पार्क में आकाश बनकर लड़की के साथ बैठा था युवक! पकड़े जाने पर नाम बताया आदिल


कानपुर ब्यूरो। कानपुर में लगातार लव जिहाद के आरोप लग रहे हैं। इन सबके बीच हिंदूवादी संगठन भी सक्रिय हो गए हैं। सोमवार को एक युवक नाबालिग लड़की को लेकर पार्क में बैठा था। हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने प्रेमी जोड़े को पकड़ लिया। जब युवक से उसका नाम पूछा गया तो उसने नाम आकाश शर्मा बताया। आरोप है कि युवक अपनी धार्मिक पहचान छिपाने लगा। कार्यकर्ताओं ने जब उससे सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना आदिल बताया। मौके पर पहुंची पुलिस प्रेमी जोड़े को थाने पकड़कर ले आई। बाबूपुरवा कोतवाली क्षेत्र में रहने वाले आदिल खान का श्यामनगर की एक 16 साल की लड़की से अफेयर चल रहा था। हिंदूवादी संगठन का आरोप हे कि आदिल खान अपनी धार्मिक पहचान छिपाकर अपना नाम आकाश बता रहा था। आदिल लड़की को प्रेम जाल फंसाकर धीरे-धीरे ब्रेनवॉश करने का काम कर रहा है। यदि इन्हे समय रहते नहीं रोका गया तो बहुत ही जल्द इनकी प्रेम कहानी लव जिहाद में तब्दील हो जाएगी। हिंदू जागरणमंच के महानगर अध्यक्ष अमित चौहान के मुताबिक आज हम लोगों ने एक गैर समुदाय के युवक को एक नाबालिग लड़की के साथ पकड़ा है। जब हमने उसे पकड़ा तो उसने अपना नाम आकाश बताया लेकिन उसपर दबाव बनाया गया तो उसने अपना नाम आदिल बताया। कानपुर में धर्मांतरण का खेल चल रहा है, यह बहुत ही संवेदनशील विषय है कानपुर के लिए। शहर में कोई ऐसा संगठन सक्रिय है, जो सुनियोजित तरीके से धर्म परिवर्तन कराने का काम कर रहा है, लगातार महिलाओं और बच्चियों को साजिश का शिकार बना रहे हैं। हिंदू जागरण मंच का कहना है, 'हम लोग लव जिहाद की पीड़िताओं और परिवार से मुलाकात कर रहे हैं। हम लोगों ने देखा है कि इस तरह से उनका ब्रेनवॉश कर दिया जा रहा है कि वो किसी बात को सुनने को तैयार नहीं हैं। इसमें तंत्र-मंत्र का भी प्रयोग किया जा रहा है। लड़की नाबालिग है और हम लोग लड़के के खिलाफ एफआईआर कराकर ही जाएंगे।' आदिल ने बताया कि जहां पर भी असली नाम बताता हूं, वहीं पर मार खाता हूं। एक बार मैं पार्क में अपने फ्रेंड के साथ बैठा था। वहां पर असली नाम बताया था, लोगों ने पीटा था। इसलिए मैंने अपना नाम आदिल न बताकर आकाश बताया था। मैंने कोई गलत काम नहीं किया है। किदवई इंस्पेक्टर धनेश कुमार के मुताबिक लड़के और लड़की के परिवार को थाने बुलाया गया है। लड़की नाबालिग है, यदि लड़की के परिजन तहरीर देते हैं तो विधिक कार्रवाई की जाएगी।