थाना कविनगर पुलिस एवं क्राईम ब्रांच की संयुक्त टीम द्वारा घर में घुसकर अज्ञात बदमाशो द्वारा की गयी सनसनीखेज घटना का किया खुलासा


सुनील कुमार शर्मा,(गाजियाबाद)। थाना कविनगर क्षेत्र के अवंतिका कालौनी मे दिनाँक 23.09.20 हुई लूट के सम्बन्ध मे वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा घटना के अनावरण हेतु 05 टीमो का गठन किया गया। जिसमे सभी टीमो द्वारा साक्ष्य संकलन एंव तकनीकी तथा सुरागरसी के आधार पर प्रभारी निरीक्षक कविनगर एंव प्रभारी क्राईम ब्राँच गा0बाद के कुशल निर्देशन में दिनांक 02.10.20 को समय 3.00 AM बजे रेलवे क्रांसिग अवंतिका के पास से डकैती की योजना बनाते समय था। कविनगर पुलिस टीम द्वारा दो अभियुक्तो को गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तार अभियुक्तो के कब्जे से एक तमंचा 315 बोर मय कारतूस व चाकू तथा डकैती की घटना में प्रयुक्त लोहे की रौड एक कटर लोहे का ताला तोड़ने वाला सरिया एवं एक पेचकस तथा एक मोटर साईकिल चोरी की एवं घटना से सम्बन्धित नकद रूपये व ज्वैलरी तथा अन्य सामान आदि बरामद किये गये। यह अभियुक्त रेलवे ट्रेक के किनारे पाश कालोनियो में अपराध करते थे। इनके द्वारा राड, सरिया व पेचकस का प्रयोग किया जाता था तथा पिस्टल व तमंचा भी रखते थे जिसका प्रयोग लोगों को डराने व धमकाने के लिये करते थे। रात्रि मे विगत कुछ दिनो से पुलिस अधीक्षक नगर को इस गैंग की सक्रियता एवं गाजियाबाद में मौजूदगी की सूचना मिली। सूचना को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक नगर द्वारा विशेषतः कविनगर क्षेत्र में सभी पुलिस अधिकारियो एवं कर्मचारियो को विशेष टास्क देते हुए योजनाबध्द तरीके से रेलवे ट्रेक पर विशेष निगरानी एवं अपराध की रोकथाम तथा अभियुक्तो की गिरफ्तारी हेतु निर्देशित किया गया। गिरफ्तार अभियुक्त सुमन उर्फ अब्बल ने बताया कि इससे पूर्व मैंने अपने अन्य बांगलादेशी साथियो के साथ मिलकर दिल्ली,नोयडा,गाजियाबाद में चोरी व डकैती की घटनाओ को कारित किया। घटना करने से पूर्व हम लोग सुनसान जगह एवं अगल बगल में खाली पड़े प्लाट तथा रेलवे लाईन एवं नजदीकी हाईवे के आस पास घटना कारित करते है। हमने अपने अन्य तीन साथियो के साथ मिलकर दिनांक 22/23.09.2020 की रात्रि को करीब 02 के आस पास अवंतिका कालोनी में रेलव ट्रेक के पास घर में घुसकर घर में मिले तीन सदस्यो को बंधक बनाकर लूटपाट की थी। जिसमें कैश रूपये व ज्वैलरी न बताने पर घर के सदस्यो के साथ मारपीट भी की थी।लूटपाट के बाद हम लोग रेलवे ट्रेक को पार करके हाईवे पर खड़ी गाड़ी से भाग गये थे। इस घटना के दौरान हम लोग एक घण्टे से अधिक रूके थे तथा घर से मिले कैश रूपये तथा ज्वैलरी एवं मोबाईल व चैक बुक,आधार कार्ड,वोटर आईडी व अन्य सामान ले गये थे।