झारखंड के दुमका में आदिवासी महिला के साथ 17 लोगों ने किया गैंगरेप


दुमका। झारखंड के दुमका में एक महिला के साथ 17 युवकों के गैंगरेप की वारदात ने पूरे प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े कर दिए हैं। बेहद शर्मनाक और चौंकाने वाले इस मामले में आरोपियों ने महिला के पति को बंधक बनाकर पीड़िता के साथ बारी-बारी से सामूहिक दुष्कर्म किया। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। वहीं इस सनसनीखेज वारदात ने तीन साल पुराने घाव को ताजा कर दिया। सितंबर 2017 में इसी तरह से एक युवती के साथ 17 युवकों ने गैंगरेप किया था। उस समय भी युवती अपने ब्वॉयफ्रेंड के साथ घर वापस लौट रही थी। तीन साल पहले महिला से दरिंदगी का चौंकाने वाला मामला 6 सितंबर 2017 में उस समय सामने आया जब 19 वर्षीय युवती अपने एक पुरुष मित्र के साथ घूमने के लिए निकली थी। शाम में वो वापस लौट रही थी इसी दौरान दुमका के श्रीअमड़ा मोड़ के पास 17 युवकों ने उन्हें रोक लिया। पहले कुछ युवकों ने युवक-युवती से लूटपाट की कोशिश की। बाद में कुछ और युवकों के आने के बाद उन्होंने लड़की के फ्रेंड को बंधक बना लिया और पीड़िता से सामूहिक दुष्कर्म किया। इनमें चार आरोपियों की उम्र वारदात के समय 16 से 18 के बीच थी। इस वारदात ने पूरे झारखंड को झकझोर के रख दिया था। बाद में पुलिस ने पीड़िता के बयान पर 17 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया। वारदात के महज दो दिन के भीतर ही 16 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था। इनमें से 11 आरोपियों को बाद में कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। वहीं 20-20 हजार का जुर्माना भी लगाया गया। ये सभी अपनी सजा काट रहे हैं। बाकी बचे आरोपियों में चार का मामला चाइल्ड कोर्ट में और एक का मामला जेजेबी कोर्ट में चल रहा है।
दोनों मामलों में सामने आई कई समानताएं
तीन साल पहले हुई इस वारदात और दुमका के मुफस्सिल थाना इलाके में महिला से गैंगरेप के मामले में कई समानताएं देखने को मिली हैं। दोनों ही मामले में 17 आरोपियों ने जघन्य घटना को अंजाम दिया। 2017 में हुई घटना के दौरान भी युवती के पुरुष मित्र को बंधक बनाया गया था। वहीं मंगलवार की घटना में महिला के पति को बंधक बनाकर वारदात को अंजाम दिया गया। 2017 की वारदात में पीड़ित युवती के फ्रेंड ने तुरंत पुलिस में शिकायत दर्ज कराई जिसकी वजह से आरोपियों पर दो दिन में कार्रवाई की गई।
दुमका गैंगरेप मामले में बीजेपी का हेमंत सरकार पर निशाना
फिलहाल दुमका के मुफस्सिल में महिला से गैंगरेप के मामले में सियासी पारा चढ़ने लगा है। बीजेपी ने इस मुद्दे पर हेमंत सोरेन सरकार पर निशाना साधा है। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने सीएम हेमंत सोरेन की चुप्पीम पर सवाल खड़े किए हैं। वहीं बीजेपी की वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री लुईस मरांडी ने गैंगरेप की की घटना पर चिंता जताते हुए कहा कि राज्य में बलात्कार की घटना कम होने का नाम ही नहीं ले रही हैं। हेमंत सोरेन की सरकार बनने के बाद 1300 से भी अधिक दुष्कर्म की घटनाएं हुई हैं। कुल आंकड़ा देखा जाए तो प्रतिदिन 5 महिलाओं के साथ दुष्कर्म की घटना सामने आ रही है। इस बीच बीजेपी कार्यकर्ता महिला से हुई दरिंदगी के विरोध में एक दिन के धरने पर बैठ गए हैं। रांची के मोरहाबादी में बापू की प्रतिमा के सामने और दुमका में सिद्धो-कान्हू मुर्मू की प्रतिमा के सामने बीजेपी कार्यकर्ता धरने पर बैठे हैं।