गोपालगंज पुलिस का अजब कांड, "जाना था जापान और पहुंच गई चीन"


गोपालगंज। बिहार पुलिस कई बार ऐसी उटपटांग हरकतें कर देती है जिसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ जाता है। लेकिन इस बार गोपालगंज में तो हद ही हो गई। पुलिस ने एक ऐसे घर में छापा मार दिया जहां छापेमारी करनी ही नहीं थी। जी हां... सुनने में अजीब लग रहा होगा लेकिन ये सच है। पुलिस की इस बेवकूफाना हरकत के चलते गोपालंगज के एक कारोबारी का परिवार रात भर दहशत में रहा। केस गोपालगंज के मांझागढ़ पुलिस थाने का है। का है. जिसकी हरकत की वजह से एक बेकसूर परिवार रातभर पुलिस की टोर्चेर की वजह से परेशान रहा. मामला मांझागढ़ के ब्लाक मोड़ की है। यहां मांझागढ़ पुलिस के उल्टा चश्मे की वजह से एक बेकसूर परिवार को रातभर फजीहत झेलनी पड़ी। दरअसल पुलिस को जाना था साइबर अपराधी के घर और पहुंच गई दवा व्यवसायी के घर। परिजनों ने मांझागढ़ पुलिस पर जबरन घर में दरवाजा तोड़कर घुसने और गाली गलौच करने का भी आरोप लगाया है। पीड़ित दवा व्यवसायी चिन्ताहरण प्रसाद के मुताबिक वो कल यानि 15 अक्टूबर की रात घर में अपने परिवार के साथ सोए हुए थे। इसी दौरान रात को करीब 12 बजे उनके घर की छत पर बने दरवाजे को तोड़कर पुलिस के कई जवान घर में घुस गए। यहां दरवाजा तोड़ने के बाद पुलिस छत से नीचे कमरे में घुसी। यहां भी कई दरवाजों को तोड़कर घर वालों से पूछताछ शुरू की गई। पुलिस घर के सभी कमरों में किसी मंजूर आलम नाम के शख्स को खोज रही थी। जब परिजनों ने पुलिस से कुछ पूछने की कोशिश की तब पुलिस परिजनों को रातभर टॉर्चर करती रही।