मथुरा में आरएसएस दफ्तर पर हमला, 3 हिरासत में, 2 पुलिसकर्मी सस्पेंड


मथुरा। यूपी के मथुरा स्थित राष्ट्रीय स्वयंसेवक (आरएसएस) कार्यालय पर हुए हमले के आरोप में 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है। 2 पुलिसकर्मी भी निलंबित कर दिए गए हैं। बता दें कि मंगलवार देर शाम करीब 40 से 50 लोगों ने आरएसएस के दफ्तर पर हमला बोल दिया था। कार्यालय में तोड़फोड़ की गई। हमलावरों में महिलाएं भी शामिल थीं। एसपी सिटी उदय शंकर सिंह ने बताया कि इस मामले में थाना गोविंदनगर में मुकदमा दर्ज कर 3 लोगों को हिरासत में ले लिया है। दरअसल आरएसएस कार्यालय पर निर्माण कार्य चल रहा है। इस वजह से निर्माण सामग्री बाहर सड़क पर पड़ी हुई है। सोमवार को आजमपुर निवासी चांद बाबू वहां पड़ी निर्माण सामग्री में से कुछ सामान चुराने लगा जिस पर वहां मौजूद लोगों ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।
पुलिस ने कुछ देर बाद उक्त व्यक्ति को छोड़ दिया जिसके बाद वह मंगलवार शाम 40 से 50 लोगों के साथ दफ्तर आया जिसमें महिलाएं भी शामिल थीं और दफ्तर पर पथराव शुरू कर दिया। हमले में दो कार्यकर्ता मामूली रूप से घायल हो गए। संघ कार्यालय पर हमले की जानकारी मिलते ही आरएसएस और बीजेपी के पदाधिकारी मौके पर पहुंच गए और इसकी सूचना पुलिस को दी गई। सूचना मिलते ही हरकत में आई पुलिस मौके पर पहुंच गई और मामले की जानकारी करने में जुट गई। एसपी सिटी उदय शंकर सिंह ने बताया कि इस संबंध में थाना गोविंदनगर पर अभियोग पंजीकृत कर लिया गया है और 3 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। वहीं आरएसएस के विभाग प्रचारक डॉक्टर कमल कौशिक ने बताया कि सोमवार को 2-3 लड़के चोरी के उद्देश्य से आये थे जिनको पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। इसी घटना के विरोध में मंगलवार को 40 से 50 लोग आए जिनमें महिलाएं ने हमला कर दिया।