वजीराबाद पुलिस ने एक युवक की हत्या में भाई-बहन और उनके साथी को किया गिरफ्तार


वजीराबाद,(दिल्ली)। वजीराबाद पुलिस ने एक युवक की हत्या में भाई-बहन और उनके एक साथी को गिरफ्तार किया है। तीनों को यूपी से गिरफ्तार किया गया। मृतक और लड़की दोस्त थे। पकड़े गए आरोपियों की पहचान शाहजहांपुर निवासी 24 वर्षीय वर्षा, उसका भाई 23 वर्षीय आकाश और शास्त्री पार्क निवासी आकाश का दोस्त 20 वर्षीय अली के रूप में हुई है। पूछताछ में वर्षा ने आरोप लगाया कि उसका बॉयफ्रेंड 24 वर्षीय साहिल उर्फ राजा शराब के नशे में उसके भाई के सामने ही गलत हरकत कर रहा था। इसी बात पर तीनों ने मिलकर बेल्ट से गला घोटकर उनकी हत्या कर दी। बाद में साहिल के शव को उनके घर के पास वजीराबाद में फेंक आए। उसका मोबाइल, पर्स और हेल्मेट यमुना में फेंक दिया। वारदात के बाद तीनों आरोपी हरदोई अपने एक दूर के रिश्तेदार के घर छिपे हुए थे। वजीराबाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और लोकल इंटेलिजेंस के जरिए पकड़ा। साहिल प्राइवेट जॉब करते थे। आरोपी लड़की भी पहले प्राइवेट जॉब करती थी। वह अपने भाई के साथ शास्त्री पार्क में किराए का कमरा लेकर रहती थी। डीसीपी एंटो अल्फोंस के मुताबिक, 11 सितंबर को गली नंबर-9, वजीराबाद से एक अज्ञात युवक का शव बरामद हुआ था। युवक के गले पर निशान थे। पुलिस ने वॉट्सऐप ग्रुप के जरिए किसी तरह मृतक की पहचान वजीराबाद निवासी साहिल उर्फ राजा के रूप में की। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में गला घोंटकर हत्या की बात सामने आई। पुलिस ने घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली। जांच के दौरान पुलिस को घटना स्थल के पास एक संदिग्ध ऑटो दिखाई दिया। पुलिस वजीराबाद के रहने वाले ऑटो ड्राइवर रवींद्रपाल तक पहुंच गई। पूछताछ के दौरान रवींद्र ने बताया कि घटना वाली रात उसका ऑटो भगत विहार निवासी मुकेश के पास था। मुकेश से पूछताछ की गई तो उसने पुलिस को बताया कि घटना वाली रात को तड़के चार बजे एक युवती और दो युवकों ने एक बीमार आदमी को शास्त्री पार्क स्थित जग प्रवेश चंद अस्पताल से वजीराबाद लाने की बात की थी। तीनों ने उससे कहा था कि अस्पताल में मरीज ‌को बेड नहीं मिला। वह उन्हें घर छोड़ ‌दे। घटना वाले दिन वह युवक और तीनों को वजीराबाद छोड़कर चला गया। पुलिस फौरन जगप्रवेश चंद अस्पताल पहुंची, वहां की सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई। उसमें आरोपी कैद हुए थे। परिजनों को सीसीटीवी फुटेज दिखाई गई तो परिवार ने महिला की पहचान साहिल की प्रे‌मिका वर्षा के रूप में की। पुलिस की टीम फौरन शास्त्री पार्क उसके घर पहुंची तो वहां ताला लगा मिला। वर्षा के मोबाइल की लोकेशन ट्रेस की गई। उसकी आखिरी लोकेशन शाहजहांपुर (यूपी) की मिली। पुलिस की टीम ने शाहजहांपुर से वर्षा और उसके भाई आकाश और दोस्त अली को हरदोई से गिरफ्तार कर लिया। कई सालों से वर्षा और साहिल एक दूसरे से प्यार करते थे। 10 सितंबर की रात को साहिल शराब की बोतल लेकर वर्षा के घर पहुंचा। वहां सभी ने एकसाथ बैठकर शराब पी। नशे में साहिल, आकाश और वहां मौजूद अली के सामने ही वर्षा से गलत हरकत करने लगा।