Posts

Showing posts from January, 2021

अलीगढ़ः नहर में मिला युवती का अर्द्धनग्न शव, शरीर पर जीव-जंतुओं के खाए जाने के निशान

Image
अलीगढ़। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक युवती का शव नहर से बरामद किया गया है। जानकारी के मुताबिक, इगलास के गांव भोपाल नगला में स्थित गंग नहर में 27 साल की एक युवती का शव पुल के नीचे पानी में रुका हुआ ग्रामीणों को दिखाई दिया था। इसके बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने युवती के अर्द्धनग्न शव को नहर से बाहर निकाला। शव की अभी शिनाख्त नहीं हो पाई है। उसे पोस्टमॉर्टम के लिए मॉर्चरी हाउस भेज दिया गया है। जानकारी के मुताबिक, इलाके की पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से शव की शिनाख्त कराने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हुए। नहर में मिली युवती के शव पर तमाम तरह के निशान बताए जा रहे है। मौके पर पहुंचे ग्राम प्रधान ने बताया कि युवती का शव बहता हुआ उनके गांव की नहर पर बने पुल के नीचे पानी में आ पहुंचा था। शव काफी पुराना लग रहा है। युवती के शव पर जीव-जंतुओं के खाने के निशान हैं। मौके पर पुलिस को बुलाया गया। क्षेत्राधिकारी मोहसिन खान ने बताया कि कोतवाली इगलास के गांव भोपाल नगला के पास नहर में शव मिला है। पुलिस कानूनी कार्रवाई कर रही है।

बदायूं में महिला से गैंगरेप, चार महीने बाद वीडियो वायरल हुआ तब पुलिस ने की कार्रवाई, छह आरोपी गिरफ्तार

Image
बदायूं। उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में दरिंदों ने एक दलित महिला के साथ गैंगरेप कर वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दी है। वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस ने महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मामला फैजगंज बेहटा थाना क्षेत्र के एक गांव है। यहां की रहने वाली एक दलित महिला के साथ गांव के ही कुछ लोगों में ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। दरिंदों ने पूरे घटनाक्रम का वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। पीड़ित महिला वीडियो वायरल होने से पहले ही शिकायत कर चुकी थी,लेकिन पुलिस ने महिला की नहीं सुनी। जिस पर दरिंदों ने वीडियो वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होने के बाद महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर घटना में शामिल सभी छह आरोपियों को गिरफ्तार कर कार्यवाई की है। दलित महिला के साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम देने वाले 2 आरोपी नाबालिग है। वीडियो में तीन युवक महिला के साथ दरिंदगी कर रहे हैं। जबकि एक आरोपी वीडियो बना रहा है। दलित महिला के साथ हुई दरिंदगी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है वह करीब चार महीने पुराना बताया जा रहा है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच पड़ता

गाजियाबाद के अपर जिला जज ने किया सुसाइड! घर में पंखे से लटका मिला शव

Image
गाजियाबाद में एडीजे योगेश कुमार का शव संदिग्ध हालात में मिला घर के पंखे से लटका मिला शव, पुलिस को खुदकुशी की आशंका मेरठ के रहने वाले एडीजे योगेश कुमार की 2020 में हुई थी तैनाती शव के पास से नहीं मिला कोई नोट, खुशमिजाज स्वभाव के थे जज प्रेम प्रकाश त्रिपाठी,(गाजियाबाद)। गाजियाबाद में अपर जिला जज योगेश कुमार का शव पंखे से लटका मिला है। पुलिस को आशंका है कि उन्होंने खुदकुशी की है। एडीजे और सत्र न्यायाधीश योगेश कुमार सिहानी गेट इलाके की ईस्ट मॉडल टाउन में स्थित जज रेजिडेंसी में रहते थे। योगेश कुमार एडीजे कोर्ट संख्या-9 गाजियाबाद तैनात थे। शुक्रवार सुबह उनका शव संदिग्ध हालात में पंखे से लटका मिला। घटना की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा है। 2020 में हुई थी पहली पोस्टिंग जानकारी के अनुसार योगेश कुमार मूल रूप से मेरठ के रहने वाले थे और उनकी पहली पोस्टिंग 2020 में हुई थी। फिलहाल गाजियाबाद के अपर जिला जज और सत्र न्यायाधीश कोर्ट संख्या 9 में वह तैनात थे। वह अपने परिवार के साथ थाना सिहानी गेट इलाके की ईस्ट मॉडल टाउन कॉलोनी स्थित जज

दिल्ली में इजरायली दूतावास के पास बड़ा धमाका, स्पेशल टीम मौके पर पहुंची

Image
नई दिल्‍ली ब्यूरो। दिल्‍ली से बड़ी खबर आ रही है। दिल्‍ली के इजराइल दूतावास के पास ब्‍लास्‍ट हुआ है। पुलिस के अनुसार यह ब्‍लास्‍ट फुटपाथ के पास हुआ है। इसमें कई कारों को नुकसान हुआ है। बता दें कि इजराइल दूतावास दिल्‍ली के लुटियंस जोन में है। औरंगजेब मार्ग पर स्‍थित इजराइल दूतावास के पास हुए ब्‍लास्‍ट की जिम्मेदारी फिलहाल किसी आतंकवादी ग्रुप ने नहीं ली है। हालांकि यह ब्‍लास्‍ट कैसे हुआ है दिल्‍ली पुलिस जांच कर रही है। सुरक्षा एजेंसियां भी दिल्‍ली में हुए ब्‍लास्‍ट के बाद अलर्ट हो गईं हैं। ब्‍लास्‍ट में 3 कारों को नुकसान हुआ है। यह ब्‍लास्‍ट दिल्‍ली में उस वक्‍त हुआ है जब यहां बीटिंग रिट्रीट का अयोजन हो रहा है। धमाका स्‍थल बीटिंग रिट्रीट से मात्र डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर हुआ था। इस ब्‍लास्‍ट में फिलहाल किसी शख्‍स के जख्‍मी होने की सूचना नहीं है। इजराइल दूतावास तुगलक रोड थाने से कुछ दूरी पर है। बता दें कि दूतावास के पास कई साल पहले भी चलती इनोवा कार के नीचे किसी बाइक सवार ने बम फेंक कर हमला किया था। पुलिस ने बताया कि यह धमाका इजराइल एंबेसी में नहीं हुआ है। उसके पास स्थित बंगला नंबर 5 में ब

जाली नोट बनाने वाले गिरोह को मुंबई क्राइम ब्रांच ने किया गिरफ्तार

Image
जमशिद वाच्छा,(मुंबई)। नोटबंदी के बाद नए नोटों को चलन में लाकर अर्थव्यवस्था को खतरे में डालने की कोशिश की जा रही है।क्राइम ब्रांच को उसके वरिष्ठों ने उन गिरोह की जांच करने के लिए निर्देशित किया था जो ऐसे नकली नोट बना रहे थे और उन्हें प्रचलन में ला रहे थे।क्राइम डिटेक्शन स्क्वॉड यूनिट 7 इस तरह से गिरोह का पीछा कर रही थी।मिली जानकारी के अनुसार यूनिट 7 के पुलिस इंस्पेक्टर मनीष श्रीधनकर और उनकी टीम ने 26/201/2021 को प्रवीण होटल ईस्ट एक्सप्रेसवे विक्रोली मुंबई में यह पता चला कि दो इसम भारतीय चलन के नकली नोट लेकरं आनेवाले है।दो इसम 12:30 बजे आकर पहुंचे, तो अपराध का पता लगाने वाली टीम ने दोनों को दबोच लिया और उन्हें हिरासत में ले लिया। उन्होंने दो लाख ऐंशी हजार रुपये के नकली नोट भी जब्त किए।गहन जांच करते हुए, उसके दो साथी अभी भी फरार हैं और आरोपी ने कहा कि वह वाडा जिला पालघर में अपने निवास पर नकली नोट छाप रहे थे।आरोपी के घर की तलाशी से भारतीय मुद्रा नोटों में 35,54,000 / - रु के साथ ही नकली नोट छापने की सभी सामग्री मिली। यूनिट 7 क्राइम ब्रांच की एक टीम जांच कर रही है।संयुक्त पुलिस आयुक्त मिलि

उस्मानाबाद में घर से जबरन लेकर जाकर नाबालिग के साथ गैंगरेप, शर्मसार हुआ महाराष्ट्र

