महिला से छेड़छाड़ के विरोध पर पत्रकार की हत्या केस में सीसीटीवी से नया खुलासा


जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक वीडियो पत्रकार की पीट-पीटकर हत्या करने के मामले में अब एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। इस वीडियो में बदमाश पत्रकार अभिषेक सोनी को एक ढाबे के बाहर सरियों से पीटते नजर आ रहे हैं। अब तक पुलिस को संदेह था कि बदमाशों ने लोहे की छड़ से वार कर जानलेवा हमला किया था। लेकिन इस फुटेज में यह स्प्ष्ट हो गया है। इस हमले में गंभीर रूप से घायल अभिषेक को बदमाश बीच सड़क पर ही छोड़कर फरार हो जाते हैं। यह वारदात 8 दिसबंर को रात करीब सवा ग्यारह बजे की है। इस घटना में गंभीर रूप से घायल पत्रकार की बुधवार को इलाज के दौरान मौत हो गई है। अब इस मामले में गहलोत सरकार पर प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर को लेकर सवाल उठ रहे हैं। बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने इस हत्याकांड पर कहा है कि गहलोत के राज में 2 वर्षों में प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त हो गई है, लोकतंत्र के प्रहरी और कोरोना योद्धा पत्रकार भी सुरक्षित नहीं है,जयपुर में बदमाशों के हमले में अभिषेक सोनी की मृत्यु और गिरधारी पालीवाल का घायल होना सरकार की संवेदनहीनता की पराकाष्ठा है। इस मामल में जयपुर पुलिस का कहना है कि वीडियो पत्रकार अभिषेक सोनी आठ दिसंबर की रात सड़क किनारे एक ढाबे पर रुके थे। पुलिस ने बताया कि ढाबे पर आरोपियों ने पत्रकार के साथ मौजूद उनकी महिला मित्र को तंग करना शुरू कर दिया और अभिषेक ने इसका विरोध किया जिसके बाद उनकी आरोपियों के साथ झड़प हो गयी। पुलिस ने बताया कि आरोपियों ने अभिषेक पर लोहे के सरिये से कथित तौर पर वार किया जिसमें वह बुरी तरह से घायल हो गया। इस घटना में युवती भी घायल हुई। मानसरोवर थाने के थानाधिकारी रामेश्वर लाल ने बताया कि दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था जहां युवती को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गयी। अधिकारी के अनुसार एक आरेापी शंकर चैाधरी को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि दो अन्य आरोपी कानाराम जाट और सुरेंद्र जाट फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।