बुलन्दशहर में 15 साल से गायब है रेडियो सिंगर, पुलिस ने अब दर्ज की गुमशुदगी


बुलंदशहर। बुलन्दशहर में एक रेडियो सिंगर की गुमशुदगी की रिपोर्ट पूरे डेढ़ दशक से ज्यादा वक्त के बाद दर्ज की गई है। वह भी ऐसे वक्त में जब अदालत और ऑनलाइन FIR के विकल्प तक आम आदमी की पहुंच बताई जाती है। इस मामले पर परिवार और पुलिस के अपने-अपने दावे हैं। जानकारी के अनुसार, बुलंदशहर से 25 किलोमीटर दूर शिकारपुर तहसील के गांव तैयबपुर के रहने वाले राजेंद्र सिंह महाशय 15 बरस पहले घर से लोक गीत गाने के लिए निकले मगर आज तक घर नहीं लौटे। राजेंद्र सिंह महाशय के बड़े बेटे और उसकी पत्नी ने कई सालों तक पुलिस अधिकारियों से लेकर थाने की भागदौड़ की, बाद में वह पिता की गुमशुदगी दर्ज कराने की आस छोड़ चुके थे। करीब डेढ़ दशक बाद घर की बड़ी बहू ने फिर प्रयास किया तो रेडियो गायक रहे राजेंद्र सिंह की गुमशुदगी बुलंदशहर पुलिस ने दर्ज कर ली है। राजेंद्र सिंह महाशय का बड़ा बेटा सुंदर पाल गांव में टेंट का व्यवसाय करता है जबकि छोटा बेटा कृष्णपाल 2 साल पहले चल बसा। राजेंद्र सिंह महाशय दो दशक पहले जब घर से निकले तो लोकगीत गायक के तौर पर एक दशक से ज्यादा का उनका करियर था। एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि शिकारपुर थाने पर एक मुकदमा गुमशुदगी का रेडियो सिंगर जो 15 साल से गायब थे उनका दर्ज कराया है। शिकारपुर पुलिस इस मामले में जांच कर गुमशुदा व्यक्ति की तलाश में जुटी है। यह मामला अब इसलिए दर्ज कराया गया है कि उनका कुछ प्रॉपर्टी का लेन-दन मामला था ।इसलिए अब तहरीर प्राप्त हुई तो मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।