Image
महाराष्ट्र के उस्मानाबाद में 14 साल की नाबालिग के साथ हुआ गैंगरेप पड़ोस में रहने वाले वहशी दरिंदों ने घर से उठाकर ले जाकर किया गैंगरेप पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को किया गिरफ्तार एक आरोपी की तलाश में पुलिस कर रही है छापेमारी उस्मानाबाद। महाराष्ट्र उस्मानाबाद में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। जहां एक 14 साल की नाबालिग लड़की के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया गया है। उस्मानाबाद में वहशी दरिंदों ने इस गैंगरेप को अंजाम दिया है। उस्मानाबाद की तुलजापुर तहसील के अन्दूर इलाके में हुई इस घटना ने पूरी इंसानियत को को शर्मसार कर दिया है। महाराष्ट्र में लगातार महिलाओं के साथ बढ़ रही आपराधिक घटनाओं और यौन हिंसा के मामलों को देखते हुए ऐसा लगता है कि अब कानून का खौफ इन अपराधियों और वहशी दरिंदों में नहीं रह गया है। पीड़िता को घर से उठाकर ले गए नाबालिग पीड़िता आरोपियों के घर के बगल में ही रहती थी। इन वहशी दरिंदों ने जबरदस्ती पीड़िता के घर में घुसकर उसे बंधक बनाया और उठा कर ले गए। जिसके बाद आरोपियों ने पीड़िता के साथ गैंग रेप किया। इस मन को झकझोर देने वाली घटना से पूरे इलाके में तनाव का

लोहे की सीढ़ी में फंसी गर्दन, कान कटने के डर से चिल्लाता रहा युवक

Image
जोधपुर। लोहे की सीढ़ी लेकर घर से निकले एक युवक को पता नहीं था कि यह लोहे की सीढ़ी कब उसके गले की फांस बन जाएगी और वह ऐसी मुसीबत में फंस जाएगा की जिससे निकलने के लिए उसे लोहे के चने चबाने पड़ेंगे। जी, हां। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक युवक का सिर एक लोहे की सीढ़ी में फंस गया है। यह देखने के लिये आसपास में लोगों का हुजूम उमड़ा पड़ा। और लोग उसके सिर को बाहर निकालने के लिए कई तरह की अटकलें लगाने लगे। कोई तेल लगा कर सिर को बाहर खींचने की बात कर रहा है तो कोई कोई उसके सिर को पकड़कर धक्का दे रहा है। इतने में ही युवक चिल्लाता है कि मेरे कान कट जाएंगे। इस भीड़ में कुछ लोग ऐसे भी है जो इस स्थिति का मजा लेकर खिलखिला कर हंसते नजर आ रहे हैं। इतने में एक समझदार व्यक्ति आकर बोलता है कि लोहार को बुलाकर इस सीढ़ी को कटवाना ही उपाय बचा है। इसके बाद लोहार आता है और लोहे की इस सीढ़ी को काटकर युवक का सिर बाहर निकाल देता है। और जैसे ही युवक का सिर बाहर आता है वह राहत की सांस लेता है और कहता है कि यह सिर में चली तो गई लेकिन वापस बाहर नहीं निकली। दरअसल, लोहे की भारी-भरकम सीढ़ी को उठाने के लिए

सरकार के पावर सेंटर में भ्रष्टाचार का खेलः विदेश में स्कॉलरशिप के लिए अफसर ने किसान से लिए 25 हजार, सतपुड़ा भवन के गेट पर लोकायुक्त ने पकड़ा

Image
रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा गया सहायक संचालक विदेश में स्कॉलरशिप बढ़ाने किसान से लिए थे 25 हजार रुपये लोकायुक्त पुलिस ने सतपुड़ा भवन में छापा मारकर किया गिरफ्तार पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण कार्यालय में सहायक संचालक हैं एचबी सिंह भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के सतपुड़ा भवन में लोकायुक्त ने छापा मारकर पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण कार्यालय में सहायक संचालक एचबी सिंह को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया। गुरुवार शाम को हुई इस कार्रवाई में भ्रष्ट अफसर रिश्वत के पैसे जेब में रखकर सतपुड़ा भवन से घर के लिए निकला था, जब लोकायुक्त की टीम ने उसे पकड़ लिया। सतपुड़ा भवन भोपाल के पॉश इलाके में स्थित है और इसके बगल में ही प्रदेश सरकार के मंत्रियों और शीर्ष अधिकारियों के दफ्तर हैं। लोकायुक्त पुलिस के मुताबिक सहायक संचालक एचबी सिंह ने ओवरसीज स्कॉलरशिल बढ़ाने के लिए किसान पिता से 25 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। गुरुवार शाम को पैसे अपनी पैंट की जेब में रखकर वह दफ्तर से घर के लिए निकला। तभी सतपुड़ा भवन के गेट पर लोकायुक्त की टीम ने उसे रोक लिया। कार से उतारकर अफसर की तलाशी ली तो उसकी जेब

दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर मचा बवाल, टर्मिनल 3 के गेट पर ही सबके सामने फौजी यात्री ने किया पेशाब

Image
एक फौजी ने टर्मिनल बिल्डिंग में सबके सामने खुले में टॉयलेट कर दिया उसने सीआईएसएफ अधिकारी को धक्का देकर गिरा दिया जिससे हंगामा बरप गया एयरपोर्ट अधिकारियों के मुताबिक, टी-3 पर यह अपनी तरह का पहला मामला सामने आया है नई दिल्ली ब्यूरो। आईजीआई एयरपोर्ट के टी-3 पर उस वक्त बवाल हो गया। जब एक फौजी ने सीआईएसएफ अधिकारी को धक्का देकर गिरा दिया और वहीं टर्मिनल बिल्डिंग में सबके सामने खुले में टॉयलेट कर दिया। फौजी की इस हरकत से सब सन्न रह गए। हालात काबू में करने के लिए सीआईएसएफ को कंट्रोल रूम में सूचना देनी पड़ी। बाद में मौके पर पहुंचे सीआईएसएफ के अतिरिक्त जवानों ने आरोपी फौजी को काबू में किया। बाद में आरोपी को दिल्ली पुलिस के हवाले कर दिया गया। अपने तरह का पहला मामला एयरपोर्ट अधिकारियों का कहना है कि टी-3 पर यह अपनी तरह का पहला मामला सामने आया है। जहां इस तरह से किसी यात्री ने सीआईएसएफ जवान के साथ मारपीट करते हुए सरेआम गेट के बाहर ही टॉयलेट कर दिया हो। एयरपोर्ट पुलिस के डीसीपी राजीव रंजन ने मामले की पुष्टि करते हुए बताया कि इस आरोप में यात्री एस कुमार को गिरफ्तार किया गया है। अंडमान-निकोबार का रहने

गाजीपुर बॉर्डर पर खत्म हो रहा था धरना पर टिकैत के आंसुओं ने बदला माहौल, रात में ही जुटने लगे किसान, पीछे हटी पुलिस

Image
गाजीपुर बॉर्डर पर हाईवोल्टेज ड्रामा, किसानों का जमावड़ा बढ़ने के बाद बैरंग लौटी पुलिस पुलिस ने प्रदर्शनकारी किसानों को आधी रात तक धरनास्थल खाली करने का दिया था अल्टीमेटम गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान राकेश टिकैत के आंसू छलकने के बाद तेजी से बदला माहौल टिकैत के भावुक होने के बाद रात को ही पश्चिमी यूपी के तमाम हिस्सों से गाजीपुर बॉर्डर के लिए रवाना हो गए किसानों के समूह परिपूर्ण न्यूज़ डेस्क। ट्रैक्टर परेड के दौरान दिल्ली खासकर ऐतिहासिक लाल किले पर हुई हिंसा के बाद किसानों का आंदोलन कमजोर पड़ा है। धरनास्थलों पर किसानों की भीड़ छंटने लगी है। हालांकि, गाजीपुर बॉर्डर पर स्थिति इसके उलट है। गाजियाबाद प्रशासन ने किसान नेताओं को आधी रात तक धरना खत्म करने का अल्टीमेटम दिया था। तमाम प्रदर्शनकारी किसान अपना बोरिया बिस्तर समेटने भी लगे थे लेकिन राकेश टिकैत के आंसुओं ने माहौल को जैसे एकदम से बदल दिया। देर रात पुलिस फोर्स को बैरंग वापस लौटना पड़ा। टिकैत के छलके आंसू और अचानक बदल गई फिजा गाजीपुर बॉर्डर को गुरुवार को एक तरह से छावनी में तब्दील कर दिया गया था। बड़ी तादाद में पुलिस और रैपिड ऐक्शन

