दिल्ली के आदर्श नगर इलाके में कारोबारी की हत्या, टुकड़े करके गोवा-दिल्ली रूट पर ट्रेन से फेंकी लाश

  • दिल्ली में एक कारोबारी का सनसनीखेज मर्डर
  • कारोबारी नीरज गुप्ता की चाकुओं से गोदकर कर दी गई हत्या और शव को ट्रेन से लगाया गया ठिकाने
  • पुलिस ने इस मामले में मृतक की प्रेमिका समेत तीन लोगों को किया है गिरफ्तार
नई दिल्ली ब्यूरो। राजधानी दिल्ली का एक बिजनसमैन एक लड़की से प्यार करता है। फिर कुछ ऐसा घटता है कि सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी। प्यार और धोखा की इस स्टोरी का एक खौफनाक अंत होता है। पहले लड़ाई होती है फिर चाकू से वार और फिर हत्या। यही नहीं, हत्या कर कारोबारी के शव को एक सूटकेस में राजधानी एक्सप्रेस में ले जाकर गोवा के रास्ते भरूच में फेंक दिया जाता है। 46 साल के कारोबारी नीरज गुप्ता की फैजल (29) नामक एक महिला से करीब 10 साल से नजदीकी रिश्ते थे। पहले से ही शादीशुदा नीरज फैजल से शादी नहीं करना चाहता था। इस बीच, फैजल की मोहम्मद जुबैर (28) नामक शख्स से सगाई हो गई। हालांकि, नीरज फैजल को इस सगाई से रोक रहा था।
दोस्त ने दर्ज करवाई गुमशुदगी की रिपोर्ट
उत्तरपश्चिम दिल्ली मॉडल टाउन का रहने वाले नीरज फैजल के घर गया और वहीं उसकी हत्या कर दी गई। नीरज के घर नहीं पहुंचने पर उसके एक दोस्त ने 14 नवंबर को उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई। जांच में नीरज की लोकेशन तो पता चली लेकिन उनका पता नहीं चल पाया।
नीरज की पत्नी ने फैजल पर लगाया आरोप
इस बीच, नीरज की पत्नी ने फैजल पर आरोप लगाते हुए उसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने बताया कि उनके पति का फैजल के साथ कई सालों से अफेयर था। जब पुलिस ने फैजल से सख्ती से पूछताछ की तो उसने अलग-अलग बयान दिए। लेकिन पुलिसिया सख्ती के बाद उसने सबकुछ सच-सच बता दिया। उसने कहा कि वह नीरज के करोल बाग कार्यालय में काम करती थी और उसका नीरज से 10 साल से अफेयर था।
10 साल से था रिश्ता, यूं खौफनाक अंजाम तक पहुंचा
फैजल नीरज के कार्यालय में काम करती थी। दोनों के बीच करीब 10 साल से रिश्ता था। लेकिन पहले से ही शादीशुदा नीरज फैजल से शादी नहीं करना चाहता था। इस बीच, फैजल ने परिवार के दबाव के बीच जुबैर से सगाई कर ली। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, 'जब फैजल ने नीरज को इसके बारे में बताया तो उसने फैजल के परिवार को जुबैर से शादी करने से रोका। घटना वाली रात 13 नवंबर को नीरज फैजल के आदर्श नगर स्थित किराए के मकान में पहुंचा। यहां पर नीरज और तीन आरोपियों के बीच गरमागरम बहस हुई।'
जुबैर ने चाकू से किया वार और काट दिया गला
अधिकारी ने बताया कि बहस के दौरान जुबैर ने नीरज के सिर पर लोहे के रॉड से हमला कर दिया। इसके बाद उनसे नीरज के पेट में तीन बार चाकुओं से हमला किया और बाद में उसका सिर काट दिया। इसके बाद तीनों ने नीरज के शव को ठिकाने लगाने का प्लान बनाया। उन्होंने नीरज के शव के टुकड़े कर उसे एक सूटकेस में भरा। फिर ऐप बेस्ड टैक्सी कर सूटकेस को लेकर निजमुद्दीन स्टेशन पहुंचा। रेलवे पैंट्री में काम करने वाला जुबैर गोवा जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस में चढ़ा और रास्ते में भरूच के निकट शव को फेंक दिया। उत्तरपश्चिम दिल्ली के डीसीपी विजयंत आर्य ने बताया कि सभी आरोपियों जुबैर, फैजल और उसकी मां शाहीन नाज (45) को गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्या में प्रयोग किए गए लोहे का रॉड और चाकू को भी बरामद कर लिया गया है। नीरज के शव को ढूंढने का प्रयास किया जा रहा है।