स्वयंसेविकाओं ने सीखे आत्मरक्षा के गुर


ग़ाज़ियाबाद ब्यूरो। एम.एम.एच. कॉलेज, गाज़ियाबाद की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा शारदीय नवरात्रि में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा व उच्च शिक्षा विभाग के आदेश के अनुपालन में  मिशन शक्ति अभियान के तहत आज दिनांक 22 अक्टूबर को महिलाओं एवं बालिकाओं की आत्मरक्षा हेतु जागरुकता के लिए कॉलेज परिसर में जूडो की कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम अधिकारी डॉ अनुपमा गौड़ ने किया। कार्यक्रम में डॉ एच के राय, डॉ ज्ञानेंद्र सिंह और डॉ श्याम बाबू कुलश्रेष्ठ ने इस विषय पर अपने विचार रखे और स्वयंसेवकों को अपना आशीर्वाद दिया। डॉ रोज़ी मिश्रा (सचिव शिक्षक संघ), श्री मनोज सिंह और कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती आरती सिंह भी उपस्थित रहे। जूडो फ़ेडरेशन ऑफ इंडिया से जुड़े ब्लैक बेल्ट ट्रेनर श्री परवेज़ अली ने अपनी टीम के साथ स्वयंसेविकाओं को जूडो कराटे के माध्यम से स्वयं को मजबूत करने की सीख दी। इस दौरान ट्रेनर ने मनचलों से बचाव के लिए हमले के बारे में जानकारी दी। कैसे छेड़खानी या हमला होने पर आप थोड़ी सूख-बूझ से काम लेने के साथ साथ अपने सामान जैसे कि चश्मा, कंघी, चिमटी, मोबाईल इत्यादि का इस्तेमाल कर बच सकती हैं। इस प्रशिक्षण के माध्यम से उन्होंने छात्राओं के अंदर आत्मविश्वास को बढ़ावा देते हुए उनको स्वयं की रक्षा के लिए प्रेरित किया। बेटियों को शिक्षा के साथ युद्ध कौशल भी सीखना चाहिए, तभी वे सुरक्षित महसूस कर सकेंगी और गलत निगाह रखने वालों को ठीक ढंग से सबक भी सिखा सकेंगी। मार्शल आर्ट से मनोबल बढ़ता है और वो विपरीत परिस्थितियों में भी समस्या का सामना कर सकती हैं।