पंजाब में पंचायत का फरमान:हर घर से एक सदस्य दिल्ली बॉर्डर पहुंचे, नहीं तो 1500 रुपए जुर्माना या सामाजिक बहिष्कार किया जाएगा

Image
पंजाब। पंजाब में बठिंडा जिले के गांव विर्क खुर्द की पंचायत ने आंदोलनकारी किसानों के समर्थन में एक अजीब फरमान सुनाया है। इसमें कहा गया है कि गांव के हर परिवार से एक सदस्य तुरंत दिल्ली बॉर्डर पहुंचे, नहीं तो उन पर 1500 रुपए का जुर्माना लगेगा। जुर्माना अदा नहीं करने पर सामाजिक बहिष्कार होगा। पंजाब की दूसरी पंचायतें भी ऐसा प्रस्ताव पास करने की तैयारी कर रही हैं। 26 जनवरी को दिल्ली में हुई हिंसा और इसके बाद सरकार के सख्त रुख को देखते हुए किसान घर लौटने लगे हैं। इससे आंदोलन कर रहे किसानों की चिंता बढ़ी है। ऐसे में अब पंचायतों ने मोर्चा संभाला है। गुरुद्वारों से यह अनाउंसमेंट करने को कहा गया है कि मोर्चा अभी भी लगा है, सब दिल्ली पहुंचे। किसी तरह की अफवाह पर भरोसा न करें। विर्क खुर्द पंचायत के फरमान में यह भी कहा गया है कि आंदोलन में जाने वाले सदस्य को वहां कम से कम सात दिन रहना होगा। आंदोलन में अगर किसी के वाहन को नुकसान होता है तो नुकसान की भरपाई की जिम्मेदारी पूरे गांव की होगी। भारतीय किसान यूनियन (दोआबा) लोगों तक सोशल मीडिया के जरिए पहुंच रही है। वह अपील कर रही है कि गांव के गुरुद्वारों से

राकेश टिकैत ने गाजीपुर बॉर्डर पर अनशन शुरू किया, रोते हुए बोले- कानून वापस लो नहीं तो खुदकुशी कर लूंगा

Image
गाजियाबाद ब्यूरो। दिल्ली में 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के दो दिन बाद प्रशासन ने किसानों से गाजीपुर बॉर्डर का इलाका खाली करने को कहा। पुलिस की चेतावनी के बाद धरने पर बैठे कई किसान वहां से चले गए। शाम होते-होते बड़ी तादाद में दिल्ली और यूपी की पुलिस गाजीपुर बॉर्डर पर पहुंच गई। ये देखकर, कुछ देर पहले धमकी देने वाले भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत के आंसू निकल आए। उन्होंने रोते हुए कहा, ‘किसानों पर अत्याचार किया जा रहा है। उन्हें मारने की साजिश हो रही है। अगर सरकार ने कानून वापस नहीं लिए तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। मैं इस देश के किसानों को बर्बाद नहीं होने दूंगा।’ टिकैत ने कहा, ‘इतनी बड़ी साजिश होगी, मुझे पता नहीं था। मैंने सब लोगों के खिलाफ जाकर बीजेपी को वोट दिया था। मेरी वाइफ ने किसी और को वोट दिया था, लेकिन मैंने बीजेपी को वोट दिया। उन्हें वोट देकर मैंने गद्दारी की थी। ये सरकार किसान बिरादरी को पूरे देश में बदनाम करने की कोशिश कर रही है।’ पल-पल पलटते रहे दोनों टिकैत भाई इधर, आंदोलन को लेकर भारतीय किसान यूनियन के दो बड़े नेताओं के बयान पलटने वाले रहे। गाजीपुर ब

सिंघु बॉर्डर अपडेट: अलीपुर एसएचओ पर तलवार से किया गया हमला, हिरासत में आरोपी

Image
राजीव गौड़,(दिल्ली ब्यूरो)। की सीमाओं पर कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन जारी है। सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शनकारी किसानों और खुद को स्थानीय निवासी बता रहे लोगों के बड़े समूह के बीच शुक्रवार को झड़पें हो गईं। भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। स्थानीय लोग मांग कर रहे थे कि किसान सिंघु सीमा पर प्रदर्शन स्थल को खाली करें क्योंकि उनके मुताबिक गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रीय ध्वज का अपमान किया। उधर, अधिकारियों ने बताया कि सिंघु बॉर्डर प्रदर्शन स्थल पर आंदोलनकारी किसानों और स्थानीय लोगों के बीच हुई झड़प के दौरान दिल्ली पुलिस के अलीपुर थाना प्रभारी पर तलवार से हमला किया गया है। जबकि एसएचओ नरेला पत्थर लगने घायल हो गए। पुलिस घायलों को अस्पताल लेकर गई है। वहीं, हमला करने वाले आरोपी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। जानकारी के अनुसार, स्थानीय प्रदर्शनकारी शुक्रवार सुबह से ही किसान आंदोलनकारियों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे थे। ये लोग हाईवे खाली करने की मांग कर रहे थे। इससे पहले गुरुवार को भी दिल्ली की सिंघु सीमा

पं. बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान से अलंकृत किए जाएंगे देवेन्द्र कुमार बहल

Image
नई दिल्ली। मासिक साहित्यिक पत्रिका ‘अभिनव इमरोज़’ (नई दिल्ली) के संपादक देवेन्द्र कुमार बहल को इस वर्ष का पंडित बृजलाल द्विवेदी स्मृति अखिल भारतीय साहित्यिक पत्रकारिता सम्मान दिया जाएगा। 7 फरवरी को ऑनलाइन आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में उन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। देवेन्द्र कुमार बहल हिंदी प्रेम और अपने गुरु स्वर्गीय डॉ. त्रिलोक तुलसी की प्रेरणा से 70 वर्ष की आयु में संपादन-प्रकाशन की दुनिया में खींचे चले आए। वर्ष 2012 से संकल्पसिद्ध शिक्षार्थी भाव से हिन्दी जगत् को ‘अभिनव इमरोज़’ एवं ‘साहित्य नंदिनी’ जैसे दो महत्वपूर्ण पत्रिकाएं देकर अपनी सेवा भाव का प्रत्यक्ष प्रमाण दे रहे हैं।  त्रैमासिक पत्रिका ‘मीडिया विमर्श’ के कार्यकारी संपादक प्रो संजय द्विवेदी ने बताया कि यह पुरस्कार प्रतिवर्ष हिंदी की साहित्यिक पत्रकारिता को सम्मानित करने के लिए दिया जाता है। इस अवॉर्ड का यह 13वां वर्ष है। ‘मीडिया विमर्श’ द्वारा शुरू किए गए इस अवॉर्ड के तहत ग्यारह हजार रुपए, शॉल, श्रीफल, प्रतीक चिन्ह और सम्मान पत्र दिया जाता है। पुरस्कार के निर्णायक मंडल में नवभारत टाइम्स, मुंबई के पूर्व संपा

बॉर्डर हो या वायरस की चुनौती, भारत हर समस्या से निपटने के लिए तैयार: पीएम नरेंद्र मोदी

Image
दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली के करिअप्पा परेड ग्राउंड में एनसीसी की रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह शामिल हुए। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह एनसीसी के द्वारा प्रदर्शित की गई कई पैरासेलिंग को देखा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीसी रैली में प्रदर्शित सांस्कृतिक कार्यक्रम को भी देखा। बाद में इस सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एनसीसी के बाद भी अनुशासन की भावना आपके साथ रहनी चाहिए। आप अपने आस-पास के लोगों को भी निरंतर इसके लिए प्रेरित करेंगे तो भारत का समाज और देश मज़बूत होगा। दुनिया के सबसे बड़े यूनिफॉर्म, यूथ और राशन के रूप में एनसीसी ने अपनी जो छवि बनाई है वो दिनों दिन और मज़बूत होती जा रही है। शौर्य और सेवा भाव भारतीय परंपरा को जहां बढ़ाया जा रहा है, वहां एनसीसी कैडेट नजर आता है। जहां संविधान के प्रति लोगों में जागरूकता पैदा करने का अभियान चल रहा है वहां भी एनसीसी कैडेट दिखते हैं। पर्यावरण, जल संरक्षण या स्वच्छता से जुड़ा कोई अभियान हो वहां एनसीसी के कैडेट जरूर नज़र आते हैं।  कोरोना के पूरे कालखंड म

बजट सत्र से पहले विपक्ष ने दिखाए सख्त तेवर, राष्ट्रपति के भाषण का करेंगे बहिष्कार

