आलीशान बंगले से करोड़पति चोर गिरफ्तार, अय्याशी के लिए बेटे के साथ मिलकर करता था चोरी


राजकोट। पुलिस ने एक करोड़पति चोर को गिरफ्तार किया है। आनंद उर्फ जयंती सीतापारा के पास सबकुछ था लेकिन उसे एक आलीशान जीवन चाहिए थे। इसलिए वह चोर बन गया। उसके पास पॉश विला से लेकर मंहगी कारें तक हैं। करोड़पति चोर अपने बेटे के साथ मिलकर चोरी की वारदातों को अंजाम देता था। वे पाइप के सहारे चढ़कर घरों में दाखिल होते थे। सूरत के पलसाना रोड स्थित करोड़पति चोर के आलीशान बंगले से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। आनंद और हसमुख को उनके साथी पीयूष अमरेलिया के साथ गिरफ्तार किया गया है। दोनों ने रामकृष्णनगर में एक घर में चोरी की। यहां उन्होंने नगदी के साथ 9 लाख रुपये का कीमती सामान चोरी किया। उनके चेहरे सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गए और 20 दिन पहले उनकी पहचान कर ली गई। पुलिस ने आरोपी चोर के पास से 10.5 लाख रुपये के सोने के जेवर, 1.25 लाख रुपये नगद, 7,000 रुपये की घड़ियां और आनंद के बंगले से दो बाइकें जब्त की हैं। यह भी पता चला कि उस आदमी ने अपने बेटे के लिए एक कार बुक की थी जो जल्द ही डिलीवर होने वाली थी। अमरेलिया, आनंद को सूचित करने से पहले उस घर का निरीक्षण करता था जिसे उन्हें निशाना बनाना होता था। अगर वह घर आसानी से निशाने पर आ सकता था। आनंद और उसका बेटा फिर चोरी के लिए राजकोट पहुंचते थे। अमरेलिया चोरी के दौरान निगरानी करके उन्हें अलर्ट करता था। पुलिस को संदेह है कि इस गिरोह ने पिछले नौ महीनों में राजकोट के पॉश सोसाइटी में धर्मजीवन, अंबाजी कड़वा प्लॉट, जयराज प्लॉट, इंद्रप्रस्थनगर, प्रह्लाद प्लॉट में एक दर्जन से अधिक घरों को निशाना बनाया। क्राइम ब्रांच का पता लगाने के लिए इंस्पेक्टर वी के गढ़वी ने कहा कि अभी तक हमें केवल एक ही शिकायत मिली है, लेकिन अधिक पीड़ितों से उम्मीद की जा रही है कि वे आगे आएंगे और अपनी शिकायतें दर्ज करवाएंगे।