आगरा में नाबालिग से गैंगरेप मामले में नया मोड़, बहला-फुसलाकर ले जाने की दी तहरीर


आगरा ब्यूरो। यूपी के हाथरस और बलरामपुर जिले में गैंगरेप की वारदात पर देशभर में आक्रोश है। रेप की घटनाओं पर सवाल उठ रहे हैं। इस बीच आगरा में भी एक नाबालिग से गैंगरेप की बात भी सामने आई। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है। अब इस मामले में नया मोड़ आ गया है। देर रात तक सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाने वाले नाबालिग के परिवारवालों ने गांव के ही एक युवक पर नाबालिग बेटी को बहला-फुसलाकर ले जाने की तहरीर दी है। पुलिस ने आरोपी पर 363/366 और धारा 7/8 पॉक्सो ऐक्ट में मुकदमा दर्ज कर पीड़िता का मेडिकल कराया है। पुलिस का कहना है कि आरोपी को पकड़ने के प्रयास किए जा रहे हैं। मेडकिल रिपोर्ट के बाद अगर सेक्स संबंधी बात सामने आएगी तो पुलिस मुकदमे में धाराएं बढ़ाएगी। नाबालिग के परिवारवालों ने इस मामले में पुलिस से शिकायत की थी। इसके बाद पुलिस ने किशोरी को अस्पताल में भर्ती कराया है। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। हाथरस की घटना को लेकर आगरा में भी जगह-जगह वाल्मीकि समाज के प्रदर्शनों का दौर जारी है। बालिका की हालत बिगड़ने पर युवक उसे छोड़कर फरार हो गए। जानकारी के मुताबिक फतेहपुर सीकरी थाना क्षेत्र के एक गांव की 13 वर्षीय किशोरी शाम साढ़े पांच बजे शौच के लिए घर से बाहर गई थी। काफी देर तक वापस न आने पर परिवारवालों ने उसे तलाशने का प्रयास किया। इसी बीच गांव के ही युवक से जानकारी मिली कि किशोरी धर्मशाला में चारपाई पर बुरी हालत में पड़ी है। परिवारवालों ने पुलिस को घटना की सूचना दी।इससे पहले पीड़िता ने बताया था कि शौच के बाद वापस आते समय गांव का ही नितिन उसे बहाने से बाइक पर बिठाकर ले गया। गांव के पास धर्मशाला में ले जाकर उसने और उसके दोस्तों ने नाबालिग के साथ बलात्कार किया। तबीयत बिगड़ने पर लोग उसे वहीं चारपाई पर फेंककर फरार हो गए। सीओ अछनेरा अभिषेक कुमार के अनुसार परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है। पीड़िता का इलाज और मेडिकल परीक्षण कराया जा रहा है।