Image
दिल्ली ब्यूरो। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा है कि राष्ट्रपति के संसद की संयुक्त बैठक के संबोधन का 16 विपक्षी दल किसानों के मुद्दे को लेकर बहिष्कार करेंगे। विपक्षी दलों ने गणतंत्र दिवस के दिन हिंसा के मामले में केंद्र की भूमिका की जांच की मांग की। आजाद ने कहा कि इस फैसले के पीछे प्रमुख कारण यह है कि विधेयकों (फार्म कानून) को विपक्ष के बिना, सदन में जबरन पारित किया गया। आपको बता दें कि कांग्रेस सहित कई विपक्षी दल केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ है। उनकी मांग है कि सरकार तत्काल इन तीन कृषि कानूनों को निरस्त करें। गौरतलब है कि इन तीन कृषि कानूनों को लेकर किसान लगभग 60 दिनों से दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

दिल्‍ली हिंसा में घायल जवानों से मिले गृह मंत्री अमित शाह, जाना हालचाल

Image
दिल्ली ब्यूरो। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सुश्रुत ट्रॉमा सेंटर में 26 जनवरी को किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा में घायल हुए पुलिस कर्मियों से मुलाकात की। गृह मंत्री ने सुश्रुत ट्रामा सेंटर और तीरथ राम अस्पताल का दौरा किया। दोनों अस्पताल सिविल लाइंस में स्थित हैं। किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा की घटनाओं में करीब 400 पुलिसकर्मी घायल हो गए। किसान नवंबर से ही केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। पुलिस का कहना है कि ट्रैक्टर परेड में हिंसा में किसान नेताओं की भूमिका की जांच की जाएगी। हिंसा और तोड़-फोड़ में दिल्ली पुलिस के 394 कर्मी घायल हुए हैं। दिल्ली के पुलिस आयुक्त एस. एन. श्रीवास्तव ने बुधवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि किसान यूनियनों ने ट्रैक्टर परेड के लिए तय शर्तों का पालन नहीं किया। परेड दोपहर 12 बजे से शाम पांच बजे के बीच होनी थी और उसमें 5,000 टैक्टरों को शामिल होना था। 

किसान आंदोलन के खिलाफ उतरे गांव वाले, सिंघु बॉर्डर खाली करने को कहा

Image
दिल्ली ब्यूरो। दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसक वारदात के बाद लोगों में भी इलका रोष दिखाई दे रहा है। बीते दिनों दिल्ली-जयपुर पर बैठे किसानों को स्थानीय लोगों ने अल्टीमेटल दिया। अब सिंघु बॉर्डर पर भी किसानों को लेकर रोष दिखाई देने लगा है। खबरों के अनुसार सिंघु बॉर्डर पर गांव वालों ने नारेबाजी की है। इसके साथ ही गांव वालों ने हाइवे को खाली करते की मांग की है। लाल किले में झंडा फराने जाने कि वजह से गांव वालों में बेहद नाराजगी देखने को मिली है। गांव वालों का कहना है कि लाल किले पर जिस तरह से तिरंगे का अपमान हुआ है उसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। गौरतलब है कि दिल्ली में रिपब्लिक डे के दिन जगह-जगह हुई हिंसक वारदात और लाल किले पर निशान साहेब का झंडा फहराए जाने के बाद जगह-जगह लोगों में गुस्सा है। इससे पहले दिल्ली-जयपुर हाइवे पर मसानी बैराज के पास बैठे किसानों को स्थानीय लोगों के भारी विरोध के बाद वापस लौटना पड़ा था। दिल्ली में हुई घटना से स्थानीय लोगों में काफी गुस्सा था और ग्रामीणों ने पंचायत कर प्रदर्शनकारियों को अल्टीमेटम दिया था।

कानपुर में खबर दिखाने पर तीन पत्रकारों के खिलाफ एफआईआर, अब मान्यता जांच रहा सूचना विभाग

Image
कानपुर ब्यूरो। यूपी के कानपुर देहात जिले में बीते शनिवार यूपी स्थापना दिवस में बिना स्वेटर योग कर रहे बच्चों की खबर टीवी चैनल पर दिखाने के बाद तीन पत्रकारों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। अकबरपुर कोतवाली में बीएसए की तरफ से दर्ज रिपोर्ट में मोहित कश्यप, अमित सिंह और यासीन मलिक को धारा-505 और 506 का आरोपी बनाया गया है। डीएम ने दी सफाई डीएम दिनेश चंद्र के अनुसार, एफआईआर के बारे में बीएसए ही बता पाएंगे। उनसे इस बारे में पूछा जाएगा। पत्रकारों से कोई मतभेद नहीं हैं। वे आकर बात करें तो समस्या सुलझेगी। कार्यक्रम की नोडल अधिकारी सीडीओ सौम्या पांडेय थीं। काफी कोशिशों के बावजूद सीडीओ से बात नहीं हो सकी। ठंड में बिना स्वेटर बच्चों से कराया गया था योग कानपुर देहात में 24 जनवरी को ईको गार्डन में यूपी स्थापना दिवस मनाया गया था। इस दौरान कई छोटे बच्चों ने हाफ कपड़ों में यौगिक क्रियाएं की थीं। यह खबर टीवी चैनलों पर दिखाने के बाद बीएसए ने थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए तहरीर दी थी। मान्यता जांचने का दिया आदेश पत्रकारों पर मुकदमा दर्ज होने के बाद अब उनकी मान्यता जांचने का भी आदेश दिया गया है। डीएम

11 साल के बच्चे के पेट में था '375 ग्राम बालों का गुच्छा', डेढ़ घंटे तक चली सर्जरी

Image
मेरठ। मेरठ के विमल हॉस्पिटल में डॉक्टर की एक टीम ने 11 वर्षीय बच्चे के पेट से 375 ग्राम का बालों का गुच्छा निकाला। बच्चा बाल खाने का आदी था। डॉक्टर के अनुसार इस बीमारी को कहा जाता है। डेढ़ घंटे की सर्जरी में मेरठ के चार डॉक्टरों की टीम ने बच्चे की सर्जरी करके बालों का गुच्छा निकाला।बच्चा पूरी तरह से स्वस्थ है। बच्चे के पिता मजदूरी का काम करते हैं। मेरठ के रेलवे रोड स्थित विमल हॉस्पिटल में डॉक्टरों की एक टीम ने एक बड़ा कारनामा कर दिखाया। एक 11 वर्षीय बच्चे के पेट से पौने चार सौ ग्राम का बालों का गुच्छा ऑपरेशन करके निकाल दिया। बच्चे के पिता मजदूरी करते हैं। डॉक्टरों के अनुसार बच्चे की भूख खत्म हो गई थी। इसकी वजह से बच्चा कमजोर होता जा रहा था। शुरुआत में बच्चे की रोजाना होती हुई कमजोरी का कोई लक्षण नजर नहीं आ रहा था। माधवपुरम निवासी बच्चे के पिता इलाज कराते हुए परेशान हो गए थे। बच्चे के बारे में पता चला कि वह बाल खाने का आदी है। इसकी वजह से उसकी सेहत खराब होती जा रही थी। डॉक्टर पीयूष गोयल, डॉक्टर नवनीत गर्ग ने कुछ जरूरी चेकअप किए। इनके आधार पर बच्चे के पेट में बालों के गुच्छे होने का पता चल

पासपोर्ट और रेलवे टिकट की तरह अब तत्काल में ड्राइविंग लाइसेंस भी बनवा सकेंगे लोग, योगी सरकार का बड़ा प्लान

Image
योगी सरकार बना रही लोगों को जल्दी ड्राइविंग लाइसेंस दिलवाने की व्यवस्था का प्लान ड्राइविंग लाइसेंस के टाइम स्लॉट ना मिलने के कारण अक्सर होती है परेशानी परिवहन मंत्री ने कहा- जल्द ही प्रस्ताव बनाकर शुरू कराने जा रहे हैं काम पासपोर्ट और रेलवे टिकट की तर्ज पर अब लाइसेंस भी जल्दी देने की तैयारी गाजियाबाद ब्यूरो। प्रदेश में अब ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) के लिए लोगों को परेशान नहीं होना पड़ेगा, क्योंकि पासपोर्ट और रेलवे टिकट की तरह डीएल भी तत्काल में मिलेगा। इसके लिए जल्द ही प्रस्ताव बनाकर इस दिशा में काम शुरू किया जाएगा। बुधवार को डासना में वाहनों के पहले प्राइवेट फिटनेस सेंटर का लोकार्पण करने आए परिवहन मंत्री अशोक कटारिया ने ड्राइविंग लाइसेंस के टाइम स्लॉट लेने में लोगों को हो रही दिक्कत के सवाल पर यह जानकारी दी।उन्होंने कहा कि इसका विकल्प तत्काल सिस्टम हो सकता है। तत्काल सिस्टम के शुरू होने से जरूरतमंद लोगों को इससे राहत मिल जाएगी। अभी अधिकारी दो लोगों का ड्राइविंग लाइसेंस तत्काल श्रेणी में जाकर बनवा सकते हैं, लेकिन पब्लिक अभी तत्काल में बुकिंग नहीं कर सकती है, लेकिन सिस्टम में बदलाव करके

