आगरा: बर्थडे पर गरीबों को खाना खिलाने गया था युवक, नशे में धुत रइसजादों की कार से कुचलकर गई जान


आगरा ब्यूरो। आगरा के लोहामंडी थाना क्षेत्र में नशेबाज रईसजादों ने अपने जन्मदिन पर गरीबों को भोजन करा रहे एक्टिवा सवार एक युवक को जोरदार टक्कर मार दी। तीन दिन इलाज के बाद सोमवार को युवक की मौत हो गई। परिजनों ने रईसजादों को थाने से छोड़ देने का आरोप लगाकर पुलिस के खिलाफ नाराजगी जाहिर की। साथ ही युवक का शव थाने के बाहर रखकर हंगामा करने की धमकी भी दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घरवालों को समझा-बुझाकर युवक का अंतिम संस्‍कार करवाया। पुलिस का कहना है कि इस मामले में पहले ही एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। जांच चल रही है। जानकारी के मुताबिक, थाना एमएम गेट अंतर्गत मोती कटरा निवासी सर्राफा कारीगर सोनू अग्रवाल का तीन दिन पहले 30 अक्टूबर को जन्मदिन था। इस मौके पर वह रात में गरीबों को भोजन करवाने के लिए एमजी रोड स्थित आगरा कॉलेज के पास आया था। इसी दौरान उसे तेज रफ्तार एक कार ने उसे जोरदार टक्कर मार दी और खुद भी दीवार में जा लड़ी। कार में सवार चारों युवक शराब के नशे में धुत थे। उन्‍होंने इतनी शराब पी रखी थी कि हादसे के बाद गाड़ी से बाहर तक नहीं निकल पा रहे थे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सोनू को अस्‍पताल पहुंचाया।
घरवालों का आरोप- मामला दबा रही पुलिस
सोनू की मौत से गुस्‍साए घरवालों ने रविवार को पुलिस पर रइसजादों को छोड़ देने का आरोप लगाया। थाने के बाहर शव रखकर हंगामा करने की धमकी दी। सूचना मिलते ही थाना पुलिस पीएम पर पहुंच गई और अपनी देखरेख में अंतिम संस्कार करवा दिया। मामले में एसओ लोहामंडी उसी दिन मुकदमा दर्ज किए जाने की बात कह रहे हैं जबकि परिजनों के अनुसार, सिर्फ एनसीआर दर्ज कर मामले को रफा दफा करने का प्रयास किया गया। बताया जा रहा है कि आरोपी रईसजादे सूर्यनगर कालोनी के निवासी हैं और बड़े परिवारों से संबंध रखते हैं।