विजयनगर थाने में शख्‍स ने कर ली थी आत्महत्या, एसएचओ समेत चार पुलिसकर्मी निलंबित


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। थाना विजयनगर में पुलिस हिरासत में शख्स की मौत के मामले में थाना अध्यक्ष देवेंद्र बिष्ट, मुख्य आरक्षी मोहर सिंह, कॉन्स्टेबल अमित कुमार और आरक्षी हरीश तिवारी को लापरवाही बरतने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक ने इस मामले की जांच पुलिस अधीक्षक नगर को सौंप दी है। हालांकि मृतक के परिवार की तरफ से पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोई तहरीर नहीं दी गई है। एसपी सिटी अभिषेक वर्मा ने बताया कि मदीना मस्जिद मवई में रहने वाली तमन्ना नाम की एक महिला ने 112 नंबर पर सूचना दी कि उसका पति शराब पीकर मारपीट कर रहा है । मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी महिला के पति शमशेर को थाने ले आए। शमशेर की पत्नी द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर मामला दर्ज किया गया। इसी दौरान शमशेर ने लॉकअप के गेट से लटककर आत्महत्या करने का प्रयास किया। उसे तत्‍काल अस्‍पताल ले जाया गया पर उसकी मौत हो गई। इस मामले में शमशेर के भाई इरफान ने भी तमन्ना के खिलाफ एक तहरीर दी है। इसमें बताया गया है कि शमशेर को उसकी पत्नी लगातार प्रताड़ित करती थी। पत्नी से परेशान होकर उसने थाने में फांसी लगाई है । तहरीर के आधार पर यह मामला भी दर्ज किया गया है । एसपी सिटी ने बताया कि शमशेर के परिजनों द्वारा पुलिस के खिलाफ किसी भी कार्रवाई किए जाने से इनकार किया गया है। फिर भी इस पूरे मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी ने थाना अध्यक्ष और तीन अन्य पुलिस कर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।