18 साल पाकिस्तान में जेल काटने के बाद हिंदुस्तान लौटीं 65 साल की हसीना बेगम

Image
18 साल से पाकिस्तान की जेल में बंद हसीना बेगम आखिरकार रिहा हो गई हैं। 18 साल बाद हसीना बेगम हिंदुस्तान वापस लौटी हैं 18 साल पहले वे पति के रिश्तेदारों से मिलने के लिए पाकिस्तान गईं थीं पासपोर्ट खो जाने की वजह से पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया था। औरंगाबाद। 65 साल की हसीना बेगम 18 साल पहले अपने रिश्तेदारों से मिलने के लिए पाकिस्तान गई थीं। वे भले ही अब वापस भारत लौट आई हैं, लेकिन पाकिस्तान में गुजारे 18 साल उनके लिए बिल्कुल भी अच्छे नहीं रहे। जब वो पाकिस्तान गईं थीं तब लाहौर में उनका पासपोर्ट खो गया था। जिसके बाद पाकिस्तानी पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। बिना किसी गुनाह के उन्हें जीवन के 18 साल जेल में गुजारने पड़े। इस बात की खबर मिलने के बाद औरंगाबाद पुलिस ने इस मामले में प्रयास करना शुरू किया। तमाम दस्तावेजों को भेजने और पत्र व्यवहार के बाद आखिरकार गणतंत्र दिवस पर हसीना बेगम की हिंदुस्तान वापसी हुई है। परिवार और पुलिस ने किया स्वागत हसीना बेगम के हिंदुस्तान लौटने के बाद उनके परिवार और औरंगाबाद पुलिस ने उनका स्वागत किया। उन्होंने बताया कि पाकिस्तान में वे बेहद खराब

कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी की जमानत याचिका खारिज, हिंदू देवी-देवताओं पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी

Image
कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी की जमानत याचिका खारिज 1 जनवरी से इंदौर की जेल में बंद है फारुकी फारुकी पर हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के हैं आरोप अपनी टिप्पणियों को लेकर पहले भी विवादों में रहा है फारुकी इंदौर। मध्य प्रदेश हाई कोर्ट ने हिंदू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में स्टैंड अप कॉमेडियन मुनव्वर फारुकी की जमानत याचिका खारिज कर दी है। गुरुवार को सुनवाई के दौरान अदालत ने कहा कि देश में सौहार्द्र और भाईचारा बनाए रखने की जिम्मेदारी हर नागरिक की है और इसमें कोई छूट नहीं दी जा सकती। फारुकी की जमानत याचिका पर 25 जनवरी को सुनवाई हुई थी, लेकिन अदालत ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। गुरुवार को कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए याचिका खारिज कर दी। 25 जनवरी को कोर्ट में हुई सुनवाई में एडवोकेट विवेक तन्खा ने मुनव्वर फारुकी का पक्ष रखा था। अपनी याचिका में फारुकी ने कहा था कि उसका किसी की धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाने का कोई इरादा नहीं था। वह सभी धर्मों का बहुत सम्मान करता है। उसने कहा था कि पुलिस की जांच और ट्रायल में काफी वक्त लगेगा। इसलिए उसे जमानत का लाभ दिया जाना चाहिए। वही

यूपी के मयखानों से ‘सरकारी’ व ‘ठेका’ शब्द हटे

Image
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की शराब, बीयर और भांग की दुकानों के साइनबोर्ड से ‘सरकारी’ और ‘ठेका’ शब्द हटा दिये गये हैं। यह कार्रवाई बुधवार को की गयी। आबकारी विभाग के अधिकारियों के अनुसार ‘ऊपर’ से आए आदेश के अनुपालन के क्रम में यह कार्रवाई की गयी है। अब इन मयखानों के साइन बोर्ड पर देसी मदिरालय या अंग्रेजी शराब की दुकान, बीयर शॉप आदि ही लिखा जाएगा।  बताते चलें कि चूंकि शराब, बीयर व भांग की दुकानों के लाइसेंस प्रदेश सरकार ही जारी करती है इसलिए अब तक इन दुकानों सरकारी लाइसेंसी शराब/बीयर की दुकान, सरकारी भांग का ठेका आदि शब्द लिखे जाते थे। मगर प्रदेश सरकार को यह शब्द रास नहीं आए इसलिए इन्हें हटाए जाने के आदेश दिये गये। घर में शराब या बीयर रखने के लिए लेना होगा लाइसेंस उत्तर प्रदेश में अब घर में बार का इंतजाम रखने वाले शौकीनों को आबकारी विभाग से लाइसेंस लेना होगा। उ.प्र.सरकार की वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए जारी नयी आबकारी नीति में यह प्रावधान किया गया है। इसके तहत व्यक्तिगत प्रयोग के लिए होम लाइसेंस लेना होगा। व्यक्तिगत प्रयोग के लिए निर्धारित फुटकर सीमा 16 लीटर  से अधिक शराब या बीयर अपने पास रखने के

लाल किले पर ग्रिल के नीचे दबी रेखा व रितु पर डंडे बरसा रहे थे उपद्रवी

Image
नई दिल्ली। हरियाणा के जींद जिले की रहने वाले ऋतु ने बताया कि‘हमारी ड्यूटी लाल किले पर थी। हमारे सामने ही ट्रैक्टर और घोड़े पर सवार बड़ी संख्या में उपद्रवी लाल किले में घुस आए। उनके हाथ में पत्थर और तलवारें थीं। भारी भीड़ को आते देख हम लोग जब तक खुद को संभाल पाते उपद्रवियों ने हमला कर दिया। जान बचाने के लिए हम भागे, लेकिन पैर फिसलने के कारण गिरे और लाल किले के किनारे रखा ग्रिल हमारे ऊपर गिर गया। हम ग्रिल के नीचे से निकलने की कोशिश कर रहे थे और चिल्ला रहे थे कि हमें बचा लो, लेकिन मदद करने के बजाय उपद्रवी हमारे ऊपर डंडे बरसा रहे थे।’ भर्राती आवाज में दहशत के उन लम्हों की दास्तां दिल्ली पुलिस की सिपाही ऋतु ने कुछ यूं बया की। ऋतु ने बताया कि वह और उनकी सहयोगी सिपाही रेखा को एक पल को तो ऐसा लगा कि आज जिंदा नहीं बच पाएंगे। मैं और रेखा करीब 15 मिनट तक ग्रिल के नीचे दबे रहे। कुछ देर में वहां पहुंचे सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें ग्रिल हटाकर वहां से निकाला, लेकिन जैसे ही कुछ आगे पहुंचीं उपद्रवियों के एक गिरोह ने उन्हें फिर घेर लिया। कुछ उपद्रवियों ने तलवार से हमला कर दिया।ऋतु ने बताया कि उन्हें हाथ,

गाजियाबाद में10 साल के बेटे ने मांगी अपने पिता से 10 करोड़ की रंगदारी, मोबाइल से खुला राज

