कानपुर में पुराने प्रेमी को वश में करना चाहती थी! नरमुंड रखकर करती थी तंत्र साधना, तांत्रिक-महिला अरेस्ट


कानपुर ब्यूरो। कानपुर में एक सनसनी खेजमामला सामने आया है। एक महिला अपने पुराने प्रेमी को वश में करने के लिए नरमुंड रखकर तंत्र-मंत्र करती थी। महिला को जब तंत्र साधना से कुछ भी हासिल नहीं हुआ तो नाराज होकर कूड़े के ढेर में चारों नरमुंड फेंक दिए थे। नरमुंड मिलने से पूरे क्षेत्र में हड़कंप मच गया था। पुलिस ने तांत्रिक और महिला को अरेस्ट किया है। पनकी थाना क्षेत्र स्थित गंगागंज कांशीराम कॉलोनी में रहने वाली गीतादेवी तंत्र साधना करती है। गीता के पति की मौत दस साल पहले हो गई थी। वहीं दोनों बेटे गीता के साथ नहीं रहते हैं। पति की मौत के बाद गीता की दोस्ती नौबस्ता में रहने वाले एक युवक से हुई थी। लेकिन उस युवक ने बहुत ही जल्द गीता से दूरी बना ली थी। गीता उस युवक को किसी भी कीमत पर पाना चाहती थी। इसके लिए गीता ने तंत्र-मंत्र का रास्ता चुना था।
तांत्रिक ने मुहैया कराए थे नरमुंड
गीता बांदा जिले के रेउना में रहने वाले राम मनोहर तांत्रिक को पहले से जानती थी। उसने राम मनोहर से संपर्क किया। उस तांत्रिक ने गीता को भरोसा दिलाया कि तंत्र साधना में बहुत शक्ति है और पुराना प्रेमी अपनेआप वापस लौट आएगा। इसके लिए तांत्रिक ने तंत्र साधना करने के तरीके बताए थे। इस पूजा के लिए नरमुंड का होना जरूरी है। तांत्रिक ने गीता को 5 हजार रुपये में चार नरमुंड मुहैया कराए थे। इसके साथ ही पूजा कराने के 5 हजार रुपए भी वसूले थे।
तांत्रिक को कहां से मिले थे नरमुंड
तांत्रिक ने बताया कि बांदा जिले में केन नदी बहती है। नदी में मानव कंकाल मिले थे। उन कंकाल को मैं घर ले गया था। गीता को नरमुंड की जरूरत थी तो बेच दिया था। इसके साथ ही मैंने गांव में मानव अस्थियों को रखकर पूजा-पाठ करना शुरू कर दिया था। लोग मेरे पास अपनी समस्याओं को लेकर आते थे। ग्रामीण चढ़ावा भी चढ़ाते थे।
नरमुंड में लगे रंग ने महिला को पहुंचाया जेल
कांशीराम कॉलोनी के पास लगे कूड़े के ढेर में चार नरमुंड मिले थे। नरमुंड में लाल रंग और सिंदूर लगा हुआ था। स्थानीय लोगों ने पुलिस को बताया कि इस रंग और सिंदूर का इस्तेमाल गीता नाम की महिला करती है। पुलिस जब महिला के घर पहुंची तो कमरे के अंदर का नजारा देखकर हैरान रह गई। महिला से पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। एसपी वेस्ट अनिल कुमार ने बताया कि बीते सोमवार को पनकी में चार नरमुंड मिले थे। फरेंसिक टीम की जांच और पोस्टमॉर्टम में इसकी पुष्टि हुई थी कि सभी नरमुंड किसी वयस्क के थे। नरमुंड फेंकने वाली महिला और तांत्रिक को अरेस्ट किया गया है।