गाजियाबाद में डांसिंग कार पर पुलिस ने ठोका 41 हजार का जुर्माना


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(ग़ाज़ियाबाद)। उत्तर प्रदेश में अब गाड़ियों पर जातिसूचक शब्द लिखना या फर्राटा भरकर हुड़दंग करना जुर्म है। पकड़े जाने पर पुलिस चालान करने के अलावा गाड़ी सीज भी कर सकती है। इसी संबंध में गाजियाबाद पुलिस ने एक ऐसी कार को सीज किया है, जिस पर कोई जातिसूचक शब्द तो नहीं लिखा था लेकिन वह डांस करती है। कार का हुलिया देखकर कोई भी दंग रह सकता है। एयरपोर्ट रोड पर तेज आवाज में गाना बजाकर इस गाड़ी से हुड़दंग किया जा रहा था। पुलिस ने गाड़ी पर 41500 का जुर्माना लगाया है। दरअसल, परिवहन विभाग के सर्कुलर के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जिले में दो पहिया और चार पहिया वाहनों पर आपत्तिजनक स्टिकर, जातिसूचक शब्द लिखे मिलने पर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इसी को देखते हुए रविवार की शाम टीला मोड़ थाना पुलिस ने एक डांसिंग कार को पकड़ा। इस कार में पीछे बड़े-बड़े स्पीकर लगाए गए थे। जिनके बजने पर गाड़ी सड़क पर जंप कर रही थी। जंप के लिए बड़े-बड़े शॉकर लगवाए गए थे। थाना प्रभारी रण सिंह का कहना है कि इस गाड़ी की 15 से 20 हजार रुपए में बुकिंग होती है। जिसे लोग शादी-पार्टियों में लेकर जाते थे। वहां यह गाड़ी लोगों के बीच आकर्षण का केंद्र बनी रहती थी। ड्राइवर ने इस गाड़ी को पूरी तरह से मोडिफाइड किया हुआ है। इसके शीशे भी नीले आसमानी रंग के हैं। इसमें अंदर देखने पर भी लोगों की कोई पहचान नहीं होती थी। वहीं गाड़ी पर कई तरह के कलर के स्टिकर लगे हुए थे।