Image
मोहनलाल गौड़,(गाजियाबाद ब्यूरो)। ईमेल आईडी हैक कर वसुंधरा निवासी सरकारी अफसर से 10 करोड़ की रंगदारी उन्हीं के 10 वर्षीय बेटे ने मांगी थी। सीओ प्रथम व साइबर सेल की टीम ने कई दिनों की माथापच्ची के बाद यह चौंकाने वाला खुलासा किया है। सीओ प्रथम अभय कुमार मिश्र ने बताया कि स्कूल में साइबर अपराध पर हुई कार्यशाला में बच्चे ने ईमेल हैक करना सीखा और उसे घर में ही इस्तेमाल कर दिया। कुख्यात गैंग की बजाय घर के ही बच्चे द्वारा रंगदारी मांगने की बात सामने आने पर अफसर के परिवार और पुलिस ने राहत की सांस ली है। वहीं, 12 साल से कम उम्र होने के कारण अफसर के बेटे पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। सीओ प्रथम ने बताया कि अफसर का बेटा पांचवीं कक्षा में पढ़ता है। करीब एक महीने पहले स्कूल में साइबर अपराध पर कार्यशाला हुई थी जिसमें साइबर अपराध के तरीके के साथ-साथ उसके बचाव के बारे में भी बताया गया। अफसर के बेटे ने उसे दिमाग में बैठा लिया और घर में ही उसे इस्तेमाल कर डाला। उसने फर्जी ईमेल आईडी बनाई और 24 दिसंबर से पिता की मेल आईडी पर ही रंगदारी के मैसेज भेजने लगा। बेटे ने अफसर से कभी 10 लाख की तो कभी 10 करोड़ की रंगद

दिल्ली नगर निगम की 5 सीटों पर 28 फरवरी को मतदान, 3 मार्च को आएगा रिजल्ट

Image
सुनील कुमार,(नई दिल्ली)। दिल्ली नगर निगम की पांच सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए 28 फरवरी को मतदान होगा। उत्तरी दिल्ली नगर निगम की दो और पूर्वी दिल्ली नगर निगम की तीन सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए बुधवार को आदेश जारी हो गया। इस संबंध में राज्य निर्वाचन आयुक्त एसके श्रीवास्तव व सचिव संदीप मिश्रा ने बताया कि उपचुनाव के लिए एक फरवरी को अधिसूचना जारी होगी। इन सभी सीटों पर उम्मीदवार आठ फरवरी तक नामांकन करा सकेंगे। 10 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी। 13 फरवरी नाम वापस लिया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि तीन मार्च को वोटों की गिनती होगी और उसी दिन परिणाम घोषित किए जाएंगे। इन सभी सीटों पर शांतिपूर्ण ढंग से चुनाव करवाने के लिए सारी व्यवस्था कर ली गई है। सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस व अन्य की मदद ली जा रही है। यहां 13 मार्च को चुनाव की सभी प्रक्रिया खत्म हो जाएगी। बॉक्स-1 इन वार्डो में होंगे उपचुनाव दिल्ली नगर निगम के उत्तरी दिल्ली नगर निगम की रोहिणी सी और शालीमार बाग नॉर्थ वार्ड व पूर्वी दिल्ली नगर निगम के त्रिलोकपुरी, कल्याणपुरी और चौहान बांगड़ वार्ड पर उपचुनाव होंगे। इनमें से शालीमा

किसान नेताओं ने वादा तोड़ा, हमारे पास हैं वीडियो, किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा : दिल्ली पुलिस आयुक्त

Image
सुनील कुमार,(दिल्ली ब्यूरो)। गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों ने जो ट्रैक्टर परेड निकाली उसमें दिल्ली के कई स्थानों पर हुई हिंसा में 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। लाल किले पर झंडा फहराने से लेकर नांगलोई, आईटीओ और अक्षरधाम जैसी जगहों पर हुए उपद्रव में काफी तोड़फोड़ और हिंसा हुई। उसी को लेकर दिल्ली पुलिस आयुक्त एस.एन. श्रीवास्तव प्रेस कॉन्फ्रेंस कर जानकारी दी।  दिल्ली पुलिस आयुक्त एस.एन. श्रीवास्तव ने बताया कि किसान नेताओं को कुछ शर्तों के साथ मार्च की मंजूरी दी थी। किसानों ने तय रूट की अनदेखी की और बैरिकेट्स तोड़कर दिल्ली के अंदर घुस गए। जबकि हमने किसान नेताओं से कहा था कि वो कुंडली, मानेसर, पलवल पर ट्रैक्टर मार्च निकाले। लेकिन किसान दिल्ली में ही ट्रैक्टर रैली निकालने पर अडिग रहे।  जब किसान नेताओं को रैली की इजाजत दी गई तो उन्हें यह भी लिखित में दिया गया था कि 5000 से अधिक ट्रैक्टर (रैली में) नहीं होने चाहिए और उनके पास कोई हथियार नहीं होना चाहिए। लेकिन  किसानों ने कल पुलिस के द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हुए पुलिस बैरिकेड तोड़कर हिंसक घटनाएं की। कुल मिलाकर 39

किसान आंदोलन के बीच सरकार ने दिया तोहफा, इस फसल के लिए बढ़ाई एमएसपी

Image
किसान आंदोलन के बीच मोदी सरकार ने किसानों को बड़ी सौगात दी है। मोदी कैबिनेट ने कोपरा निर्माण करने वाले किसानों को तोहफा देते हुए उसके न्यूतम समर्थन मूल्य में बढोतरी की है। केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जिसके बारे में जानकारी देते हुए कहा कि प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में आज कैबिनेट की बैठक हुई। बैठक में कोपरा निर्माण करने वाले किसानों के लिए एक महत्वपूर्ण फैसला लिया गया। आज  एमएसपी में बढ़ोतरी की गई। 375 रुपये से ज़्यादा बढ़कर 10,335 रुपये प्रति क्विंटल कर दिया गया है। इसकी लागत मूल्य 6805 है। प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बॉल कोपरा को 10,600 रुपये देने का फैसला हुआ है। इसमें 300 रुपए एमएसपी बढ़ाया गया है। इसका लागत मूल्य 6,805 और इसमें 55% वृद्धी हुई है। न्यूनतम समर्थन मूल्य को एमएसपी कहते हैं। जब सककार किसी फसल के लिए तय करती है तो देशभर की मंडी में किसानों से उस फसल की खरीदी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर की जाती है। एमएसपी तय होने के बाद किसानों को अपनी फसल की बिक्री के लिए परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है। 

चलती बाइक से दारोगा ने युवक को खींचा, ट्रक के नीचे आ गया पैर, हालत गंभीर

Image
रायबरेली। उत्तर प्रदेश पुलिस अपने रवैये में सुधार नहीं ला पा रही है। रायबरेली के बछरावां थाना क्षेत्र के बस स्टॉप के नजदीक चेकिंग के दौरान बाइक सवार युवकों ने भागने की कोशि की। इस दौरान चेकिंग कर रहे दारोगा राजीव सिंह चौहान ने पीछे बैठे युवक को पकड़कर खींच लिया। इस दौरान पीछे से आ रहा ट्रक युवक के पैर पर चढ़ गया। युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। युवक को प्राथमिक उपचार के लिए सीएचसी ले जाया गया, जहां से डॉक्टरों ने उसकी हालत को देखते हुए उसे लखनऊ रिफर कर दिया है। रायबरेली पुलिस का अमानवीय चेहरा उस वक्त देखने को मिला जब उन्नाव जिले के सीताराम खेड़ा निवासी बीनू अपने साथी के साथ अपने रिश्तेदार के यहां बछरांवा किसी काम से आए हुए थे। देर शाम वह अपने साथी के साथ अपने घर जा रहे थे तभी चौराहे पर वाहन चेकिंग कर रहे दारोगा राजीव सिंह चौहान ने बाइक पर पीछे बैठे युवक को पीछे की तरफ खींच लिया। तभी पीछे से आ रहे ट्रक के पहिये के नीचे युवक का पैर आ गया। इसकी वजह से युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। इस घटना के बाद देखते ही देखते लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई और लोगों ने हंगामा शुरू कर दिया। मौके पर तैनात पुलिस य

बीजेपी विधायक के बेटे ने पीटकर तालाब में फेंका! बवाल, स्टेट हाईवे जाम

Image
शाहजहांपुर। यूपी के शाहजहांपुर में बीजेपी विधायक के बेटे पर दबंगई का आरोप लगा है। देर रात तक दुकान खोलना बीजेपी विधायक के बेटे को नागवार गुजरा। इस दौरान विधायक का बेटा शराब के नशे में अपने साथियों के साथ दुकान पर पहुंचा और दुकानदार को जमकर पीटने लगा। इतना ही नहीं ग्रामीण को तालाब में भी फेंक दिया। घटना से गुस्साए लोगों ने स्टेट हाईवे पर प्रदर्शन किया। घटना के बाद पीड़ित थाने पहुंचा तो पुलिस ने कार्रवाई नहीं की। नाराज ग्रामीणों ने कार्रवाई की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन करते हुए स्टेट हाईवे जाम कर दिया। पुलिस ने कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवा दिया। घटना थाना सदर बाजार के चिनौर इलाके की है। यहां बीती रात शंकर नाम का शख्स अपनी दुकान पर बैठा था। स्थानीय बीजेपी विधायक का बेटा नीरज शराब के नशे में आया और दुकानदार को बेरहमी से पीटने लगा। आरोप है कि इसके बाद विधायक का दबंग बेटा दुकानदार को उठाकर ले गया और तालाब में फेंक दिया। पीड़ित का आरोप है कि उसने विधायक के बेटे के कई बार पैर छुए, लेकिन वह नहीं पसीजा। उसके बाद पीड़ित अन्य ग्रामीणों के साथ थाने पहुंचा, लेकिन मामला सत्ता पक्ष विधायक के

