डेढ़ साल पहले सगाई, लॉकडाउन में टला विवाह, देर होने पर घर से भागे दोनों, पुलिस ने थाने में कराई शादी


बड़वानी,(मध्य प्रदेश)। जिले के जुलवानिया थाने में गत दिवस अजीब नजारा सामने आया है। अमूमन थाने में आरोपी और फरियादी नजर आते हैं। किसी को पुलिस समझाइश दे रही होती है तो किसी की फरियाद सुनती है। लेकिन थाने में इस दिन यहां एक नव युगल विवाह बंधन में बंद कर पुलिस अफसर और परिजनों से आशीर्वाद ले रहा था। थाने में शादी का वीडियो अब सोशल मीडिया पर वायरल है। दोनों शादी में देरी की वजह से घर से भाग गए थे। दरअसल, ग्राम वासवी निवासी युवक-युवती की सगाई करीब डेढ़ वर्ष पूर्व हो गई थी, लेकिन कोविड-19 संक्रमण के चलते लगे लॉकडाउन के कारण शादी टल गई। शादी में देर होती देख गत दिनों युवक-युवती अपने घर से भाग गए थे। इसके बाद उन्हें ढूंढा गया और फिर थाने में ही उनकी शादी करा दी गई। जानकारी अनुसार शादी अप्रैल या मई में होनी थी लेकिन लॉकडाउन लग गया। अब लॉकडाउन खुला तो युवती के स्वजन ने आर्थिक परेशानी के चलते शादी अप्रैल-मई 2021 में करने की सोची थी। वहीं रणजीत और सपना इतने दिन इंतजार नहीं करना चाहते थे। इसी के चलते पिछले दिनों घर से किसी को बताए बगैर गायब हो गए। लड़के के घर से गायब होने के बाद परिवार में हड़कंप मच गया था। इस पर युवती के स्वजन ने रणजीत पर शक जाहिर करते हुए जुलवानिया थाने में शिकायत की थी। पुलिस ने दोनों को ढूंढ निकाला और थाने बुला लिया। जुलवानिया थाना प्रभारी सोनू शितोले ने रणजीत के मोबाइल नंबर पर कॉल किया। रणजीत ने थाना प्रभारी को पूरी बात बताई। इस पर थाना प्रभारी ने दोनों को थाने आने का कहा था। रणजीत और सपना जुलवानिया थाने पहुंचे। थाना प्रभारी ने दोनों के परिजन को भी बुलाया और उन्हें समझाइश दी। उसके बाद पुलिस ने बिना इंतजार किए थाने में ही दोनों की शादी करवाने का फैसला किया। इस पर सभी तैयार हो गए और थाना परिसर में रणजीत और सपना ने एक-दूसरे को वरमाला पहनाई। उसके बाद परिजन से आशीर्वाद लिया। यही पुलिस अफसरों ने भी नव युगल को सुखद जीवन का आशीर्वाद दिया। सोशल मीडिया पर शादी का यह वीडियो वायरल हो रहा है।