थाना सिहानीगेट पुलिस द्वारा फर्जी पुलिसकर्मी बनकर धोखाधड़ी करने वाले गैंग का भंडाफोड़


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। एनसीआर में सोशल मीडिया के माध्यम से फेसबुक मैसेंजर पर लोगों से दोस्ती कर फ्लैट पर बुलाया करती थी । उसके साथ अश्लील फोटो खींचवा कर जोर से चीखने लगती जिसके डर से पैसों को लूट लिया जाता था। यदि पैसे ना दिए जाने पर अपनी साथी को फोन कर नकली पुलिस बनकर पहुँच जाता था और उस लूट में सहयोग किया करता था । जिसके चलते थाना सिहानी गेट पुलिस को इस गिरोह का पर्दाफाश करने में सफलता हासिल हुई है। एसएसपी गाजियाबाद कलानिधि नैथानी के द्वारा चलाए जा रहे अभियान में एसपी सिटी अभिषेक वर्मा के नेतृत्व में जालसाज जावेद निवासी मुस्तफाबाद दिल्ली मधुमिता उर्फ जोया पत्नी साजिद उर्फ आकाश राणा को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में अभियुक्तों ने बताया कि मैं पूजा व स्मृति नाम की फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट हाई प्रोफाइल लोगों को भेजा करते थी। फेसबुक पर लोगों से मैसेंजर पर चैटिंग करने के बाद फोन नंबर लेकर उनसे फोन पर बातें करके उन्हें फ्लैटों पर बुलाते थे और उनके साथ फोटो खींचने के बाद जावेद नामक अभियुक्त पुलिस की वर्दी पहन कर वहां आता था ,उस वक्त जो भी कस्टमर पर मिलता था, सब को लूट लिया करते थे। यह गिरोह एनसीआर क्षेत्र में न जाने कितने लोगों को अपना निशाना बना चुका है। मामला जब खुला जब एक दिल्ली निवासी व्यक्ति ने इन लोगों की शिकायत सिहानी गेट थाने में की दोनों अभियुक्तों पर मुकदमा दर्ज कर कोर्ट के समक्ष पेश करने के लिए भेज दिया गया।