दस शादियां करने वाले निसंतान शख्स की हत्या मामले में चार गिरफ्तार, भाभी और भतीजे ने रची थी साजिश

Image
बरेली। उत्तर प्रदेश केबरेली में 10 शादियां करने वाले निसंतान व्यक्ति की हत्‍या के मामले में पुलिस खुलासा किया है। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी मृतक की भाभी, भतीजा और दो अन्य लोग हैं। बरेली के एसएसपी रोहित सिंह सजवान ने बताया कि जगन लाल यादव (50) की 20 जनवरी को हत्या कर दी गई थी। मामले में जगन लाल की भाभी मुन्नी देवी (48), भतीजा दर्शन सिंह (25), देव सिंह (30) और प्रह्लाद (27) को गिरफ्तार कर लिया गया है। एक आरोपी कालीचरण फरार है। दर्शन ने कराई थी एफआईआर पुलिस के अनुसार गिरफ्तार चार आरोपियों में मृतक की भाभी और भतीजा हत्या की साजिश में शामिल थे, जबकि देव सिंह और प्रह्लाद ने जगन लाल की हत्‍या की। उन्‍होंने बताया कि साजिश रचने वाले दर्शन सिंह ने ही अपने चाचा जगन लाल यादव की हत्या की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। दर्शन सिंह ने पुलिस को जानकारी दी थी कि उसके चाचा जगन ने 10 शादियां की थीं जिनकी पांच पत्नियों की पूर्व में मौत हो गई थी और तीन उन्हें छोड़ कर चली गई। जबकि, दो पत्नियां उनके (जगन लाल के) साथ रह रही थी।थाना प्रभारी भोजीपुरा इंस्पेक्टर मनोज त्यागी के मुताबिक

लव जिहाद: पहले प्यार,फिर शादी,अब देहव्यापार के लिए बना रहा दवाब, शिकायत लेकर थाने पहुंची पीड़िता

Image
वाराणसी। यूपी के वाराणसी में लव जिहाद का नया मामला सामने आया है। वाराणसी के अशोक विहार कॉलोनी के रहने वाले मुस्लिम युवक ने हिन्दू बनकर शहर की ही युवती से शादी कर ली। शादी के बाद मुस्लिम युवक ने युवती पर देहव्यापार करने का दबाव बनाना शुरू कर दिया। युवक के टॉर्चर के बाद पीड़ित युवती ने इसकी शिकायत वाराणसी पुलिस से की है। जानकारी के मुताबिक वाराणसी के सिगरा इलाके की रहने वाली युवती को कुछ साल पहले सारनाथ थानाक्षेत्र के अशोक बिहारी कॉलोनी के रहने वाले युवक स प्यार हुआ था। प्यार परवान चढ़ा तो नजदीकियां भी बढ़ी फिर दोनों की शादी हो गई। इसके बाद पता चला कि युवक हिन्दू नही बल्कि मुस्लिम है। शादी के एक साल बाद ही युवती को बेटी हुई। इसके बाद मुस्लिम युवक जाफर ने अपनी पत्नी पर दोस्तों के साथ शारीरिक संबंध बनाने के साथ ही देहव्यापार करने के लिए दबाव बनाने लगा। युवती जब इन चीजों के लिए नही तैयार हुई तो युवक ने पहले उसके साथ मारपीट शुरू कर दी। इसके साथ ही उसके प्राइवेट वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी देना शुरू कर दिया। युवक के टॉर्चर के बाद पीड़ित युवती ने इस पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की

प्रेमिका थी किसी भी एक प्रेमी से शादी के लिए तैयार! दोनों का इनकार, दोनों गिरफ्तार

Image
मेरठ। यूपी के मेरठ जनपद में 'लव ट्रायंगल' का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। टीपी नगर के रहने वाले एक युवक ने कुछ साल पहले अपने पड़ोस में रहने वाली युवती को अपने प्रेम जाल में फंसा लिया। सालों तक युवती के साथ संबंध बनाने के बाद प्रेमी अपनी मजबूरियों का हवाला देकर शादी के वादे से मुकर गया। इसके बाद अपनी प्रेमिका की दोस्ती अपने एक दोस्त से करा दी। दूसरा युवक भी महीनों तक शादी का झांसा देकर युवती की अस्मत के साथ खिलवाड़ करता रहा। लेकिन अब दोनों युवक शादी की बात से मुकर गए। थाने में दोनों पक्षों के बीच समझौते की वार्ता चलती रही। युवती किसी भी एक प्रेमी से शादी के लिए तैयार थी। मगर दोनों युवक शादी न करने की बात पर अड़े रहे। जिसके बाद पुलिस ने दोनों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया है। दरअसल रोहटा रोड निवासी दीपक नाम के युवक का अपनी पड़ोस में रहने वाली एक युवती के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। शादी का झांसा देकर दीपक कई सालों तक युवती के साथ संबंध बनाता रहा। मगर कुछ महीनों पहले अचानक दीपक ने अपने परिवार के विरोध का हवाला देते हुए युवती से शादी करने से इनकार

अभिनेता दीप सिद्धू ने कहा- तिरंगे को नहीं हटाया, वह एक प्रतीकात्मक प्रदर्शन’ था

Image
चंडीगढ़। गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर परेड के दौरान लालकिले पर प्रदर्शनकारियों द्वारा धार्मिक झंडा फहराये जाने की घटना के दौरान मौजूद रहे अभिनेता दीप सिद्धू ने मंगलवार को प्रदर्शनकारियों के कृत्य का यह कह कर बचाव किया कि उन लोगों ने राष्ट्रीय ध्वज नहीं हटाया और केवल एक प्रतीकात्मक विरोध के तौर पर ‘निशान साहिब’ को लगाया था। ‘निशान साहिब’ सिख धर्म का प्रतीक है और इस झंडे को सभी गुरुद्वारा परिसरों में लगाया जाता है। सिद्धू ने फेसबुक पर पोस्ट किये गए एक वीडियो में दावा किया कि वह कोई योजनाबद्ध कदम नहीं था और उन्हें कोई साम्प्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए जैसा कट्टरपंथियों द्वारा किया जा रहा है। सिद्धू ने कहा, ‘‘नये कृषि कानूनों के खिलाफ प्रतीकात्मक विरोध दर्ज कराने के लिए, हमने ‘निशान साहिब’ और किसान झंडा लगाया और साथ ही किसान मजदूर एकता का नारा भी लगाया।’’ उन्होंने निशान साहिब की ओर इशारा करते हुए कहा कि झंडा देश की ‘‘विविधता में एकता’’ का प्रतिनिधित्व करता है। निशान साहिब सिख धर्म का एक प्रतीक है जो सभी गुरुद्वारा परिसरों में लगा देखा जाता है। उन्होंने कहा कि लालकिले पर ध्वज-स्तंभ

अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने अपनी पहली नौकरी का किया खुलासा

Image
वाशिंगटन। अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने कहा कि उनकी पहली नौकरी मां की प्रयोगशाला में इस्तेमाल होने वाली कांच के पिपेट साफ करने की थी। उन्होंने यह बात राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (एनआईएच)के बेथसेडा स्थित मुख्यालय में कोविड-19 टीके की दूसरी खुराक लेने के मौके पर कही। हैरिस की मां श्यामला गोपालन हैरिस मूल रूप से चेन्नई की थीं और पेशे से स्तन कैंसर अनुसंधानकर्ता थीं जिनकी मौत वर्ष 2009 में कैंसर से हो गई। हैरिस के पिता जमैकाई मूल केहैं और पेशे से अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं। वाशिंगटन। अमेरिका की उप राष्ट्रपति कमला हैरिस ने कहा कि उनकी पहली नौकरी मां की प्रयोगशाला में इस्तेमाल होने वाली कांच के पिपेट साफ करने की थी। उन्होंने यह बात राष्ट्रीय स्वास्थ्य संस्थान (एनआईएच)के बेथसेडा स्थित मुख्यालय में कोविड-19 टीके की दूसरी खुराक लेने के मौके पर कही। हैरिस की मां श्यामला गोपालन हैरिस मूल रूप से चेन्नई की थीं और पेशे से स्तन कैंसर अनुसंधानकर्ता थीं जिनकी मौत वर्ष 2009 में कैंसर से हो गई। हैरिस के पिता जमैकाई मूल केहैं और पेशे से अर्थशास्त्र के प्रोफेसर हैं।

