कानपुर में एक सिरफिरे युवक ने रेलवे स्टेशन-बस अड्डा उड़ाने की दी धमकी


कानपुर ब्यूरो। दशहरा और दीपावली के मद्देनजर कानपुर को हाई अलर्ट पर रखा गया है। ऐसे में शनिवार और रविवार लगातार दो दिन जब एक सिरफिरे ने रेलवे स्‍टेशन, बस अड्डा, एक नामी हॉस्पिटल और रेस्टोरेंट को बम से उड़ाने की धमकी दी तो पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया। पुलिस ने इस मामले में अरशद अली नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया है। आरोपी युवक के पास से पुलिस को राहुल सिंह ठाकुर के नाम से वोटर आईडी बरामद हुई है। पुलिस इस पूरे घटनाक्रम की जांच कर रही है। बाबूपुरवा कोतवाली क्षेत्र में रहने वाला अरशद अली (27) बीते दो दिनों से कानपुर सेंट्रल स्टेशन, झकरकटी बस अड्डा, प्राइवेट हॉस्पिल और रेस्टोरेंट को बम से उड़ाने की धमकी दे रहा था। इस कॉल के बाद से ही पुलिस की कई टीमें युवक को अरेस्ट करने के लिए लगाई गई थीं। रविवार शाम पुलिस ने आरोपी को झील एरिया से अरेस्ट कर लिया। बाबूपुरवा वही क्षेत्र है, जहां पर कुछ महीने पर सीएए और एनआरसी को लेकर हिंसक बवाल हुआ था। इसमें तीन प्रदर्शनकारियों की मौत हुई थी जबकि 2 दर्जन से ज्‍यादा घायल हो गए थे।
फर्जी आईडी की चल रही जांच
एसपी साउथ दीपक भूकर के मुताबिक, अरशद अली ने शनिवार को भी कॉल करके कहा था कि रेलवे स्टेशन, बस अड्डा, हॉस्पिटल और शांतिनिकेतन को बम से उड़ा दूंगा। यह पूरी तरह से फेक कॉल थी। रविवार को फिर इसने फोन कर पुलिस को धमकी दी। इसके पास से एक फर्जी आईडी भी बरामद हुई है। इसकी जांच की जा रही है। युवक मोबाइल फोन से कॉल कर रहा था, लोकेशन ट्रेस कर उसे धरदबोचा गया। इसकी भी जांच की जा रही है कि इसने राहुल सिंह ठाकुर के नाम से कैसे आईडी बनवाई थी? इस आईडी का कहां और कैसे इस्तेमाल कर रहा था?