बल्लभगढ़ में कॉलेज से निकल रही छात्रा की हत्या में लव जिहाद ऐंगल?


फरीदाबाद। बल्लभगढ़ में कॉलेज से निकल रही छात्रा की सोमवार को सरेआम हत्या के मामले में अब नया मोड़ आ गया है। परिजनों का आरोप है कि हत्या का आरोपी तौसीफ जबरन लड़की का धर्म परिवर्तन करवाना चाह रहा था। ऐसा करने में असफल रहने के बाद उसने पहले अपहरण करने का प्रयास किया और नाकाम रहने पर लड़की की गोली मारकर हत्या कर दी। छात्रा की हत्या से गुस्साए परिजन अब धरने पर बैठ गए हैं और कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। छात्रा के परिजनों और रिश्तेदारों ने मंगलवार को सड़क जाम भी लगा दिया। उनका आरोप है कि आरोपी युवक छात्रा निकिता पर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव डाल रहा था। जानकारी के मुताबिक, पुलिस ने दोनों आरोपी तौसीफ और रेहान को गिरफ्तार कर लिया है। रेहान को पुलिस ने हरियाणा के नूह से गिरफ्तार किया है।
धर्म परिवर्तन करवाने में नाकाम रहने पर की हत्या
छात्रा के एक रिश्तेदार हाकिम सिंह ने बताया, 'वह लड़की पर बार-बार मुस्लिम बनने के लिए दबाव डाल रहा था। तीन साल पहले भी उसने वारदात की थी लेकिन तब हमने पंच फैसले से मामला निपटा लिया था। अब लड़के ने फिर लड़की को फोन किया कि मुसलमान बन जा हम शादी कर लेंगे। लड़की ने इनकार कर दिया तो अपहरण की कोशिश की गई। अपहरण में नाकाम रहने पर गोली मारकर हत्या कर दी। प्रशासन से हमारी मांग है कि एसआईटी गठित कर मामले की जांच कराई जाए और फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामले की सुनवाई कराई जाए। बल्लभगढ़ सिटी थाना एरिया के मिल्क प्लांट रोड स्थित अग्रवाल कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा निकिता का सोमवार को कार सवार दो युवकों ने अपहरण करने का प्रयास किया था। प्रयास विफल होने पर आरोपियों ने छात्रा की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी कार में सवार होकर फरार हो गए। परिवार ने तौसीफ नाम के एक युवक पर हत्या का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी।
युवक ने पहले भी किया था छात्रा का अपहरण
परिजनों के मुताबिक, आरोपी ने 2 अगस्त 2018 को भी उनकी बेटी का अपहरण किया था। इस मामले में उन्होंने मामला भी दर्ज कराया था। मगर लोकलाज के चलते उन्होंने इस मामले में समझौता कर लिया था। परिवार का आरोप है कि अब युवक ने उनकी बेटी की जान ले ली। आरोपी मेवात के रोजका मेव गांव का रहने वाला है।