गाजियाबाद में दो जनवरी तक हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रेशर पर पाबंदी


प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए डीएम ने जिले में दो जनवरी तक हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रेशर के संचालन पर रोक लगा दी है। डीएम ने सभी विभागों को निर्देश जारी कर इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की तरफ से प्रदूषण फैलाने वालों पर नजर रखने और कार्रवाई के लिए टीमों की संख्या भी बढ़ाई जा रही है। प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी उत्सव शर्मा ने बताया कि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने एनसीआर में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान के तहत सभी हॉट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रेशर को दो जनवरी तक बंद रखने के निर्देश दिए है। इसके तहत यूपीपीसीबी की तरफ से गाजियाबाद, बागपत, मुजफ्फरनगर, हापुड़, गौतमबुद्धनगर, मेरठ, बुलंदशहर, शामली के डीएम को पत्र जारी किया गया है। गाजियाबाद के डीएम अजय शंकर पांडेय ने सभी विभागों को पत्र जारी कर यह निर्देश दिए है कि इलाके में हाट मिक्स प्लांट और स्टोन क्रेशर नहीं चलें, इसको सुनिश्चित किया जाए। जो भी प्लांट चलता मिले उस पर कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही प्रदूषण फैलाने वालों पर नजर रखने और कार्रवाई करने के लिए भी टीम बढ़ाई जा रही है। यह टीमें कंस्ट्रक्शन साइट व इंस्ट्रियल एरिया में औचक निरीक्षण करेंगी और 31 दिसंबर तक रिपोर्ट सीपीसीबी को भेजी जाएगी। उन्होंने बताया कि सीपीसीबी की बैठक में तीन नवंबर को टीला मोड़ इलाके में ऑक्सी होम सोसायटी के सामने लगी आग पर चिंता व्यक्त की गई। इसकी रिपोर्ट भी अधिकारियों से ली गई है।