जेल से रिहा हुई वीके शशिकला, भ्रष्टाचार मामले में 4 साल से थीं बंद

Image
बेंगलुरु। एआईएडीएमके से निष्कासित नेता वी के शशिकला को बुधवार को अधिकारियों ने औपचारिकताएं पूरी करने के बाद जेल से रिहा कर दिया। शशिकला कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद विक्टोरिया अस्पताल में भर्ती हैं और उनकी रिहाई की प्रक्रिया अस्पताल से पूरी की गई। एक सप्ताह पहले उनमें संक्रमण की पुष्टि हुई थी। तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता की करीबी मित्र शशिकला आय से अधिक 66 करोड़ रुपए की संपत्ति मामले में फरवरी 2017 से यहां पारापन्ना अग्रहारा के केन्द्रीय कारागार में बंद थीं। अस्पताल के बाहर शशिकला के समर्थकों की भीड़ थी और वह अपनी नेता के पक्ष में नारे लगा रहे थे। समर्थकों ने इस दौरान मिठाइयां भी बांटी।

मुंबई में 29 जनवरी से बहाल होंगी 204 लोकल ट्रेनें, कोरोना वायरस के कारण हुई थी बंद

Image
मुंबई। मुंबई उपनगरीय क्षेत्र में शुक्रवार से 204 विशेष लोकल ट्रेनें चलाई जाएंगी। रेलवे अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मध्य रेलवे और पश्चिमी रेलवे की ओर से मंगलवार को जारी संयुक्त बयान में कहा गया कि अतिरिक्त ट्रेनें चलाने के साथ ही उपनगरीय नेटवर्क पर चालू सेवाओं की कुल संख्या बढ़कर 2,985 हो जाएगी। वर्तमान में ये सेवाएं यात्रियों के चुनिंदा वर्ग के लिए ही उपलब्ध हैं। रेलवे अधिकारियों ने कहा कि 204 अतिरिक्त सेवाएं शुरू होने के साथ कुल लोकल ट्रेन सेवाओं की लगभग 95 प्रतिशत सेवाएं बहाल हो जाएंगी जो कोविड-19 महामारी से पहले मध्य रेलवे और पश्चिमी रेलवे द्वारा संयुक्त रूप से संचालित की जा रही थीं। लोकल ट्रेन सेवाओं की संख्या बढ़ाने से पहले सोमवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि सभी यात्रियों को उपनगरीय ट्रेन में यात्रा करने की अनुमति देने पर निर्णय जल्दी ही किया जाएगा। वर्तमान में कोविड-19 महामारी को देखते हुए, केवल कुछ श्रेणी के यात्रियों को ही मुंबई क्षेत्र में लोकल ट्रेन से यात्रा करने की अनुमति है जिसमें महिलाएं और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोग शामिल हैं। मध्य रेलवे और पश्चिमी रेलवे ने एक

सनी देओल का दीप सिद्धू पर ट्वीट, कहा- अभिनेता से मेरा कोई संबंध नहीं

Image
चंडीगढ़। भाजपा सांसद सनी देओल ने स्पष्ट किया है कि उनका या उनके परिवार का अभिनेता दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है। सिद्धू दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किले पर पहुंचे प्रदर्शनकारियों में शामिल थे। देओल ने कहा कि उन्होंने पहले भी स्पष्ट किया है कि उनका सिद्धू के साथ कोई संबंध नहीं है। देओल ने मंगलवार रात किए ट्वीट में कहा, “ मैंने छह दिसंबर को ट्विटर के जरिए पहले ही स्पष्ट किया था कि मेरा या मेरे परिवार का दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है। “ देओल ने यह भी कहा कि 26 जनवरी को लाल किले पर हुई घटनाओं से वह काफी दुखी हैं। गौरतलब है कि मंगलवार को दिल्ली में किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान हिंसा हो गई थी। हजारों प्रदर्शनकारियों ने बैरिकेड तोड़ दिए थे, वे पुलिस से भिड़ गए थे, गाड़ियों को पलट दिया था और लाल किले पर धार्मिक झंडा लगा दिया था। पंजाबी फिल्मों के अभिनेता सिद्धू लाल किला पहुंचे प्रदर्शनकारियों में शामिल थे जहां धार्मिक झंडा लगाया गया था।  देओल ने 2019 का लोकसभा चुनाव जब गुरदासपुर सीट सेलड़ा था तब सिद्धू उनके सहयोगी थे। भाजपा सांसद देओल ने पिछले साल दिसंबर में सिद्ध

सात साल से थाने में जब्त पड़ी थी ढाई करोड़ की शराब, यूं कराई गई नष्ट

Image
मेरठ। मेरठ के थाना परतापुर में पिछले 7 सालों तक की ज़ब्त शराब को थाना पुलिस ने नष्ट कर दिया। इसकी कीमत लगभग ढाई करोड़ से ज्यादा बताई जा रही है। ये शराब का भंडार थाने के 5 कमरों में पिछले 7 सालों से ज़ब्त हुआ पड़ा था। इसके निस्तारण के लिए थाना पुलिस ने कई बार कोशिश की, लेकिन हर बार निराशा हाथ लगने के बाद अंत में सीजेएम की अदालत में शराब को नष्ट करने के आदेश दिए, जिसके बाद थाना पुलिस ने शराब की 8 हज़ार पेटियों को नष्ट कर दिया। मेरठ के थाना परतापुर क्षेत्र में 2013 से लेकर 2020 तक कि लगभग 7 सालों से ज़ब्त अवैध शराब कि लगभग 8 हज़ार पेटियां जिसमें लगभग 2.67 करोड़ रुपए की शराब बताई जा रही थी, उसको नष्ट कर दिया गया है। इस शराब के ज़खीरे को स्टोर करने में थाने का बहुत बड़ा हिस्सा इस्तेमाल में आता था, जिससे थाने की कार्यवाही भी बाधित होती थी। लगभग थाने के 5 कमरों में इस भंडार को जमा किया गया था। इसको नष्ट करने के लिए परतापुर थाना पुलिस कई बार प्रसाशन से अर्ज़ी लगा चुकी थी लेकिन अब जाकर मेरठ सीजीएम की अदालत ने शनिवार को शराब के जखीरे को नष्ट करने के आदेश दिए। इसके बाद रविवार को थाना पुलिस शराब के तमाम

किसान आंदोलन में पड़ी दरार, वीएम सिंह हुए अलग, भानु गुट का भी चिल्ला बॉर्डर से हटने का एलान

Image
दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गणतंत्र दिवस पर शांतिपूर्ण ट्रैक्टर रैली के दौरान हुए बवाल के बाद दिल्ली में कड़ी सुरक्षा है। किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान हुई हिंसा के संबंध में दिल्ली पुलिस ने अब तक 22 प्राथमिकी दर्ज की हैं। इनमें से ईस्टर्न रेंज में 5 एफआईआर दर्ज की गई हैं, आज भी दिल्ली में कई रास्ते बंद हैं। किसान संगठन आज प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे। वहीं किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि बड़ी तादाद में किसान संसद मार्च नहीं करेंगे। चुनिंदा प्रतिनिधि अपनी मांगों का ज्ञापन लेकर पैदल मार्च करते हुए संसद तक जाएंगे। भारतीय किसान यूनियन का भानु गुट भी किसान आंदोलन से अलग हो गया है। संगठन के मुखिया भानु प्रताप सिंह ने कहा कि जो आरोपी हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो। उन्होंने चिल्ला बॉर्डर से धरना खत्म करने का एलान किया है। हालांकि भाकियू के भानु गुट को संयुक्त किसान मोर्चा ने पहले ही अपने आंदोलन से अलग कर दिया था क्योंकि इसने शुरुआत में ही सरकार के मंत्रियों से मिलने के बाद आंदोलन खत्म करने की बात कही थी। हालांकि आम किसानों की भावनाओं को देखते हुए संयुक्त किसान