सलमान को धमकी देने वाले गैंगस्टर लॉरेंस के भाई के पास जोधपुर सेंट्रल जेल में मिला मोबाइल,



  • जोधपुर सेंट्रल जेल में लॉरेंस बिश्नोई के भाई के पास मिला मोबाइल

  • जोधपुर सेंट्रल जेल में 1 बार फिर मोबाइल मिलने से हड़कंप

  • खुली सेंट्रल जेल के सुरक्षा के दावों की पोल

  • जेल अभिरक्षा में बंद कैदी व लॉरेंस के भाई अनमोल के पास मिला मोबाइल


जोधपुर। जोधपुर सेंट्रल जेल में 1 बार फिर मोबाइल मिलने के बाद जेल के सुरक्षा के दावे की पोल खुल गई है। उल्लेखनीय है कि जेल अभिरक्षा में बंद कैदी व लॉरेंस बिश्नोई के भाई अनमोल बिश्नोई जेल निषिद्ध क्षेत्र में मोबाइल का उपयोग करते पाया गए हैं। आपको बता दें कि अनमोल बिश्नोई पंजाब, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान एवं चंडीगढ़ के कुख्यात गैंगस्टर लारेंस बिश्नोई का छोटा भाई है। वहीं अनमोल भी कई आपराधिक मामले में लिप्त बताया जाता है।
पुलिस ने जांच की शुरू
अनमोल विश्नौई के खिलाफ जेल प्रशासन ने रातानाडा थाना में एफआईआर दर्ज करवाई है। यह एफआईआर सेंट्रल जेल कार्यपाल संतरी ने दर्ज करवाई थी। इस पर रातानाडा थाना ने कारागार संशोधित अधिनियम 2019 की धारा 42 में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की है। रातानाडा थाना के सहायक उपनिरीक्षक मनोहर सिंह इस मामले की जांच कर रहे हैं। मोबाइल कहां से और कैसे आया, इस संबंध में जानकारी जुटाई जा रही है।
कैदी के गप्तांग से निकला था मोबाइल
उल्लेखनीय है कि जोधपुर सेंट्रल जेल कुछ दिन पूर्व ही उस समय चर्चा में आ गया था जब एक कैदी अपनी गुदा में 6 मोबाइल छुपाकर जेल में ले गया था। इस कैदी ने दो मोबाइल तो जेल में बाहर निकाल लिए लेकिन 4 मोबाइल उसके शरीर में ही फस गए तबीयत खराब होने के बाद उसे जोधपुर के मथुरादास माथुर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां ऑपरेशन के बाद 4 मोबाइल निकाले गए। यह बताया जा रहा है कि जो दो मोबाइल जेल में उसने निकाल लिए थे , उसे जेल प्रशासन बरामद नहीं कर पाया था। ऐसे में यह भी कयास लगाया जा रहा है कि संभवत यह मोबाइल वही है।