समीर बन की शादी, तलाक के बाद बना अतीक, घर से 50 लाख के ब्लैंक चेक और बड़े नेताओं के लेटर पैड मिले


सतना। एमपी के सतना जिले से गिरफ्तार समीर खान के बारे में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। कथित कांग्रेस नेता समीर खान की गिरफ्तारी के बाद कई हिला देने वाले खुलासे हुए हैं। समीर ने धर्म परिवर्तन कर हिंदू लड़की से शादी भी की थी। शादी के बाद समीर उर्फ सिकंदर ने उसके साथ भी दगाबाजी की है। इसके ठिकानों से फर्जीवाड़े के विभिन्न दस्तावेज जब्त होने के बाद पुलिस ने 4 और केस दर्ज किए हैं। सतना पुलिस को इसके पास 2 पैन कार्ड भी मिले हैं। एक में इसका नाम समीर खान है और दूसरे में अतीक मंसूरी है। इसके साथ ही बीजेपी के कद्दावर नेता कैलाश विजयवर्गीय के नाम से फर्जी लेटर पैड भी यह बनवाए हुए था। इस सनसनीखेज मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित कर दी गई है। सतना एसपी रियाज इकबाल ने बताया कि समीर खान उर्फ सिकंदर उर्फ अतीक मंसूरी उर्फ गिनी के विरुद्ध चार और मुकदमे सतना शहर की सिटी कोतवाली और कोलगवां थाना पुलिस ने दर्ज किए हैं। इनमें से एक मुकदमा फर्जी तरीके से पासपोर्ट और शस्त्र लाइसेंस हासिल करने का है। साथ ही 2 मामले सूदखोरी के हैं। इसके घर से कई बड़े नेताओं के लेटर पैड मिले हैं। बताया जा रहा है कि यह इन लेटर पैड का इस्तेमाल रेलवे टिकट के लिए करता था। आरोपी के पास से बीजेपी नेता कैलाश विजयवर्गीय, पूर्व विधायक शंकरलाल तिवारी, सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा, सांसद गणेश सिंह, सीधी सांसद रीति पाठक, पूर्व विधायक नीलम अभय और यादववेंद्र सिंह के हैं। 
2011 में हिंदू लड़की से की शादी
आरोपी अतीक मंसूरी उर्फ सिकंदर ने वर्ष 2011 में सतना की एक हिंदू लड़की से आर्य समाज मंदिर, हिमगिरि एन्केलव, मुकुंदपुर- 2 नई दिल्ली में शादी की थी। इसके लिए उसने धर्म परिवर्तन किया था। वह हाई सिक्योरिटी वाले मोबले हैंडसेट का उपयोग करता था। नाबालिग लड़की से चल रहे विवाद के कारण उसने अपने फोन फॉर्मेट कर दिए थे। पुलिस ने उसके फोन, लैपटॉप, हार्ड डिस्क और डीवीआर जब्त कर लिए हैं। अब कोशिश की जा रही है कि डाटा रिकवर कराया जा सके। उसके पास लाखों के ब्लैंक चेक भी मिले हैं। ऐसे में एसआईटी उसके बैंक खातों से संबंधित दस्तावेज की भी जांच करेगी। पुलिस को बैंक खातों और लॉकर के बारे में भी पता चला है। इन खातों से ट्रांजेक्शन की जांच की जा रही है। इसके पास से 50 लाख रुपये के जो ब्लैंक चेक मिले हैं, उनमें अधिकांश महिलाओं के बैंक खाते के हैं। आरोपी सूदखोरी का भी धंधा करता था।
अवैध तरीके से बनाया फॉर्म हाउस
आरोपी का नजीराबाद स्थित फॉर्म हाउस भी अवैध रूप से बनाया गया है। उसकी जमीन के कागजात तो वैध है, लेकिन निर्माण अवैध है। इस संबंध में नगर निगम आयुक्त को पत्र लिख कर अवैध निर्माण पर वैधानिक कार्रवाई करने की सिफारिश की गई है। कलेक्टर सतना से भी आरोपी की अन्य संपत्तियों की जांच करा कर कार्रवाई करने का आग्रह किया गया है। एसपी की इस सिफारिश के बाद माना जा रहा है कि आरोपी का फॉर्म हाउस अगले दो–चार दिनों में ध्वस्त किया जा सकता है।
अलग-अलग धाराओं के तहत केस दर्ज
नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी सिकंदर उर्फ समीर उर्फ अतीक के खिलाफ 4 नई FIR हुई है। आईपीसी की 420, 467, 468, 471 के तहत मामला दर्ज हुआ है। आरोपी के 2 अलग-अलग नामों से पैन कार्ड और 3 नामों से अन्य दस्तावेज मिले हैं। इसके साथ ही 2011 में दिल्ली में धर्म परिवर्तन कर हिंदू लड़की से शादी किया। फिर 2017 में तलाक दे दिया, फर्जी दस्तावेजों के आधार पर गन लाइसेंस बनवाया और फर्जी दस्तावेजों के आधार पर पासपोर्ट भी बनवाया है।