कुत्ता-कुतिया की शादी, यूपी से एमपी आई बारात, 1 हजार लोगों ने उड़ाई शानदार दावत


  • एमपी के निवाड़ी जिले में हुई है कुत्ता-कुतिया की शादी
  • पानी के लिए ग्रामीणों ने दोनों मूक की कराई शादी
  • कुत्ता यूपी का तो कुतिया एमपी की रहने वाली है, बैंड-बाजे के साथ आई थी बारात
  • शादी में 1 हजार लोगों को दिया गया था भोज, वीडियो वायरल
निवाड़ी। अभी तक आप लोगों ने भगवान इंद्र देव को मनाने के लिए तरह-तरह के जतन देखे होंगे। लेकिन आज हम इंद्रदेव को प्रसन्न करने के लिए किए गए ऐसे अनोखे प्रयास के बारे में बताएंगे जो अब तक का सबसे अनोखा प्रयास माना गया है। लोगों ने दो मूक जानवरों की शादी करवाई है, जिसमें हिंदू रीति रिवाज से एक कुत्ता और कुतिया की शादी कराई गई है। दरअसल, निवाड़ी जिले के ग्राम पुछीकरगुआ निवासी मूलचंद नायक ने अपनी रश्मि नाम की कुतिया की शादी उत्तर प्रदेश के बकवा खुर्द निवासी अशोक यादव के गोलू नाम के कुत्ता से कराई है। शादी में एक हजार लोगों को भोज कराया गया है। इसी के साथ देर रात धूमधाम से बैंड बाजे एवं आतिशबाजी करते हुए बारात भी निकाली गई। ये बारात यूपी के बकबाखुर्द से मध्य प्रदेश के गांव पूछी करगुआ पहुंची, जहां हिंदू रीति-रिवाज अनुसार जयमाला कार्यक्रम करवाया गया। इसके पश्चात् बारातियों का स्वागत किया गया। भोजन कराया गया। इसके बाद नम आंखों से कुतिया रश्मि की विदाई की गई। इस इलाके में पानी की किल्लत रहती है। पेयजल समस्या के चलते लोगों ने मन बनाया कि भगवान इंद्र देव को प्रसन्न करने के लिए अगर दो मूक जानवरों की शादी करवा दी जाए तो शायद भगवान प्रसन्न हो जाएं और वर्षा करें, जिससे गांव में पेयजल की समस्या से निजात मिले। कुत्ता मालिक अशोक यादव ने बताया कि ग्राम में पेयजल समस्या विकराल बनी हुई है, जिससे लोगों की सहमति एवं यूपी एमपी के बॉर्डर पर खेत पास होने के चलते दोनों की सहमति हो जाने से शादी रचाई गई। साथ ही भगवान से प्रार्थना की गई कि ग्राम में खुशहाली हो और ग्राम में पेयजल समस्या से छुटकारा मिल सके।