ड्राइवर और कंडक्टर ने नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर बस में उसके साथ गैंगरेप किया। बस में गैंगरेप की घटना को निर्भया कांड से जोड़ते हुए पुलिस की इस मामले में काफी फजीहत हुई थी। इसके बाद पुलिस लगातार इस घटना के खुलासे में एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए थी।