सीलमपुर फ्लाईओवर पर पहले ही दिन हादसा, क्लस्टर बस की टक्कर से बाइक सवार की मौत


अभय गंगवार,(दिल्ली)। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के सीलमपुर इलाके में शनिवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सीलमपुर फ्लाईओवर का उद्घाटन किया। शनिवार रात को ही बाइक सवार हादसे का शिकार हो गया। फ्लाईओवर के शुरुआती कट पर बाइक सवार युवक को क्लस्टर बस ने रौंद डाला। टक्कर इतनी तेज थी कि मौके पर ही उसकी मौत हो गई। युवक की शिनाख्त राजकुमार (40) के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक हादसे के वक्त उसने हेलमेट पहन रखा था। हादसे के बाद चालक मौके पर बस छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने बस कब्जे में लेकर चालक की तलाश शुरू कर दी है। इससे पूर्व जब उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सिग्नेचर ब्रिज का उद्घाटन हुआ था तो वहां भी पहले ही दिन हादसा हो गया था। लगातार कई दिनों तक वहां हादसे होते रहे। पुलिस के मुताबिक राजकुमार परिवार के साथ सोनिया विहार के सभापुर एक्सटेंशन में रहता था। उसके परिवार में मां अरुणा शर्मा, पत्नी पिंकी और दो बेटे शिवम (17) और गौरव (15) है। राजकुमार आनंद विहार में एक कारोबारी की कार चलाता था। शनिवार रात करीब 10 बजे वह ड्यूटी खत्म कर वह बाइक से घर के लिए निकला। इस बीच केशव चौक होता हुआ जैसे ही वह सीलमपुर फ्लाईओवर के चढ़ने वाले कट पर पहुंचा वहां कंफ्यूज हो गया। उसने कट के पास बाइक रोक दी। वह इस दुविधा में पड़ गया कि उसे फ्लाईओवर के नीचे से जाना है या ऊपर से से जाना है। अभी वह सोच ही रहा था कि पीछे से आनंद विहार की ओर से आ रही कलस्टर बस ने राजकुमार को कुचल दिया।
परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ 
 राजकुमार की मौत से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। राजकुमार परिवार में अकेला कमाने वाला था। उसका बड़े बेटे को पैरों में दिक्कत है हाल ही में उसका ऑपरेशन हुआ है। जबकि छोटा अभी दसवीं कक्षा में पढ़ रहा है। अब परिवार को चिंता सता रही है कि उनका गुजारा कैसे होगा। राजकुमार की मां रोते-रोते बेहोश हो रही थी।


फ्लाईओवर पर बोर्ड न लगने से भ्रमित हो रहे लोग
सीलमपुर फ्लाईओवर का शनिवार को उद्घाटन तो कर दिया गया, लेकिन वहां पर उसके शुरुआत होने के बोर्ड नहीं लगाए गए। स्थानीय लोगों का कहना था कि अभी वाहन चालक भ्रमित हो रहे हैं। उन्हें पता ही नहीं चलता है कि फ्लाईओवर की शुरुआत हुई है या नहीं। यही वजह है कि लोग वहां आकर भ्रमित हो जाते हैं और कट पर अपनी बाइक या वाहन रोक देते हैं।