गन्ने के खेत में मिले 2000-500 के नोट की मची लूट, पुलिस ने ग्रामीणों से वसूले 1.15 लाख के नोट

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर जिले के हाटा कोतवाली थाना क्षेत्र के सिकटिया गांव के बाहर एक गन्ने के खेत में 2000-500 रुपये के नोट मिलने के बाद ग्रामीणों में लूट मच गई। ग्रामीण नोट बटोर कर ले गए। पुलिस को भनक लगी तो बुधवार को वह गांव पहुंच गई। उसने लोगों से अपील की और बटोरे नोट वापस वसूले। पुलिस के हाथ 1.15 लाख रुपये लगे हैं। ऐसा माना जा रहा है कि बीते दिनों एक कारोबारी के घर से चोरी गए 4.50 लाख रुपये वाले ही ये नोट हैं, जिसे चोरों ने खेत में छुपा दिया होगा। गन्ने के खेत में नोट मिलने का यह वाकया मंगलवार शाम सामने आया। पुलिस के अनुसार सिकटिया निवासी सीताराम के खेत में मजदूर गन्ना छील रहे थे। तभी खेत में एक फटे कपड़े की पोटली में मजदूरों को नोट दिखे। एक मजदूर ने पोटली खोली तो उसमें दो हजार और पांच सौ रुपये के नोट दिखे। इसके बाद नोट बटोरने की होड़ लग गई। दूसरे ग्रामीण भी वहां पहुंच गए। जिसके हाथ जितना लगा, उसने नोट रख लिए। रात में ही यह खबर कोतवाली पहुंच गई। पुलिस ने गांव में संदेश भेजा कि नोट हिफाजत से रख दिए जाएं, सुबह पुलिस वापस लेगी। बुधवार सुबह कोतवाली गांव पहुंचे और उन्होंने अपील कर गांव वालों से नोट वापस करने को कहा। ग्रामीणों ने भी ईमानदारी दिखाते हुए नोट पुलिस को सौंप दिए। करीब 1.15 लाख रुपये पुलिस साथ ले गई। अब पुलिस जांच कर रही है कि नोट असली हैं या नकली। अगर असली हैं तो कहां से आए। वैसे पुलिस का अनुमान है कि बीते 17 अगस्त को गांव के चौराहे पर किराने की दुकान चलाने वाले राकेश मिश्रा के घर में छत के रास्ते घुसे चोरों ने 4.50 लाख रुपये चुरा लिए थे। मुमकिन है कि ये नोट चोरी वाले ही हों।